Hanuman Ji Puja Niyam: शनिवार को दूर होंगे सभी कष्ट, हनुमान जी की इस तरह करे पूजा, इन बातों का रखे विशेष ध्यान

 

रायपुर। शनिवार का दिन भगवान हनुमान जी क समर्पित है। आज दिन प्रभु की विधिवत पूजा करने से भक्तों को विशेष लाभ मिलता है। शास्त्रों के अनुसार शनिवार को केवल हनुमान चालीसा के जाप मात्र से लोगों की समस्या हमेशा के लिए दूर हो जाती है। अगर आपके जीवन में ढेरों समस्या है तो आज हम आपको हनुमान जी की पूजा करने का तरीका बता रहे है। इससे प्रभु प्रसन्न होते है। आइये जानते है पूजा के वक्त किन चीज़ों का विशेष ध्यान देना है.

 

हनुमान जी पूजा के नियम

1. हनुमान जी की पूजा या फिर विशेष अनुष्ठान सुबह या शाम के समय ही किए जाने चाहिए.

हनुमान जी की पूजा में इस्तेमाल किए जाने वाले फूलों का रंग हमेशा लाल होना चाहिए.

3. बजरंग बली के लिए दीपदान करने वाली बाती हमेशा लाल सूत (धागे) की होनी चाहिए.

4. अगर आप हनुमान जी की पूजा का कोई उपाय शुरू करते हैं या फिर कोई अनुष्ठान शुरु करते हैं तो अगर वे मंगलवार के दिन से प्रारंभ किया जाए, तो अच्छा होता है.

5. भगवान की उपासना के लिए किसी शुभ मुहूर्त की जरूरत है. इसके लिए मंगलवार का दिन ही सर्वश्रेष्ठ है.

6  मान्यता है कि हनुमान जी की साधना करते समय ब्रह्मचर्य व्रत का पालन करना जरूरी होता है.इसलिए जब तक हनुमान जी की साधना करें तब तक मन में कामुक विचार न आने दें.

7. मंगलवार के दिन पवनपुत्र की पूजा करने वाले भक्तों को मांस-मदिरा का सेवन बिल्कुल नहीं करना चाहिए.

8. हनुमान जी की पूजा में चरणामृत का इस्तेमाल न करें क्योंकि बजरंग बली की पूजा में चरणामृत का विधान नहीं है.

संकटमोचन की पूजा के समय महिलाएं हनुमान जी की मूर्ति को बिल्कुल स्पर्श न करें. खासतौर से रजस्वला होने पर.

10. हनुमान जी पर चढ़ाया जाने वाला प्रसाद शुद्ध देसी घी से बना हुआ होना चाहिए.

JOIN TCP24NEWS WHATSAPP GROUP

Related Articles

Back to top button