CM शिवराज की बढ़ी चिंता ! 15 महीने पहले ही हार का डराने लगा डर… 

 

भोपाल। CM Shivraj मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की चिंता अब बढ़ती दिखाई दे रही है। मध्यप्रदेश में हाल में हुए नगरीय निकाय चुनाव के परिणाम भले ही राष्ट्रीय स्तर पर सुर्खियां नहीं बटोर पायी है। लेकिन राज्य में पार्टी को मिली भारी हार किसी से छिपी नहीं है।

मध्यप्रदेश में कमलनाथ सिंह की सरकार गिरा कर सत्ता में आने वाले सीएम शिवराज सिंह चौहान की चिंता दिनों दिन बढ़ती जा रही है। राज्य में 15 महीने बाद विधानसभा चुनाव होने है। ऐसे में ऐन चुनाव के पहले राज्य में हुए नगरीय निकाय चुनाव में भाजपा को इतनी बड़ी हार निश्चित ही चिंता की बात है।

 

READ MORE:जब सीढ़ियों पर लड़खड़ाकर गिर गए CM शिवराज, शादी समारोह में शामिल होने पहुंचे थे, देखें वीडियों…

 

नगरीय निकाय चुनाव में खासकर उन क्षेत्रों से हार का सामना करना पड़ा है। जिन क्षेत्रों के दम पर शिवराज सिंह चौहान की सरकार सत्ता में वापस लौटी है। यह हार पार्टी को विधानसभा चुनाव के मात्र 15 माह पूर्व मिली है।

आपको जानकर आश्चर्य होगा कि भारतीय जनता पार्टी को मुरैना नगर निगम चुनाव में पहली बार हार का सामना करना पड़ा है। वहीं महाराजा के गढ़ ग्वालियर से पार्टी को 57 सालों में पहली बार हार का मुख देखना पड़ा है। केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया इसी क्षेत्र से आते हैं। जिनके दम पर भारतीय जनता की सरकार राज्य में वापस लौटी है।

 

READ MORE:MSP पर फसल बिक्री के लिए मध्य प्रदेश में आज से पंजीकरण शुरू, जानें क्या है CM शिवराज की किसानों से अपील…

 

खास बात तो यह है कि कांग्रेस छोड़कर भाजपा प्रवेश करने वाले 15 विधायक भी इसी क्षेत्र से आते हैं। 2020 में जब सिंधिया कांग्रेस छोड़कर भाजपा प्रवेश किये थे। तब पार्टी ने दावा किया था कि जल्द ही इस क्षेत्र से कांग्रेस का सुपड़ा साफ हो जाएगा। यह हार केन्द्रीय मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर के लिए भी चिंता की बात है। केन्द्रीय मंत्री तोमर मुरैना लोकसभा क्षेत्र से वर्तमान सांसद हैं।

 

JOIN TCP24NEWS WHATSAPP GROUP

Related Articles

Back to top button