Ganesh Chaturthi 2022 : इन चीज़ों के बिना अधूरी है गणपति बप्पा की पूजा, गणेश स्थापना से पहले पूजन सामग्री जरूर शामिल करें ये चीज़…

Ganesh Chaturthi 2022

 

नई दिल्ली, Ganesh Chaturthi 2022 : आज से पूरे देश में गणेश चतुर्थी की धूम देखने को मिलेगी, लोग अपने घरों में, गली-मोहल्लें में गणेश जी की स्थापना करेंगे और पूरे 10 दिन तक भक्त उनकी भक्ति में लीन रहेंगे। गणेश चतुर्थी से लेकर अनंत चतुर्दशी तक भगवान गणेश अपने भक्तों के बीच रहते हैं और उन्हें अपनी पूजा-उपासना का अवसर देते हैं. महापर्व की इस अवधि में गणेश भगवान की पूजा करने से हर संकट दूर हो जाता है और श्रद्धालुओं को मनचाहा वरदान भी प्राप्त होता है. इस साल गणेश चतुर्थी का पर्व बुधवार, 31 अगस्त को मनाया जाएगा.

गणेश चतुर्थी का मुहूर्त

भाद्रपद माह के शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि 30 अगस्त 2022 को दोपहर 03 बजकर 34 मिनट से प्रारंभ होगी और अगले दिन 31 अगस्त को दोपहर 3 बजकर 23 मिनट पर समाप्त हो जाएगी. उदिया तिथि के कारण गणेश चतुर्थी का उत्सव 31 अगस्त को ही मनाया जाएगा. 31 अगस्त से 09 सितंबर यानी अनंत चतुर्दशी तक गणेश महोत्सव मनाया जाएगा. 09 सितंबर को अनंत चतुर्दशी के साथ महापर्व का समापन हो जाएगा.

 

READ MORE : Horoscope Today 31 August 2022 : मेष समेत इन 3 राशि वाले रहे सतर्क, अतिरिक्त खर्च से बचें, जानिए अपनी राशि का हाल..

 

 

गणेश चतुर्थी से अगले दस दिनों तक भगवान गणेश के भक्त उनकी पूजा-अर्चना करते हैं. अनंत चतुर्दशी के दिन गणेश जी की प्रतिमा का विसर्जन किया जाता है. इस अवधि में भगवान गणेश की पूजा में कुछ खास चीजों को शामिल किया जाता है. इन चीजों के बिना गणपति की पूजा बिल्कुल अधूरी मानी जाती है.

गणेश पूजा शुभ मुहूर्त

अमृत योग: सुबह 07 बजकर 05 मिनट से लेकर 08 बजकर 40 मिनट तक
शुभ योग: सुबह 10 बजकर 15 से लेकर 11 बजकर 50 मिनट तक

 

aad

 

 

गणेश चतुर्थी की पूजन सामग्री

गणेश चतुर्थी के त्योहार में कुछ खास चीजों का इस्तेमाल होता है. इन चीजों के बगैर गणेश चतुर्थी की पूजा अधूरी मानी जाती है. गंगाजल, धूप, दीप, कपूर, मूर्ति स्थापित करने के लिए चौकी, लाल रंग का कपड़ा, दूर्वा, जनेऊ, रोली, कलश, मोदक, फल, सुपारी, लड्डू, मौली, पंचामृत, लाल चंदन, पंचमेवा इत्यादि शामिल करें.

 

 

 

Related Articles

Back to top button