CG Crime : भाभी अपने देवर से रोज करती थी शारीरिक संबंध बनाने की डिमांड, परेशान देवर ने किया ऐसा हाल की बुलानी पड़ गई पुलिस…

CG Crime

 

रायपुर : राजधानी रायपुर में देवर ने अपनी ही भाभी का कत्ल कर दिया,  पिछले 3 सालों से दोनों के बीच अवैध संबंध चल रहा था यह घटना अवैध संबंधों की वजह से ही हुई आरोपी वीरेंद्र को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.  यह मामला अभनपुर के सारखी कि गांव का है.

जानकारी के अनुसार 5 सितंबर को पुलिस को एक महिला के मौत की सूचना मिली थी पुलिस की टीम घटनास्थल पर पहुंची और पाया कि महिला का गला दबाकर किसी ने हत्या कर दिया है महिला को मृत हालत में उसके बेटे नहीं देखा था, महिला के गले में मौजूद निशान से पुलिस ने हत्या का संदेह जताया था. उसके बाद पुलिस ने गांव के 50 से अधिक लोगों से पूछताछ की महिला के घरवालों से भी बात की मगर हत्यारे का कुछ पता नहीं चल सका.  बाद में पुलिस ने इस हत्या के हत्यारे तक पहुंच गई.  जो कि महिला का देवर ही निकला।

 

READ MORE :छत्तीसगढ़ को मिली नई पहचान, रावघाट से भिलाई इस्पात संयंत्र भेजी गई लौह अयस्क की पहली खेप, अंतागढ़ से BSP के लिए देर शाम रवाना हुई मालगाड़ी…

 

 

पुलिस ने आरोपी वीरेंद्र साहू को पकड़ लिया है आरोपी विरेंद्र साहू महिला के पति का चचेरा भाई और बगल के ही मकान में रहता था पुलिस से पूछताछ में लगातार आरोपी अपना बयान बदल रहा था इसी से शक हुआ और जब जांच टीम ने कड़ाई से पूछताछ की तो उसने अपना गुनाह कुबूल कर लिया।

वीरेंद्र ने बताया कि उसका भाभी के साथ पिछले 3 सालों से अवैध संबंध था वह अक्सर अपने बड़े भाई के काम में जाने के बाद अकेले भाभी से संबंध बनाता था पिछले कुछ दिनों से वीरेंद्र भाभी से दूरी बनाना शुरू कर दिया था अब उसे यहां अच्छा नहीं लग रहा था,  लेकिन भाभी बार-बार वीरेंद्र के मना करने पर भी उसके साथ शारीरिक संबंध बनाना चाहती थी.

 

aad

 

वह वीरेंद्र के साथ जबरदस्ती करने लगे इससे तंग आकर आरोपी वीरेंद्र ने महिला को मार दिया देवेंद्र भाभी को बुलाने पर उसके घर गया था वहां कोई नहीं था मौका पाकर वीरेंद्र ने भाभी को रस्सी से गले वोट दिया पुलिस ने वीरेंद्र के कब्जे से रस्सी भी बरामद कर लिया है हत्या वाले दिन के बारे में पूछे जाने पर कुछ गांव वालों ने कहा था कि वीरेंद्र उस दिन महिला के घर से निकलते देखा था इसी शक के वजह से पुलिस ने वीरेंद्र को गिरफ्तार किया था।

 

Related Articles

Back to top button