CG : डिप्टी रेजंर दिपक तिवारी ने तिल्दा सर्किल का प्रभार लिया

तिल्दा नेवरा वन विभाग के अफसर डिप्टी  

 

 

तिल्दा नेवरा, अजय नेताम। रेंजर दिपक तिवारी जो की 45 दिन के ट्रेनिग पूरी करने के बाद फिर से तिल्दा नेवरा के वन विभाग कष्ठागार का प्रभार ले रहे है। आपको बता दे की तिवारी ने अपने कार्यो को बखुबी निभाया है। उनकी कार्यो को देखते हुए तिल्दा नेवरा में उनकी प्रशंसा करने वाले की कमी नही हैं। डिप्टी रेंजर तिवारी ने तिल्दा नगर के अलावा गांव में भी कई ऐसे काम किये है।

जो काबिले तारिफ है। जब से वे तिल्दा का चार्ज लिये थे तभी से ही अवैध रूप से संचालित होने वाले आरा मिलो व ‘ कोयला भट्ठी ‘ उसके अलावा अवैध रूप से ईमारती लकड़ी के परिवहन करने वाले दलालो पर अपना शिकंजा कसा हुआ था ताकि कोई भी दलाल अवैध रूप से ईमारती लकड़ी का परिवहन ना कर सके और हरे भरे वृक्षो की बलि ना ले से क्योकि हमारे जीवन में वृक्ष का बहुत ही महत्व है।

दीपक तिवारी को एक बार फिर से तिल्दा सर्किल का प्रभार मिला है। जिससे की अवैध रूप से लकड़ी के तस्करी करने वाले दलालो की खैर नही है। क्यो की तिवारी साहब के आते ही उनके कर्मचारियों का हौसला अफजाही हो गया है या कहे ( बुलंद ) हो गया है। और एक बार फिर अवैध रूप से ईमारती लकडी के तस्करी कर परिवहन करने वाले दालालो की खैर नही हैं |

इस संबंध में तिल्दा सर्किल के (सिंधम ) दिपक तिवारी साहब से बात करने पर बताया गया की वे तिल्दा नेवरा सर्किल का प्रभार ले चुके हैं । साहब के गैर हाजरी में अवैध परिवहन करने वाले दलालो निफिकर हो गये थे जो की फिर से तिवारी साहब की वापसी तिल्दा नेवरा में हो चुकी है। जिससे की अब नगर हो या गांव के लकड़ी दलालो के एक बार चुनौती आ गयी है। फिर से पसीने छुटने वाले है । तिल्दा ब्लॉक के अलावा ग्रामीणों छैत्रो में भी तिवारी सर का दबदा बना हुआ है ।

Related Articles

Back to top button