CM Bhent Mulakat : सीएम बघेल ने रायगढ़ को दिया 403 करोड़ का सौगात, पत्रकारों को आवास दिलाने कलेक्टर को भू-खण्ड सस्ते दर पर उपलब्ध कराने के निर्देश…

 

Bhent-Mulakat

 

रायगढ़। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज रायगढ़ में 403 करोड़ रूपये के विभिन्न विकास कार्यों का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आज रायगढ़ में 403 करोड़ रूपये के विभिन्न विकास कार्यों का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया।

उसके बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल विभिन्न योजनाओं की समीक्षा की और कहा कि स्वास्थ्य केंद्रों में डॉक्टर के सभी रिक्त पदों पर भर्ती करें,

सुनिश्चित करें कि फ्लाई एश का नदियों में प्रदूषण ना होने पाए

हाथी प्रभावित क्षेत्रों में नरवा का काम तेजी से करें

पानी की सुविधा होने से हाथी बाहर नहीं जाएंगे

वाटर रिचार्जिंग के लिए तेजी से कार्य करें।

 

READ MORE :Actress Mahalaxmi married with producer : महालक्ष्मी ने इस फिल्म प्रोड्यूसर संग रचाई शादी, फोटो देख लोगों ने कहा- पैसा ही सब कुछ….

 

 

महिलाओं और बच्चों को कुपोषण से दूर करना है।

जर्जर सड़कों को ठीक करने का काम तेजी से करें।

शहर की सभी खराब सड़कों को तेजी से ठीक करें जो भी आवश्यक राशि उपलब्ध कराई जाएगी।

फिर रायगढ़ प्रेस क्लब के सदस्यों ने मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को प्रतीक चिन्ह भेंट कर उनका अभिनन्दन किया।

इस दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए बताया कि जर्जर स्कूल भवनों को ठीक करने के लिए 500 करोड़ रु स्वीकृत किये गए हैं।

  • बच्चों के लिए खेल मैदान आरक्षित किये जा रहे।
  • बहुत से समाज के लोगों ने जमीन की मांग की उनके लिए कल घोषणा की है।
  • पत्रकारों के आवास के लिए कलेक्टर को भू-खण्ड सस्ते दर पर उपलब्ध कराने के निर्देश।
  • मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने रायगढ़ नगर निगम को सड़कों को ठीक करने हेतु 10 करोड़ रूपये देने की घोषणा की।
  • उन्होंने कहा कि रायगढ़ के विकास में पैसों की कोई कमी नहीं आने दी जाएगी।
  • मुख्यमंत्री ने प्रेस क्लब भवन के लिए भू-खण्ड उपलब्ध कराने कलेक्टर को दिए निर्देश।

aad

 

 

  • प्रेस क्लब भवन के लिए 20 लाख रूपये स्वीकृत करने की घोषणा भी की।
  • मैं सवाल करता हूं कि हम राजीव गांधी किसान न्याय योजना में किसानों को लाभ दे रहे, मुफ्त में लोगों का इलाज करा रहे, बच्चों को स्वामी आत्मानंद स्कूलों में पढ़ा रहे, ये सब रेवड़ी है क्या।
  • छत्तीसगढ़ में साम्प्रदायिकता की कोई जगह नहीं है, ये यहां की जनता कई बार बता चुकी है।
  • केंद्र सरकार लगातार कोयले की कमी के चलते पैसेंजर ट्रेनें रद्द कर रही है, ये उनकी कोल नीति है।

 

 

Related Articles

Back to top button