CG : हरेली तिहार से जिले के चिन्हांकित 2 गौठानों में शुरू होगी गौमूत्र खरीदी, झुमका आइलैंड बनेगा नो प्लास्टिक ज़ोन, कलेक्टर ने दिए निर्देश

 

 

कोरिया एस के मिनोचा। CG कलेक्टर कुलदीप शर्मा की अध्यक्षता में सम्पन्न समय सीमा की बैठक में कलेक्टर ने राज्य शासन की मंशा एवं निर्देश से अवगत कराते हुए जिले में 2 गौठानों का चिन्हांकन करते हुए गौमूत्र की खरीदी की तैयारी शुरू करने के निर्देश दिए। गौमूत्र खरीदी की प्रक्रिया 28 जुलाई से हरेली तिहार के अवसर पर शुरू की जाएगी।

खेती-किसानी में अब जहरीले रसायनों के उपयोग के विकल्प के रूप में गौमूत्र के उपयोग की संभावनाएं बढ़ गई हैं। गौमूत्र संग्रहण कर इसके उत्पाद तैयार किये जायेंगे। इसके लिए कृषि विकास एवं किसान कल्याण तथा जैव प्रौद्योगिकी विभाग की ओर से विस्तृत कार्ययोजना तैयार की गई है। कलेक्टर ने इस संबंध में एसडीएम बैकुंठपुर एवं सोनहत, सीईओ जनपद पंचायत, कृषि, पशुधन विभाग, तथा राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के अधिकारियों को आवश्यक तैयारी करने के निर्देश दिए हैं।

जाति प्रमाण पत्र अभियान की समीक्षा, शासन के निर्देश पर स्कूलों में ही बनेंगे प्रमाण पत्र

कलेक्टर शर्मा ने जिले में चल रहे जाति प्रमाण पत्र अभियान की समीक्षा की। राज्य शासन के निर्देश अनुसार कक्षा 6वीं से 12वीं तक के बच्चों का जाति प्रमाण पत्र स्कूल में ही बनाकर दिय्या जाना है। इसके लिए स्कूल खुलते ही कैम्प लगाकर आवेदन लेना शुरू कर दिया गया है। अब तक 5800 से ज्यादा आवेदन लिए गए हैं और प्रमाण पत्र जारी करने की प्रक्रिया भी शुरू कर दी गयी है। कलेक्टर ने इस कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए।

कलेक्टर ने दिए झुमका आइलैंड को नो प्लास्टिक ज़ोन बनाने के निर्देश

जिला प्रशासन ने डेढ़ महीने के भीतर ही एक उजाड़ टापू को पर्यटन का प्रमुख क्षेत्र बनाया है। झुमका आइलैंड की खूबसूरती देखने दूर-दूर से पर्यटक पहुंच रहे हैं। कलेक्टर शर्मा ने आइलैंड की प्राकृतिक खूबसूरती को संजोए रखने के उद्देश्य से इस क्षेत्र को प्लास्टिक फ्री बनाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि आइलैंड पर प्लास्टिक का सामान इस्तेमाल पर रोक लगाई जाए जिससे प्लास्टिक कचरे की आशंका ना रहे और यहां की सुंदरता बनी रहे।

स्कूलों और तहसील कार्यालयों का होगा औचक निरीक्षण, कलेक्टर ने दिए निर्देश

बैठक में कलेक्टर शर्मा ने स्कूलों में शिक्षकों एवं अन्य स्टाफ की उपस्थिति की समीक्षा करते हुए स्कूलों के औचक निरीक्षण के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जिला स्तरीय अधिकारियों द्वारा किसी भी दिन औचक निरीक्षण किया जाएगा जिसकी रिपोर्ट जिला कार्यालय में दी जाएगी। बिना पूर्व सूचना के अनुपस्थित रहने वालों पर कड़ी कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी।

इसी तरह कलेक्टर ने आगामी माह में स्वयं के द्वारा तहसील कार्यालयों के भी औचक निरीक्षण किये जाने की जानकारी दी। कलेक्टर ने कहा कि पूर्व की भांति तहसील कार्यालयों के निरीक्षण कर ऑनलाइन एवं ऑफलाइन प्रकरणों के निराकरण की समीक्षा की जाएगी।

बैठक में कलेक्टर ने भेंट-मुलाकात कार्यक्रम में मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल द्वारा घोषणा एवं निर्देश पर प्रगति की समीक्षा, वैक्सीनशन अभियान, मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान के क्रियान्वयन आदि की समीक्षा कर आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। बैठक में अपर कलेक्टर सुखनाथ अहिरवार, सभी एसडीएम, सीईओ जनपद पंचायत, एवं जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

 

 

JOIN TCP24NEWS WHATSAPP GROUP

Related Articles

Back to top button