#saverahulabhiyaan: चुनौतियां चट्टानी थीं, तो ज़िद भी आसमानी थीं, जीता राहुल, जीता छत्तीसगढ़…

 

#saverahulabhiyaan:

 

 

रायपुर, #saverahulabhiyaan: जहां कल रात राहुल को 104 घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद 60 फ़ीट गहरे बोरवेल से निकाल लिया गया, वही घटनास्थल पर इस ऑपरेशन के पूरा होने तक कलेक्टर जितेंद्र कुमार शुक्ला, पुलिस अधीक्षक विजय अग्रवाल सहित तमाम अफसर रात भर घटनास्थल पर रेस्क्यू पर निगरानी रखे हुए थे। #saverahulabhiyaan जिसके बाद आज CM ने CMO छत्तीसगढ़ से पुरे घटना का एक वीडियो शेयर किया जिसमे शुरू से लेकर अंत तक मंजर दर्शाया गया है.

कलेक्टर शुक्ला ने कहा कि बोरवेल में फँसे होने की वजह से बालक का रेस्क्यू बहुत ही आसान काम नहीं था। सभी की कोशिश थी कि उन्हें सुरक्षित निकाला जाए। विपरीत परिस्थितियों के कारण जो भी संभव था वह फ़ैसला एनडीआरएफ और परिजनों के साथ मिलकर लिए गए।

बता दे कि जांजगीर-चांपा जिले के पिरहिद गांव में बीते शुक्रवार की दोपहर अपने ही घर के बोरवेल में गिरे 11 साल के राहुल को 105 घंटे रेस्क्यू ऑपरेशन के बाद सकुशल बाहर निकाला गया है. वहीं आज सीएम भूपेश बघेल आज राहुल से मिलने अस्पताल जाएंगे. बघेल फिलहाल दिल्ली में हैं. यहां से वह सीधे राहुल से मुलाकात करने शाम को बिलासपुर स्थित अपोलो अस्पताल पहुंचेंगे और उनके परिजन से भी मुलाकात करेंगे.

 

JOIN TCP24NEWS WHATSAPP GROUP

Related Articles

Back to top button