CG : जिले में 30 हजार अकुशल श्रमिकों को मिल रहा मनरेगा में रोजगार, रोजगार उत्सव से बढ़ी जागरूकता

 

 

बैकुण्ठपुर एस के मिनोचा – CG : कोरिया एवं एमसीबी जिले के सभी जनपद पंचायतों में महात्मा गांधी नरेगा योजनांतर्गत 30 हजार से ज्यादा अकुशल श्रमिकों को निरंतर रोजगार प्राप्त हो रहा है। खेती किसानी से खाली होकर बड़ी संख्या में अकुशल श्रमिक अब महात्मा गांधी नरेगा के कार्यस्थलों पर अकुषल श्रम कर रोजगारमूलक कार्यों में जुट गए हैं। इसके लिए जिला पंचायत कोरिया से अधिकारियों की टीम सतत निरीक्षण व पर्यवेक्षण करते हुए योजना का लाभ हितग्राहियों तक पहुंचा रही है।

CG : इस संबंध में जानकारी देते हुए जिला पंचायत की मुख्यकार्यपालन अधिकारी श्रीमती नम्रता जैन ने बताया कि राज्य शासन के निर्देश पर निर्धारित लेबर बजट के अनुसार मनरेगा योजना अंतर्गत पंजीकृत श्रमिकों को 100 दिन का निश्चित अकुशल श्रम प्रदान करने के लिए लगातार रोजगार मूलक कार्य कराए जा रहे हैं जहां काम की मांग करने वाले श्रमिकों को रोजगार मिल रहा है। जिला पंचायत सीइओ ने बताया कि कोरिया जिला पंचायत के अंतर्गत आने वाले सभी जनपद पंचायतों में महात्मा गांधी नरेगा के तहत औसतन प्रतिदिन 30 हजार से ज्यादा अकुषल पंजीकृत श्रमिक रोजगार पा रहे हैं इसमें आधी संख्या महिला श्रमिकों की भी है।

CG : उन्होने आगे बताया कि राज्य के निर्देशानुसार मनरेगा के प्रावधानों के अनुरूप प्रति माह की सात तारीख को कार्यस्थल पर ग्राम पंचायतों के माध्यम से ग्राम रोजगार दिवस को रोजगार उत्सव की तरह मनाया जा रहा है। इसके तहत सात तारीख को ग्राम पंचायत में कार्यस्थल पर या फिर ग्राम पंचायत कार्यालय परिसर में अकुशल श्रमिकों की समस्याओं और मांगों को लेकर दर्ज करने का कार्य किया जा रहा है। इससे जागरूकता में वृद्धि हुई है और अब ज्यादा से ज्यादा कार्य की मांग श्रमिकों के द्वारा दर्ज कराई जा रही है।

CG : जिला पंचायत सीइओ ने बताया कि सात तारीख को प्रत्येक ग्राम पंचायतों में मनाए जा रहे रोजगार उत्सव के दौरान अकुषल श्रमिकों के काम की मांग दर्ज की जा रही है साथ ही उनके जाब कार्ड अद्यतन करने का कार्य भी ग्राम रोजगार सहायकों द्वारा किया जा रहा है। इसके अलावा कई स्थानों पर बैंक सखी के माध्यम से भुगतान की भी व्यवस्था कराई जा रही है ताकि यदि किसी श्रमिक को अपने आधार लिंक खाते से कोई रकम निकालनी हो तो उसे बैंक के चक्कर ना लगाने पड़ें।

CG : गत दिवस भी कोरिया जिले के जनपद पंचायत बैकुण्ठपुर व सोनहत तथा एमसीबी जिले के जनपद पंचायत मनेन्द्रगढ़, खड़गंवा और भरतपुर की सभी ग्राम पंचायतों में ग्राम रोजगार दिवस को रोजगार उत्सव की तरह मनाया गया और योजना के तहत पंजीकृत श्रमिकों द्वारा कार्य की मांग दर्ज की गई। सभी जगहों पर जाब कार्ड के अद्यतनीकरण का कार्य किया गया तथा कुछ जगहों पर बैंक सखी के माध्यम से पेमेंट भी कराया गया।

CG : विदित हो कि वर्तमान में कोरिया जिले के बैकुंठपुर जनपद पंचायत की 80 ग्राम पंचायतों में 7 हजार से ज्यादा श्रमिक मनरेगा में रोजगार मूलक कार्यों में संलग्न हैं। इसी तरह जनपद पंचायत सोनहत की 33 ग्राम पंचायतों में 5 हजार 355 श्रमिक कार्य कर रहे हैं। एमसीबी जिले के खड़गंवा जनपद पंचायत अंतर्गत 57 ग्राम पंचायतों में 5 हजार 538 श्रमिक तथा मनेन्द्रगढ़ जनपद पंचायत अंतर्गत 69 ग्राम पंचायतों में 6 हजार 308 श्रमिक तथा भरतपुर जनपद पंचायत के अंतर्गत 68 ग्राम पंचायतों में 7 हजार 328 मनरेगा श्रमिक रोजगार मूलक कार्यों में नियोजित किए गए हैं। जिला पंचायत सीइओ ने सभी जनपद पंचायतों के मुख्यकार्यपालन अधिकारियों और कार्यक्रम अधिकारियों को मनरेगा कार्यस्थलों पर निरंतर मानिटरिंग करने व सभी श्रमिकों को निर्धारित समय में मजदूरी भुगतान कराए जाने के निर्देश दिए हैं।

Back to top button