ISRO ने फिर रचा इतिहास, GSAT-24 हुआ लांच, सबसे बड़ा लाभ TATA को

 

नई दिल्ली। अंतरिक्ष में इसरो ने एक बार फिर इतिहास रच दिया है। यूरोपियन स्पेस एजेंसी और एनियन स्पेस की मदद से जी सैट 24 को सफलतापूर्वक अंतरिक्ष में स्थापित कर दिया है। इसका डीटीएच जरुरतों को पूरा करने में सैटेलाइट अखिल भारतीय कवरेज प्रदान करेगा। इस प्रमुख लाभ टाटा ग्रुप को मिलने की उम्मीद जताई जा रही है। खबर है कि इसरो की कॉमर्शियल ब्रांच न्यूस्पेस इंडिया लिमिटेड ने जीसैट-24 उपग्रह को TATA PLAY को लीज पर दे दिया है।

 

READ MORE :Raipur Breaking : छालीवुड कोरियोग्राफर निशांत उपाध्याय का निधन…, सिनेमा जगत में शोक की लहर…

आपको बता दें कि इस सैटेलाइट और उसके सभी उपकरणों को 18 मई 2022 को मालवाहक विमान ग्लोबमास्टर सी-17 के जरिए कौरोउ शिफ्ट कर दिया गया था। जीसैट-24 एक 24-केयू बैंड संचार उपग्रह है, जिसका वजन 4181 किलोग्राम है।

 

खबर है कि जीसैट लगभग 15 सालों तक सर्विस उपलब्ध कराता रहेगा। जीसैट अपनी सर्विस टाटा प्ले को देगा। जिससे सबसे ज्यादा लाभ टाटा को मिलेगा। एरियनस्पेस से यह 25वां भारतीय सैटेलाइट लॉन्च किया है। एरियनस्पेस ने 11 जीसैट-24 सैटेलाइट्स अब तक लॉन्च किए हैं। इसरो और एरियनस्पेस का संबंध 1981 से लगातार बना हुआ है।

 

JOIN TCP24NEWS WHATSAPP GROUP

Related Articles

Back to top button