Elephant Attack : भैसबोड़ में युवक को हाथी ने कुचला, रक्षाबंधन पर गांव में छाया मातम…

Elephant Attack

राजनांदगांव, विपुल कनैया। Elephant Attack जिले के मोहला-मानपुर-चौकी में 15 दिनों पहले क्षेत्र में हाथियों का दल पहुंचा हुआ है। बालोद जिले के दल्ली राजहरा से होकर राजनांदगांव जिले के वनांचलों में पहुंच कर गांव में तांडव मचा रहा है। खडगांव के कमकासुर एरिया में कई घरों और फसलों को नुकसान पहुंचाने के बाद हाथियों का दल दीघवाड़ी के मांडरी में फसलों को नुकसान पहुँचाया।

Read More : Elephant Attack : हाथी के हमले से बुजुर्ग महिला की मौत, वन विभाग की टीम जांच में जुटी…

जिसके बाद हाथियों का दल पानाबरस की ओर रुख अपनाते हुए महाराष्ट्र की ओर जाने के लिए रास्ता तय कर रहे थे। संभावित पानाबरस वन परिक्षेत्र-परियोजना क्षेत्र के बीच ग्राम भैंसबोड़ में दल पहुंचने विचरण करते पाया गया था। शाम पांच बजे के दरमियान भैसबोड़ के जंगलों में हाथियों के दल के लीडर ने एक युवक को कुचलकर मौत के घाट उतार दिया।

Elephant Attack

सूत्रों के मुताबिक मृतक संतलाल मंडावी भैसबोड निवासी जंगल की ओर गया था। हाथियों के दल का लीडर मृतक को कुचलकर मार डाला, जिससे उसकी मौके पर मौत हो गई। मामले की जानकारी मिलते ही मोहला पुलिस के आला अधिकारी, फारेस्ट अमला मौके मौजूद रहे। मोहला पुलिस शव को जंगल से निकालकर गांव में लाया। जिसके बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। ग्रामीणों द्वारा बताया जा रहा है कि दल में लगभग बीस से तीस की संख्या में हाथी है, वही लीडर काफी विशाल है ।

Read More : Elephant Attack : जंगली हाथी ने महिला की ली जान, वन विभाग ने तत्काल 25 हजार की सहायता राशि दी….

जिले में आने के बाद है हाथियों का दल है काफी आक्रमक
पंद्रह दिन पहले जिले वनांचल क्षेत्र में रूख करने के बाद हाथियों का दल काफी आक्रमक हो गया है। लीडर के साथ विचरण करते दलों की चिंघाड़ और घरों, फसलों की नुकसान से अंदाजा लगाया जा सकता है। फारेस्ट अमला लगातार गांव में लोगों को घरों में रहने हिदायत दे रहे है।

Related Articles

Back to top button