ये क्या शादी से 3 दिन पहले दुल्हन ने बच्चे को दिया जन्म, होने वाला पति लेकर पहुंचा अस्पताल, जानिए फिर क्या हुआ…

 

 

 

 

लंदन: शादी के तीन दिन पहले होने वाली दुल्हन ने बच्चे को जन्म (Woman Gave birth to child before 3 days of Marriage) दिया, जिसे सुनकर सभी हैरान रह गए. अब महिला ने अपनी इस कहानी को खुद लोगों के सामने शेयर किया है और बताया है कि उसे इस बात का अंदाजा नहीं था कि वह गर्भवती भी है. ये पूरा मामला ब्रिटेन(Britain) का है.

 

 

40 साल की लिसा ने अपनी कहानी यूट्यूब पेज पर शेयर किया है और दर्दनाक घटनाओं की जानकारी दी है. उन्होंने बताया, ‘मैंने सोचा था कि मां बनने के लिए मैं बहुत बूढ़ी हो चुकी हूं, लेकिन शादी के तीन दिन पहले अचानक प्रसव पीड़ा होने के बाद आपातकालीन हालत में अस्पताल ले जाया गया, जहां बच्चे को जन्म दिया.’ लिसा ने कहा, ‘जब मैं बाथरूम गई और चेक किया तो मैं समझ गई यह सामान्य नहीं है, क्योंकि मैं खून से लथपथ हो गई थी.

 

 

 

प्रेग्नेंसी में आमतौर पर वजन बढ़ता है, लेकिन लिसा ने बताया कि उनका वजन बढ़ने की जगह कम ही हो गया था. इसके साथ ही उन्होंने वीडियो में बताया कि प्रेग्नेंसी से जुड़े कोई भी सामान्य लक्षण नहीं थे, जिसमें जी मिचलाना या स्तनों में दर्द होना शामिल है.

 

 

प्रेग्नेंसी टेस्ट की रिपोर्ट भी आई थी निगेटिव

 

 

 

लिसा ने बताया, ‘दो महीने तक पीरियड नहीं आने के बाद मैंने प्रेग्नेंसी टेस्ट किया, जिसका रिजल्ट निगेटिव आया. इसलिए मैंने मान लिया कि यह मेनोपॉज की शुरुआत है.’ उन्होंने बताया, ‘चार महीने तक पीरियड नहीं होने के बाद मैंने एक और प्रेग्नेंसी टेस्ट किया, लेकिन इस बार कोई रिजल्ट नहीं आया और फिर दूसरी बार निगेटिव आया.

 

लिसा ने बताया, ‘मैं अपने साथी जेसन से शादी करने वाली थी, जिसे एक रेस्टोरेंट में काम करने के दौरान मिली थी. शादी से ठीक तीन दिन पहले मैं खून से लथपथ हो गई. जब बाथरूम गई तो देखा कि खून बहुत ज्यादा था और यह सामान्य नहीं है.’ इसके बाद जेसन अपनी होने वाली पत्नी को अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टर ने बताया कि उसका गर्भपात हो गया है. जब लिसा ने बताया कि वह गर्भवती नहीं है तो डॉक्टरों ने जांच की.

 

 

करीब 7 महीने की प्रेग्नेंट थी महिला

 

डॉक्टरों ने जांच के बाद बताया कि वह करीब 28 से 30 सप्ताह यानी करीब 7 महीने की प्रेग्नेंट है. इसके साथ ही डॉक्टर ने बताया कि लिसा प्लेसेंटा टूटने की वजह से ज्यादा ब्लीडिंग हो रही है. ऐसा तब होता है जब प्लेसेंटा समय से पहले गर्भाशय से अलग हो जाता है.

 

 

ऑपरेशन के बाद बच्चे का जन्म

 

 

प्लेसेंटा टूटने का मतलब था कि बच्चा जल्द ही अपनी मां के जरिए खून की आपूर्ति को खोने वाला था. इसलिए डॉक्टरों ने आपातकालीन सी-सेक्शन किया और प्रीमेच्योर बच्चे को बाहर निकाला. जन्म के समय बच्चे का वजन सिर्फ 4 lbs 4 ounces यानी करीब 1.92 किलोग्राम था. लिसा ने बताया, ‘मैंने ठीक होने के कुछ घंटों बाद अपने बच्चे को देखा.

 

 

READ MORE: शिल्पा शेट्ठी के पति राज कुंद्रा के पास मिले 119 अश्लील वीडियो, 9 करोड़ में बेचने का था प्लान, पुलिस ने किया ये बड़ा खुलासा

 

 

 

हालांकि प्रीमैच्योर डिलीवरी की वजह से अभी तक उसका फेफड़ा ठीक से विकसित नहीं हो पाया था और उसे कई हफ्ते तक डॉक्टरों ने गहन देखभाल में रखा.’ जेसन ने बताया, ‘जब आप सुबह पांच बजे उठते हैं और आपको बताया जाता है कि आप पिता बनने जा रहे हैं. वो भी जब आपको पता है कि आप पिता नहीं बनेंगे, यह एक सदमा जैसा था.’

 

 

 

 

 

 

 

 

 

XCheck Digital Badge

Related Articles

Back to top button