CG Crime : ट्रेडिंग कम्पनी में मुनाफा कमाने का लालच देने वाला अंतर्राज्यीय आरोपी चढ़ा पुलिस के हत्थे, देश भर में करोड़ों रूपयों का लगाया था चूना…

CG Crime

रायपुर। CG Crime ट्रेडिंग कंपनी में पैसे निवेश कर ज्यादा पैसा कमाने का लालच देकर देश भर में करोड़ों रूपए की ठगी करने वाला अंतर्राज्यीय आरोपी को कोतवाली पुलिस के टीम ने कोलकाता से गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपी के पास से 3 नग मोबाइल फोन, आधार कार्ड व पेनकार्ड जब्त किया है।

Read More : CG Crime : कट्टा एवं जिंदा कारतूस के साथ युवक गिरफ्तार, बड़ी वारदात को अंजाम देने के फिराक में था…

बता दें कि बैरनबाजार निवासी रविशंकर दीक्षित रायपुर विकास प्राधिकरण से रिटायर्ड है। रविशंकर के एक परिचित महिला के माध्यम से प्रार्थी का परिचय दयानिधि पति नामक व्यक्ति से हुआ, जो भामकर भवन में निवास करता था। दयानिधि ने प्रार्थी कोे बताया कि वह ट्रेडिंग का काम करता है, जिसमें कम समय में बहुत ज्यादा राशि का फायदा है। उसने प्रार्थी, उसकी पत्नि एवं परिवार के अन्य सदस्यों के बचत रकम को ट्रेडिंग कंपनी में लगाने का प्रलोभन दिया। दयानिधि पति ने प्रार्थी से जनवरी 2021 से फरवरी 2021 के मध्य तथा 21 फरवरी को नगद पांच लाख रूपये लिया था, जो कुछ समय बाद प्रार्थी को विश्वास में लेने के लिए 2 लाख रूपये दिया।

Read More : CG Crime : पत्नी पर गुस्सा करना पति को पड़ गया महंगा, जान देकर चुकानी पड़ी कीमत, महिला गिरफ्तार…

इसी दौरान दयानिधि ने प्रार्थी को बताया गया कि अभी बाजार में तेजी है यदि आप ज्यादा राशि लगाएंगे तो ज्यादा फायदा होगा। जिस पर प्रार्थी दयानिधि के झांसे में आकर 03 माह के भीतर दयानिधि को अलग-अलग किस्तो में कुल 70 लाख रूपये दिया। प्रार्थी ने दयानिधि से इनवेस्ट की गई रकम वापस मांगने पर उसने अलग-अलग तिथियों में प्रार्थी को अलग-अलग बैंको के कई चेक प्रदान किये। जिसे प्रार्थी ने संबंधित बैंको में लगाने पर सभी चेक बैंक से अनादरित हो गये। इसी दौरान दयानिधि पति ने प्रार्थी को इंटरनेशनल कंपनी के नाम से फर्जी पेमेंट स्लिप और फर्जी मेल भेजकर कुल मुनाफा सहित 6 करोड़ रूपये कमाने का झांसा देते हुये रकम की मांग किया।

Read More : CG Crime : भारी मात्रा में शराब के साथ तस्कर गिरफ्तार, रेलवे स्टेशन में चेकिंग के दौरान पकड़ाया…

जिस पर प्रार्थी ने फिर आरोपी दयानिधि पति को 5 लाख रूपए दे दिया। कुछ दिनों बाद प्रार्थी को संदेह होने पर कंपनी के संबंध में पतासाजी करने पर कंपनी फर्जी होना पता चला। इस प्रकार दयानिधि पति ने प्रार्थी को ट्रेडिंग कम्पनी में रकम लगाकर अधिक मुनाफा कमाने का झांसा देते हुये कुल 89 लाख रूपये की ठगी किया है। मामले में पुलिस ने आरोपी के खिलाफ अपराध दर्ज कर पतासाजी कर रही थी। तभी टीम के सदस्यों को आरोपी का लोकेशन कोलकाता मिला। जिससे पुलिस के टीम कोतवाली जाकर आरोपी को गिरफ्तार किया है।

Read More : CG : प्रकृति के प्रति प्रेम और समर्पण का लोकपर्व है हरेली, नई फसल का उत्साह से करते है स्वागत

महाराष्ट्रके बस डिपो कर्मचारियों को भी बनाया शिकार
पूछताछ में आरोपी दयानिधि पति ने बताया कि देश भर में घुम-घुम कर लोगों को अपने झांसे में लेते हुये ट्रेडिंग कम्पनी में रकम लगाकर मुनाफा कमाने का लालच देकर लोगों से ठगी करता है। उसका कोई स्थाई ठिकाना नहीं है। आरोपी के खिलाफ महाराष्ट्र नागपुर के थाना अंजनी में धोखाधड़ी का अपराध दर्ज है। आरोपी ने नागपुर महाराष्ट्र के बस डिपो में कार्य करने वाले कर्मचारियों को भी अपना शिकार बनाते हुये अलग-अलग व्यक्तियों से लगभग 40 लाख रूपये की ठगी करने के साथ ही मुम्बई में भी कई व्यक्तियों से लाखों रूपये की ठगी की है।

JOIN TCP24NEWS WHATSAPP GROUP

Related Articles

Back to top button