CG Crime : एक्सप्रेस-वे रोड में हुये लाखों रूपये लूट का खुलासा, सेल्समेन ही निकला आरोपी…

CG Crime

रायपुर। CG Crime राजधानी के न्यू राजेन्द्र नगर क्षेत्र स्थित एक्सप्रेस-वे रोड में हुए लूट की कहानी झूठी निकली। पुलिस ने मामले को चंद घंटों में ही सुलझाते हुए आरोपी सेल्समेन कोे ही गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपी के पास से नकदी 92 हजार रूपए, चांदी की अंगूठी व मोबाइल बरामद किया है।

Read More : CG Crime : निगम का अफसर बनकर नियुक्ति पत्र बांटने वाला आरोपी चढ़ा पुलिस के हत्थे, सैकड़ों लोगों से की 30 लाख की ठगी…

मामले का खुलासा करते हुए पुलिस ने बताया कि प्रार्थी दीपेश कोड़वानी की रावाभांठा मेटल पार्क में बिस्किट की फैक्ट्री है। आरोपी निखिल वलेचा 25 वर्ष भाटापारा का रहने वाला है, जो दीपेश के पास जून 2022 से सेल्समेन का कार्य कर रहा है, जो कंपनी में ग्राहकों से वसूली तथा आर्डर का काम देखता है। आरोपी निखिल वलेचा 24 नवम्बर की शाम 4 बजे प्रार्थी के एम.जी. रोड की ऑफिस से वसूली के लिए निकला था,

Read More : CG Crime : गद्दा और तकीए की बीच छिपाकर ले जा रहा था गांजा, वाहन के साथ पकड़ाया तस्कर…

जो डूमरतराई थोक बाजार अशोक ट्रेडर्स के पास से 92,000 रूपये वसूली किया था जिसकी जानकारी निखिल वलेचा ने प्रार्थी को दिया था। इसी दौरान कुछ समय बाद निखिल वलेचा ने प्रार्थी को मोबाईल फोन कर बताया कि एक्सप्रेस-वे फुण्डहर चौक के आगे दो अज्ञात व्यक्ति उसे रोककर हाथ मुक्के से मारपीट कर उसके आंख में मिर्ची का पावडर डालकर बैग में रखे नगदी 92 हजार रूपये और उसके हाथ में पहने चांदी की अंगूठी को लूट कर भाग गये।

Read More : CG Crime : बाइक में घूम-घूम कर बेचते थे चरस, दो आरोपी चढ़े पुलिस के हत्थे…

जिस पर पुलिस ने अज्ञात आरोपियों के खिलाफ अपराध दर्ज कर जांच में लिया था। जांच के दौरान पुलिस ने निखिल के रकम लेकर आने के मार्गाे के सी.सी.टी.व्ही. कैमरों के फुटेजों का अवलोकन किया गया, परंतु घटनास्थल तक प्रार्थी के साथ इस प्रकार का कोई घटना होना नहीं दिख रहा था। वहीं उससे पूछताछ करने पर बार-बार वह अपना बयान बदल कर लगातार टीम को गुमराह करने का प्रयास कर रहा था।

Read More : CG Crime : नकबजनी के दो आरोपी चढ़े पुलिस के हत्थे, रॉड से ताला को तोड़कर दी थी वारदात को अंजाम…

जिस पर अज्ञात आरोपियों की गिरफ्तारी में लगी टीम को निखिल के उपर गहरा शक हुआ एवं टीम के सदस्यों द्वारा कड़ाई से पूछताछ प्रारंभ किया गया। जिस पर निखिल ज्यादा देर अपने झूठ के सामने टिक न सका और अंततः उसके द्वारा रकम गबन करने की योजना बनाकर लूट की उक्त झूठी घटना को अंजाम देना स्वीकार किया है। पुलिस ने आरोपी के पास से नकदी 92 हजार रूपए, चांदी की अंगुठी व मोबाइल बरामद किया है। बताया जाता है कि आरोपी कर्जे में दबा हुआ था, जिसके चलते उसने लूट की झूठी कहानी गढ़ी थी।

Related Articles

Back to top button