धान खरीदी तिहार : छत्तीसगढ़ में आज से शुरू ‘धान खरीदी तिहार’, 110 लाख मीट्रिक टन धान खरीदी का अनुमान, 25.72 लाख किसानों ने कराया पंजीयन…

 

धान खरीदी तिहार

रायपुर। छत्तीसगढ़ में आज से समर्थन मूल्य पर धान की सरकारी खरीदी शुरु होने जा रही है। आज पहले ही दिन 2 हजार 497 केंद्रों में धान की खरीदी के लिए टोकन काटा जा चुका है। मंडियों में धान की खरीदी की तैयारियां पूरी हो चुकी हैं। लगभग तीन लाख 92 हजार गठान नए, पुराने बारदाने उपलब्ध कराए जा चुके हैं। वहीं चेकलिस्ट अनुसार फड़, कांटा, बांट, कंप्यूटर और आर्द्रता की जांच करने वाली मशीन पहुंचा दी गई है। ट्रायल रन में धान की आदर्ता मापी जा चुकी है। पड़ोसी राज्यों से आने वाले धान को रोकने के लिए जिले के दूसरे राज्य और जिलों से लगे बॉर्डर पर चेकपोस्ट बनाए गए हैं और कोटवार, सहकारिता विभाग के पर्यवेक्षक, कृषि उपज मंडी के इंस्पेक्टर, परिवहन विभाग के कर्मचारी, फॉरेस्ट गार्ड, वन रक्षक सहित अन्य विभागों के कर्मचारियों की भी ड्यूटी लगाई है।

 

READ MORE :छत्तीसगढ़ स्थापना दिवस विशेष : जाने राज्य का नाम कैसे पड़ा छत्तीसगढ़, क्या है इसके पीछे की वजह, छत्तीसगढ़ के इतिहास में छिपा है 36 किलों का रहस्य…

 

 

बता दें कि. इस खरीफ वर्ष 2022-23 के लिए एक लाख 29 हजार नए किसानों ने एक लाख नौ हजार हेक्टेयर रकबे का नया पंजीयन कराया है। पिछले साल का मिलाकर अब तक 25 लाख 23 हजार किसानों ने 29.42 लाख हेक्टेयर रकबे का पंजीयन करा लिया है। जिसमें लगभग 61 हजार नये किसान है, इस साल मानसून के आखिरी दिनों तक बारिश होने से जिले में कटाई देर से हो रही है। अनुमान है कि 15 नवंबर के बाद जिले में खरीदी की रफ्तार बढ़ेगी।

खाद्य विभाग के सचिव टोपेश्वर वर्मा ने बताया कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की घोषणा के अनुरूप खरीफ विपणन वर्ष 2022-23 के लिए एक नवम्बर 2022 से धान ,खरीदी शुरू हो जाएगी। किसानों से सुगमतापूर्वक धान खरीदी के लिए राज्य शासन द्वारा सभी आवश्यक तैयारियां एवं व्यवस्थाएं कर ली गई है। किसानों को धान बेचने में किसी भी तरह की दिक्कत न आए, इसको लेकर सभी केन्द्रों में बेहतर प्रबंध किए जाने के साथ ही व्यवस्था पर मॉनिटरिंग के लिए अधिकारियों-कर्मचारियों की ड्यूटी भी लगाई गई है।

 

Related Articles

Back to top button