Jyotish Shastra: सूर्य चालीसा के पाठ से आती है जीवन में सुख और समृद्धि, आज ही शुरू करें

रायपुर। अगर किसी जातक की कुंडली में सूर्य कमजोर है तो उसे अनेक समस्याओं का सामना करना पड़ता है। वहीं जिस जातक की कुंडली में भगवान सूर्यनारायण की स्थिति मजबूत हो तो उसकी कीर्ति चारों दिशाओं में फैलती है। वहीं जो व्यक्ति सूर्यदेव की पूरे विधि विधान से पूजा-उपासना करता है और सूर्य चालीसा का पाठ करता है तो उसका जीवन सुख और समृद्धि (life happiness and prosperity ) से भर जाता है।

read more : Rashifal Today 28 May 2022 : इन राशि वालो पर होंगे शनिदेव मेहरबान, जानिए कैसा रहेगा आपका दिन

ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक, हिन्दू (Hinduism) धर्म में हर देवता का अपना एक अलग महत्व (importance)  होता है। वहीं सप्ताह का प्रत्येक दिन किसी विशेष देवता के लिए समर्पित होता है, यानि प्रत्येक दिन पर किसी विशेष देवी-देवता की पूजा-अर्चना की जाती है और उनका आशीर्वाद प्राप्त किया जाता है। वैसे तो हिन्दू धर्म के अनुसार, रविवार का दिन सूर्यदेव को समर्पित होता है, लेकिन सूर्यदेव की उपासना (Jyotish Shastra)  प्रतिदिन भी की जा सकती है।

read more : Exclusive: एक डॉ. अपनी किस्मत लिखता था हर शनिवार…जानें कैसे बने प्रदेश के मुखिया…

वहीं आप लोगों को प्रतिदिन सूर्य से जुड़े कुछ उपाय भी करने चाहिए। जिन लोगों को दीर्घायु की इच्छा हो तो वे लोग सूर्य चालीसा का पाठ करें। यदि आपके लिए प्रतिदिन सूर्य चालीसा (Jyotish Shastra) का पाठ संभव ना हो तो आप सप्ताह में सिर्फ रविवार के दिन भी सूर्य चालीसा का पाठ कर सकते हैं। इससे आपको लंबी उम्र प्राप्त होती है। सूर्य चालीसा का नियमित रूप से पाठ करने से शारीरिक-मानसिक कष्टों के साथ-साथ अन्य सभी प्रकार के कष्ट दूर हो जाते हैं। सूर्य चालीसा का पाठ करने से व्यक्ति सभी रोगों से मुक्त हो जाता है और साथ ही आरोग्य जीवन प्राप्त करता है। सूर्य चालीसा का नियमित रूप से पाठ करने से अकाल मृत्यु के योग टल जाते हैं।

 

JOIN TCP24NEWS WHATSAPP GROUP

Related Articles

Back to top button