बिस्तर पर कूदकर ऊप्स मोमेंट की शिकार हुईं मिस यूनिवर्स हरनाज कौर संधू, वीडियो हुआ वायरल

 

नई दिल्ली। मिस यूनिवर्स हरनाज कौर संधू आज किसी पहचान की मोहताज नहीं हैं। हरनाज न सिर्फ अपनी खूबसूरती बल्कि अपने बेकाक अंदाज के लिए भी जानी जाती हैं। वह अक्सर ही अपने फैशन स्टेटमेंट के जरिए फैंस के बीच चर्चा में बनीं रहती हैं। हरनाज सोशल मीडिया पर अपने फैंस के साथ जुड़ी रहती हैं। वह अक्सर ही अपन ही अपनी हॉट एंड बोल्ड तस्वीरों और वीडियो फैंस के साथ शेयर करती रहती हैं। इसी बीच हरनाज कौर का एक वीडियो इंटरनेट पर तेजी से वायरल हो रहा है। यहां देखें हरनाज का वीडियो…

 

View this post on Instagram

 

A post shared by The Great Pageant Community (@tgpc_official)

वीडियो हरनाज (हरनाज कौर संधू) की मस्ती भरे पलों का है लेकिन इस दौरान मिस यूनिवर्स बाथरोब में ऊप्स मोमेंट होने से बाल-बाल बची नजर आ रही है। सामने आए वीडियो में आप देख सकते हैं कि हरनाज दौड़ता हुआ आता है और कूद कर बिस्तर पर लेट जाता है। इस दौरान उन्होंने बाथरोब पहना हुआ है। सामने से खुला यह बाथरोब हरनाज़ कौर संधू के बिस्तर पर गिरते ही सरक जाता है, जिसे वह बड़ी समझदारी से एडजस्ट करती हैं।

सुर्खियों में भारत दौरा

मिस यूनिवर्स का यह वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है और फैंस उनकी खूबसूरती की तारीफ करने के साथ-साथ ड्रेस को एडजस्ट भी कर रहे हैं। आपको बता दें कि हरनाज कौर संधू अपने मिस यूनिवर्स इंडिया टूर के दौरान काफी सुर्खियों में रहीं थीं। अपनी बीमारी के बारे में बात करने से लेकर हिजाब के मुद्दे पर बयान देने तक, हरनाज़ ने काफी लाइमलाइट बटोरी थी।

बढ़े हुए वजन के साथ ट्रोल्स

लैक्मे फैशन वीक में हरनाज कौर संधू ने रैंप वॉक किया। इस दौरान उनका बढ़ा हुआ वजन देखकर लोग हैरान रह गए। तभी से लोगों ने उन्हें ट्रोल करना शुरू कर दिया। इसके बाद हरनाज ने बताया कि वह सीलिएक नाम की बीमारी से जूझ रही हैं, जो खाने में मौजूद ग्लूटेन के रिएक्शन की वजह से होती है। हरनाज का कहना है कि स्कूल के दिनों में वह बहुत दुबली-पतली थी, तब लोग उसके कम वजन की वजह से उसे चिढ़ाते थे।

गेहूं का आटा नहीं खा सकते

हरनाज कौर संधू ने कहा, ‘लोगों ने मुझे बहुत तंग किया है क्योंकि मैं पतली हूं और अब जब मैं मोटी हो गई हूं तो लोग अब भी मुझे धमका रहे हैं। मेरे सीलिएक रोग के बारे में किसी को कुछ नहीं पता। इस बीमारी के कारण मैं गेहूं का आटा और कई अन्य चीजें नहीं खा पा रहा हूं। उन्होंने कहा कि अलग-अलग जगहों पर रहने से भी शरीर पर काफी फर्क पड़ता है।

 

Related Articles

Back to top button