CG Crime : ऑनलाइन ठगी करने वाले दो आरोपी चढ़े पुलिस के हत्थे, 16 नग एटीएम कार्ड जब्त…

CG Crime

कोरबा। CG Crime जिले के दीपका पुलिस के टीम ने ऑनलाइन ठगी करने वाले दो आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है। पुलिस ने आरोपियों के पास से 16 नग एटीएम कार्ड जब्त किया है।

Read More : CG Crime : दो अज्ञात बदमाशों ने चाकू से हमला कर ट्रक चालक की हत्या की, पुलिस जांच में जुटी…

बता दें कि सुभाष राव ने थाना दीपका में शिकायत किया था कि आरोपी अजय सिंह कंवर ने कंपनी में लेबर पेमेंट के नाम पर इसके पत्नी का एटीएम कार्ड और पिन ले लिया। जब प्रार्थी बैंक में जाकर पता किया, तो उसके खाते से ढाई लाख रूपए का ट्रांजेक्शन किया गया है। मामले में पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धोखाधड़ी का अपराध दर्ज कर जांच में लिया था। जांच के दौरान पुलिस ने आरोपी अजय सिंह कंवर 27 वर्ष को हिरासत में लेकर पूछताछ किया।

Read More : CG Crime : नवविवाहिता ने अपने ससुर व पति के खिलाफ थाने में की शिकायत, जाने क्या है वजह…

तो उसने बताया कि लगभग 2 साल पहले अपने साथी अनिल कुमार केंवट 29 वर्ष के साथ मिलकर अंबिकापुर गया था। जहां बिहार पटना निवासी एक व्यक्ति से पहचान हुई थी। उसने कहा कि एक एटीएम कार्ड के बदले में 5000 रुपए कमीशन मिलेगा। तब से रकम कमाने के लालच में दोनों मिलकर करीब 70 एटीएम कार्ड अभी तक ठग गिरोह के सरगना तक पहुंचा चुके हैं। पुलिस ने वर्तमान में अलग-अलग बैंकों के 16 एटीएम अलग-अलग व्यक्तियों से धोखे से लेकर रखे हैं, जिसे आरोपियों के पास से जब्त किए है।

Read More : CG Crime : मुखबिरी की शक पर नक्सलियों ने ग्रामीण की गला रेतकर की हत्या, पुलिस जांच में जुटी…

इस तरह से देते थे वारदात को अंजाम
आरोपियों ने बताया कि दीपका के आसपास के क्षेत्र में घूम कर सीधे सादे लोगों को यह कहकर कि हम लोग कंपनी में काम करते हैं। कंपनी के द्वारा सभी कर्मचारियों को बैंक खाता के माध्यम से तनख्वाह दिया जाता है, किंतु कुछ कर्मचारियों का बैंक में खाता नहीं है जिससे उनका तनख्वाह नहीं मिल पा रहा है। उन कर्मचारियों का तनख्वाह खातों में जमा होगा जिसे एटीएम के माध्यम से आहरण करेंगे। कुछ रकम कमीशन के रूप में देने का झांसा देकर एटीएम धारकों से उनका एटीएम एवं पिन नंबर मांगते थे। किसी को शक न हो इसलिए कुछ समय बाद एटीएम वापस करते थे।

Read More : CG Crime : एक्सिस बैंक घोटाला मामले में फरार एनजीओ संचालिका गिरफ्तार…

शातिर आरोपी एटीम यूज करने के बाद करता था वापस
पूछताछ पर आरोपीगण ने बताया कि गिरोह का सरगना काफी शातिर किस्म का है, जो कि इनके पास से लिए गए एटीएम कार्ड को लगभग दो-तीन महीने उपयोग करने के बाद इनको वापस कर देता था। जिसे ये लोग पुनः एटीएम कार्ड धारक को वापस कर दिया करते थे ताकि किसी प्रकार का शक न हो। जिससे मामले के मुख्य सरगना को पकड़ने के लिए पुलिस की टीम को बिहार भेजा जा रहा है।

Related Articles

Back to top button