Suicide : बीए के छात्र ने इंस्टाग्राम पर चलाया मेनू माफ करिए माँ… मैं इस जनम में तेरा न हो पाया, फिर मौत को लगा लिया गले…

Suicide
Suicide

 

लखनऊ Suicide उत्तरप्रदेश (Uttar Pradesh) के बीसलपुर जिले के खांडेपुर (Khandepur) गांव के निवासी BA के छात्र ने मामूली बात से नाराज होकर आत्महत्या कर ली है। उन्होंने Instagram पर लगातार छह पोस्ट करने के बाद बीए के छात्र ने जहर खाकर जान दे दी। जानकारी के अनुसार युवक प्रेम प्रसंग के कारण depression से जूझ रहे थे। Suicide उनके आस पास के लोगो की माने तो परिवार का कहना है कि पढ़ाई को लेकर पिता की डांट के बाद छात्र ने यह कदम उठाया। गंभीर हालत में उसे जिला अस्पताल लाया गया पर रास्ते में ही छात्र ने दम तोड़ दिया।

Read More : SUICIDE BREAKING : घर वालों ने गेम खेलने से मना किया तो नाराज युवती ने लगा ली फांसी

 

आखिरी पोस्ट में उसने लिखा- सॉरी मम्मी-पापा मैं जा रहा हूं। Suicide उन्होंने एक पोस्ट में गाने ‘मैनू माफ करिए मां मेरी… मैं इस जन्म में तेरा हो न पाया’, का मेंशन किया। कोतवाली बीसलपुर (Kotwali Bisalpur) के गांव खांडेपुर निवासी अंकित कुमार (Ankit Kumar) 20 साल, बरेली के एक कॉलेज में बीए का छात्र था। अंकित के चाचा पवन पटेल (Pawan Patel) ने बताया कि अंकित का पढ़ाई में मन नहीं लगता था। Suicide इसी बात को लेकर शुक्रवार (Friday) सुबह नौ बजे उसके पिता ने उसे डांट दिया। इससे नाराज होकर अंकित बीसलपुर चला आया और बस स्टैंड के पास सुबह 11 बजे उसने जहर खा लिया।

Read More : Suicide : खण्डहरनुमा मकान में युवक का शव फांसी पर लटका मिला, पुलिस जांच में जुटी…

 

अंकित ने मौत से पहले Instagram पर अपनी बात कहने का प्रयास करते हुए कई स्टोरी वायरल की थीं। Suicide पहली स्टोरी में उसने लिखा मूड ऑफ है, बहुत ज्यादा परेशान हूं जिंदगी से, कल जा रहा हूं भगवान के पास। दूसरी स्टोरी में दिखाया जा रहा है कि एक युवक पेड़ के पास बैठा है। लव सांग बज रहा है और युवती कह रही है कि कहीं एक दिन ऐसा न हो जाए कि तुम मुझे ढूंढते रह जाओ और युवक को धक्का दे देती है मगर युवक मृत मिलता है।

Read More : Suicide : एसआई ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, सुसाइड नोट बरामद…

 

तीसरे सीन में युवक का रोता हुआ चेहरा है और दिल टूटा..सांग बज रहा है। Suicide चौथे सीन में युवक मृत होता है और युवती उसके चेहरे को पकड़कर रोती दिख रही है। पांचवें सीन में जिंदगी के लास्ट दिन का मेसेज है। चांद कहां सुबह को छोड़कर…गीत बज रहा है। छठे सीन में सॉरी मम्मी पापा मै जा रहा हूं और मैनू माफ करिए मां मेरी… मैं इस जन्म में तेरा हो न पाया… गीत बज रहा है।

JOIN TCP24NEWS WHATSAPP GROUP

Related Articles

Back to top button