Naxalities Surrender : बिहार झारखंड के तीन हार्डकोर नक्सली ने सीआरपीएफ और पुलिस के समक्ष किया आत्मसमर्पण

 

जमुई, धीरज कुमार सिंह। पुलिस लाइन में तीन हार्डकोर नक्सली ने आत्मसमर्पण Naxalities Surrender किया है। तीनो हार्डकोर नक्सलियों के ऊपर पुलिस ने इनाम घोषित कर रखा था। नक्सली नागेश्वर कोड़ा पर पुलिस ने एक लाख का इनाम रखा था। वही बालेश्वर कोड़ा पर 50000 और अर्जुन कोड़ा पर भी 50000 का इनाम घोषित कर रखा था।

तीनों हार्डकोर नक्सलियों ने सीआरपीएफ के चोर मारा कैंप में आज सुबह हथियार के साथ आत्मसमर्पण Naxalities Surrender कर दिया है। तीनों नक्सलियों ने पुलिस लाइन में हुए आत्म समर्पण समारोह में हथियारों के साथ आत्मसमर्पण किया है। तीनों नक्सलियों ने डीआईजी मुंगेर रेंज संजय कुमार, डीआईजी मुजफ्फरपुर रेंज विमल कुमार बिष्ट, पुलिस अधीक्षक जमुई शौर्य सुमन, सीआरपीएफ के वरीय पदाधिकारी केएसपी ओंकार सिंह लाइन डीएसपी आशीष कुमार सिंह एवं पुलिस के वरीय अधिकारियों के समक्ष आत्मसमर्पण किया है।


आपको बताते चलें कि पुलिस और सीआरपीएफ की टीम द्वारा लगातार नक्सलियों के धरपकड़ के लिए जंगलों में सर्च अभियान चलाया जा रहा है। पुलिस द्वारा लखीसराय-जमुई सीमा पर चौरमारा ,बरमसिया ,कुमारतरी सहित नारोंकोल के जंगलों में में बीती रात सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा था।

Read More  : chhattisgarh naxalites: छत्‍तीसगढ़ के बीजापुर और सुकमा की सीमा पर नक्‍सलियों ने सुरक्षाबलों पर की फायरिंग, मुठभेड़ के बाद हथियार बरामद

 

इसी दौरान अपने आप को सुरक्षाबलों से घिरे होने की आशंका और पुलिस एनकाउंटर के डर से नक्सलियों ने आत्मसमर्पण किया है। बता दें बिहार झारखंड के नक्सली हेड कमांडर प्रवेश दा के तीन करीबी नक्सली कमांडर है, बालेश्वर कोड़ा नक्सली संगठन का जोनल कमांडर बताया जाता है।

 

Read More  : Sukam Naxal News: सुकमा में सुरक्षाबलों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़, इधर भेज्जी मार्ग पर नक्‍सलियों ने लगाया आइइडी, पुल क्षतिग्रस्‍त

 

बालेश्वर कोड़ा के इशारे पर जमुई लखीसराय और मुंगेर में सक्रिय नक्सली घटनाओं को अंजाम देते थे। जबकि अर्जुन कोड़ा और नागेश्वर कोड़ा नक्सलियों को गोरिल्ला युद्ध की ट्रेनिंग देने का काम करता था। बता दें कि 8 जून को विद्धेश्वर थाना क्षेत्र के जंगल में मुठभेड़ के दौरान सुरक्षाबलों ने नक्सली संगठन के सब जोनल कमांडर मतलु तुरी को मार गिराया था, जिसके बाद अलग-अलग थाना इलाके में सुरक्षाबलों द्वारा स्वच्छ अभियान चलाया जा रहा था। Naxalities Surrender

जमुई लखीसराय मुंगेर के जंगलों में चारों तरफ से सुरक्षाबलों ने सर्च अभियान लगातार कर रहे थे। बालेश्वर कोड़ा अर्जुन कोड़ा नागेश्वर कोड़ा पर जमुई लखीसराय मुंगेर के कई थानों में कई नक्सली घटनाएं व दर्जनों अपराधिक मामले दर्ज हैं। इसके अलावा पुलिस और सीआरपीएफ द्वारा निरंतर नक्सली क्षेत्र में सिविक एक्शन प्रोग्राम चलाकर नक्सलियों को मुख्यधारा में वापस लौटने के लिए लगातार अपील किया जा रहा था। Naxalities Surrender

Read More  : Bastar Naxalites: नक्सलियों की हुकूमत को मात देने ग्रामीणों के साथ खड़ा सुरक्षा बल, नक्सलगढ़ में किया विकास, जंगल में 40 से ज्यादा कैंप की स्थापना

 

इनके आत्मसमर्पण कर Naxalities Surrender देने के बाद जमुई मुंगेर लखीसराय क्षेत्र में नक्सलियों की कमर टूट चुकी है। जमुई पुलिस के लिए यह बहुत बड़ी सफलता है। Naxalities Surrender

 

 

 

JOIN TCP24NEWS WHATSAPP GROUP

Related Articles

Back to top button