Sex Worker: ऑनलाइन ऐप से बुलाया Sex Worker, निकला किन्नर, युवक ने कर दिए शरीर के दो टुकड़े, मंजर देख कर लोगों के खड़े हुए रोंगटें…

Crime

 

इंदौर। संबंध बनाने के लिए, जिसे लड़की समझकर 2 हजार रुपए में बुलाया, वह लड़की नहीं बल्कि किन्नर निकला। जिसके बाद दोनों में विवाद हुआ तो हत्या कर शव के दो टुकड़े कर दिए। कमर से नीचे वाला हिस्सा सड़क किनारे फेंक दिया। वहीं कमर से ऊपर वाला भाग घर की पेटी में रखे रहा। इंदौर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर आरोपी के घर की पेटी से धड़ और काटने में इस्तेमाल छुरा जब्त कर लिया है। पुलिस आगे की कार्रवाई में जुट गई है। बता दें कि मंगलवार को इंदौर के खजराना थाना इलाके में सड़क किनारे शव का धड़ के मिलने से सनसनी फ़ैल गई थी। पुलिस ने कई CCTV खंगाले और टावर लोकेशन के आधार पर संदेह के आरोपी को गिरफ्तार किया। इसके बाद उसके हत्या करना स्वीकार करते हुए जो बात बताई उसे सुनकर पुलिस भी चौंक गई।

ऑनलाइन एप के माध्यम से हुई थी पहचान

इंदौर के खजराना थाना इलाके में हुई किन्नर की हत्या के मामले का पुलिस ने कुछ ही घंटो में खुलासा कर दिया है। आरोपी नूर मोहम्मद का कुछ समय पहले मृतक से सम्पर्क हुआ था। दोनों का मिलाप ‘ऑनलाइन एप’ के माध्यम से हुआ था। मृतक मोहसिन उर्फ़ ज़ोया ने अपने आपको सोशल मीडिया पर लड़की बताकर आरोपी से परिचय किया था। कुछ दिनों तक दोनों के बीच दोस्ती रही। इसके बाद दोनों शारीरिक संबंध बनाने को राजी हो गए।

इसके लिए मृतक ने नूर मोहम्मद से 2 हजार रुपये के मांग भी की थी। आरोपी ज़ोया के हुस्न के जाल में फंस गया था। लिहाजा वह संबंध बनाने के बदले 2 हजार रुपए देने के लिए तैयार ही हो गया था। दोनों के बीच मीटिंग होने से पहले नूर ने ज़ोया को एडवांस 500 रुपए भी ऑनलाइन भेज दिए थे।

ज़ोया जब नूर के घर अशर्फी कॉलोनी पहुंची तो उसने बाकी की रकम भी पहले ले ली। जब धीरे धीरे उसने कपड़े उतारे तो उसके हुस्न का जाल फीका पड़ गया। तब अचानक घबराकर नूर मोहम्मद ने संबंध बनाने से इंकार कर दिया। लेकिन ज़ोया संबंध बनाने के लिए लगातार दबाब बनाने लगा तो इसे लेकर दौरान दोनों के बीच विवाद हो गया।

विवाद में नूर मोहम्मद ने ज़ोया का गला दबा दिया। इससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई। इसके बाद उसके घर पर ही रखे मांस काटने वाले चाकू से उसके शरीर को दो भागो में काट दिया। एक हिस्सा सूनसान इलाके में फेंक दिया था। वहीं दूसरा हिस्सा घर के अंदर की पेटी में ही छुपा दिया। जानकारी है कि नूर मोहम्मद शादी शुदा था। उसकी पत्नी गर्भवती थी इसलिए वह कुछ समय पहले मायके चली गई थी।

 

 

READ MORE :कार्तिक के बाद इस एक्टर पर अटका सारा अली खान का दिल, कहा उनके लिए मेरा सब कुछ कुर्बान..

