Morning work : सुबह उठकर करें ये काम,दिन भर रहेंगे स्वस्थ और मस्त, एक क्लिक पर जाने सारे टिप्स

 

नेशनल डेस्क । भागदौड़ वाली लाइफस्टाइल में ज्यादातर लोग अपनी दिनचर्या पर ध्यान नहीं दे पाते हैं. बाहर जाना हो या घर से काम करना हो, हर व्यक्ति किसी ना किसी दबाव से गुजर रहा है. काम की चिंता में हमारा पूरा दिन कैसे निकल जाता है, हमें पता ही नहीं चलता. खासतौर से सुबह के कुछ घंटों में हम क्या करते हैं और अपना समय कैसे बिताते हैं, इन सबका असर हमारे पूरे दिन के रूटीन पर पड़ता है. आयुर्वेद में सुबह के कुछ खास नियम बताए गए हैं जो ना सिर्फ लाइफस्टाइल को बेहतर बनाते हैं बल्कि व्यक्ति में आत्मविश्वास, अनुशासन और संतुलन जैसे गुण भी विकसित करते हैं. इन गुणों की बदौलत आपकी कामयाबी का रास्ता भी खुलता है. आइए जानते हैं इनके बारे में.

read more : इन ड्राई फ्रूट्स को भिगोकर खाना सेहत के लिए है फायदेमंद

सुबह जल्दी उठें

सुबह जल्दी उठें- आयुर्वेद में ब्रह्म मुहूर्त में उठने की सलाह दी गई है यानी कि सूर्योदय के 2 घंटे पहले. इसका कारण ये है कि दिन की शुरुआत करने से पहले अपनी शरीर की सफाई और इस पर ध्यान देने के लिए पर्याप्त समय होता है. अगर आप इतनी जल्दी नहीं उठ सकते हैं तो धीरे-धीरे इसकी आदत डालें. जल्दी ही आपको इसकी आदत पड़ जाएगी.

चेहरे पर पानी डालें

चेहरे पर पानी डालें- सुबह उठने के बाद आपको सबसे पहले अपने चेहरे पर पानी डालना चाहिए. खासतौर से आंखों पर पानी के छीटें डालना आयुर्वेद में एक अच्छी एक्सरसाइज मानी गई है. ध्यान रखें कि ये पानी ना तो ज्यादा ठंडा होना चाहिए और ना ही गर्म. ये पानी कमरे के तापमान पर होना चाहिए.

read more : रोज सुबह करते हैं RUNNING तो भूलकर भी न करें ये गलतियां, सेहत पर पड़ेगा बुरा असर

पेट रखें साफ

पेट रखें साफ- आयुर्वेद में रात में सोने से पहले बाथरूम जाना अच्छा माना जाता है. रात के समय बाथरूम जाने से शरीर से सारे विषाक्त पदार्थ बाहर निकल जाते हैं. आयुर्वेद में एक बार सुबह और एक बार रात में शौच जाने की सलाह दी जाती है. इससे आप सुबह हल्का और स्वस्थ महसूस करते हैं, वहीं रात में पेट साफ होने से नींद अच्छी आती है.

read more :Summer Drinks : 5 सेहतमंद जूस जो गर्मियों में आपको देगी ठंडक और रखेगी तरोताजा

 

दांतों को अच्छे से साफ करें

दांतों को अच्छे से साफ करें- आयुर्वेद में दांत और जीफ साफ करने का खास महत्व है. सुबह उठने के बाद अच्छी तरह से ब्रश करें. मुंह की सफाई पर ज्यादा ध्यान दें क्योंकि मुंह की गंदगी से कई सारे बैक्टीरिया पनपते हैं जो कई बीमारियों को जन्म देते हैं. ब्रश को समय-समय पर बदलते रहना चाहिए. मीठे की बजाय कड़वे टूथपेस्ट से ब्रश करना बेहतर होता है.

गरारा

गरारा- ज्यादातर लोग गले में खराश होने पर ही गरारा करते हैं लेकिन आयुर्वेद के हिसाब से हमें अपने डेली रूटीन में भी गरारा करने चाहिए. गरारा नमक के पानी से किया जाता है और नमक मसूड़ों सहित मुलायम ऊतकों की सफाई करता है.

 

JOIN TCP24NEWS WHATSAPP GROUP

Related Articles

Back to top button