कम होने का नाम नहीं ले रहा उद्धव ठाकरे की मुसीबत, सात और विधायकों ने छोड़ा साथ

 

मुंबई। महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकारी की मुसीबतें कम होने होने का नाम ही नहीं ले रहा है। एकनाथ के खेमे में उद्धव ग्रुप के सात और विधायक शामिल हो गये हैं। पिछले तीन-चार दिन से उपजे महाराष्ट्र संकट खत्म होने का नाम ही नहीं ले रहा है। विवादों के बीच बुधवार रात 9 बजे उद्धव ठाकरे ने सीएम हाउस खाली कर दिया है। खबर आ रही है आज सुबह 3 और विधायक पाला बदलते हुए एकनाथ के साथ गुवाहाटी चले गये हैं।

READ MORE :BIG BREAKING भीषण सड़क हादसा : हाईवे पर दस की मौत, कई गंभीर, बढ़ सकती है मृतकों की संख्या

आपको बता दें कि शिवसेना के वरिष्ठ नेता एकनाथ पिछले कुछ दिनों से कांग्रेस व एनसीपी के साथ हुए गठबंधन को तोड़ने के लिए उद्धव ठाकरे पर लगातार दबाव बना रहे हैं। वहीं इस बीच एकनाथ अपने समर्थित विधायकों के साथ गुवाहाटी पहुंच गये हैं।

READ MORE:अगर खरीदना चाहते हैं सबसे सस्ती इलेक्ट्रीक कार, तो न करें देरी, फीचर जान उड़ जाएंगे होश

आज एकनाथ का पाला थामने वाले विधायकों में कुर्ला के विधायक मंगेश कुदालकर और दादर के विधायक सदा सरवानकर शामिल हैं। जो गुवाहाटी पहुंच गये हैं। इस बीच खबर आ रही है कि उपजे विवादों के बाद उद्धव ठाकरे सीएम नहीं बने रहना चाहते हैं।

 

एनसीपी नेता शरद पवार ने बीच बचाव करते हुए गठबंधन की मीटिंग लेने के बाद बुधवार को उद्धव को सीएम सलाह दिया कि एकनाथ को सीएम बना दिया जाये। ताकि उपजे विवाद का हल निकाला जा सके।

 

शिंदे गुट ने 34 विधायकों के हस्ताक्षर वाली चिट्ठी गवर्नर भगत सिंह कोश्यारी को भेजा है। चिट्ठी में कहा गया है कि एकनाथ शिंदे ही शिवसेना विधायक दल के नेता हैं। भरत गोगावले को नया चीफ व्हिप चुन लिया गया है। शिव सेना ने मंगलवार को शिंदे को विधायक दल के नेता पद से हटा दिया था।

JOIN TCP24NEWS WHATSAPP GROUP

Related Articles

Back to top button