 

ऐसे आरोपी तक पहुंची पुलिस

इंदौर के खजराना थाना इलाके में स्थित स्टार चौराहे के करीब एक दिन पूर्व मंगलवार सुबह उस वक़्त सनसनी फ़ैल गई थी। एक निगमकर्मी ने कटा हुआ शव देखा था। शव मिलने की सूचना पुलिस को दी थी। मौके पर पहुंची पुलिस और फोरेंसिक की टीम ने पड़ताल की, लेकिन पुलिस के लिए उस वक़्त और चुनौती बन गई जब मृतक के शरीर का ऊपरी हिस्सा नहीं मिला। पुलिस ने आसपास इलाके में सर्चिंग अभियान चलाया।

एक जगह संदिग्ध लगने पर खुदाई भी करवाई लेकिन उसमे मृत श्वान मिला। इससे पुलिस और भृमित हुई। पुलिस के लिए शव की पहचान करना कठिन बना हुआ था। इसी दौरान एक परिवार ने मौके पर पहुंच कर दावा किया कि यह शव उनके ही परिवार के एक सदस्य का है। उसका नाम मोहसिन उर्फ़ ज़ोया है। मोहसिन के रहस्य्मय ढंग से गायब होने की जानकारी भी पुलिस को दी गई थी। पुलिस ने फरियाद पर गुमशुदगी भी दर्ज की थी, लेकिन कोई सुराग हाथ नहीं लगा था। परिजनों ने शव देखकर दावा किया था कि यह शव मोहसिन का ही है।

 

 

READ MORE :कार्तिक के बाद इस एक्टर पर अटका सारा अली खान का दिल, कहा उनके लिए मेरा सब कुछ कुर्बान..

 

जोदिन पहले गायब हुआ था। हालांकि शुरुआती पूछताछ में पुलिस ने आसानी से भरोसा नहीं किया कि यह वही शव है। परिजनों ने एक फोटो प्रस्तुत की जिसमें मोहसिन ने वह चुनरी डाली हुई थी। इससे शव के पैर बंधे हुए थे। पुलिस ने इसके बाद अपनी जांच आगे बढ़ाई। आसपास इलाके में लगे सीसीटीव्ही खंगाले तो एक युवक स्कूटर पर बोरा रहकर निकलते नजर आया। कुछ देर बाद वह वापस वहा से गुजरा। हालांकि इस वक़्त उसके स्कूटर पर बोरा नहीं था। इसके बाद पुलिस को आशंका हुई।

हत्या का संदेही मानते हुए नूर मोहम्मद को उसके भाई के घर से हिरासत में ले लिया। गिरफ्त में आये आरोपी नूर मोहम्मद ने अपना जुर्म कबूल कर लिया। पुलिस ने आरोपी की निशानदेही पर ही उसके घर से पेटी में रखे शव के दूसरे हिस्से को बरामद कर लिया है। पुलिस अब आरोपी नूर मोहम्मद के अन्य साथियों के बारे में भी जानकारी जुटा रही है। आशंका है कि नूर मोहम्मद के साथ हत्या और शव को ठिकाने लगाने में और भी अन्य लोग शामिल होंगे।’

 

aad

 

 

CCTV और ऑनलाइन ट्रांजेक्शन से मिली मदद

पुलिस को हत्याकांड की गुथी सुलझाने में CCTV और ऑनलाइन ट्रांजेक्शन से काफी मदद मिली। इससे पुलिस जल्द ही आरोपी तक पहुँंच गई। इन्ही अहम सबूत के माध्यम से आरोपियों को न्यायालय में सजा दिलाने का प्रयास करेगी। साथ ही शव का डीएनए टेस्ट भी कराया जाएगा। पुलिस अब मृतक ज़ोया उर्फ़ मोहसिन से जुड़े अन्य बिंदु भी खंगाल रही है। आशंका है कि यह पूर्व में संबंध बनाने का दबाबा बनाकर लोगों के साथ लूट की वारदात को अंजाम दे चुकी होगी। वह अक्सर किन्नरों की टोली में शामिल रहती थी। अब देखना होगा कि पुलिस पड़ताल में क्या क्या खुलासा होता है।

 

Related Articles

Back to top button