Big Breaking: पूर्व IAS व भाजपा नेता OP चौधरी पर FIR दर्ज, पहले भी रह चुके है विवादों में…

 

 

रायपुर, Big Breaking: पूर्व आईएएस ओपी चौधरी के खिलाफ बड़ा मामला सामंने आया है। पूर्व रायपुर कलेक्टर के खिलाफ कोरबा में अपराध पंजीबद्ध किया गया है। भाजपा नेता पर यह मामला गेवरा माइंस में कोयला चोरी की फर्जी वीडियो सोशल मीडिया में वायरल करने के चलते दर्ज किया गया है। Big Breaking

उक्त वीडियो को फर्जी बताते हुए बांकीमोंगरा निवासी मधुसूदन दास यादव ने रिपोर्ट दर्ज कराया है। पूर्व आईएएस ओपी चौधरी के विरूद्ध धारा 505 (1) (बी) भादवि के तहत बांकीमोंगरा थाना में अपराध पंजीबद्ध किया गया है।

 

पूर्व आईएएस ओपी चौधरी इन प्रदेश में भाजपा सरकार के कार्यकाल के दौरान आईएएस का पदभार छोड़ राजनीती में कदम रखा था। उनका राजनितिक सफर भी विवादित रहा है, उन पर साल 2019 वह दंतेवाड़ा जिला कलेक्टर के पद पर पदस्थ थे, इस दौरान उनपर जमीन के अदला बदली को लेकर मामला आरोप लगे थे। मामला हाईकोर्ट तक जा पहुंचा था।

प्रवर्तन निदेशालय ने पटना मेडिकल कॉलेज अस्पताल के पूर्व अधीक्षक ओपी चौधरी के खिलाफ संशोधन संबंधी जांच में तीन करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति जब्त की है। ओपी चौधरी पर साल 2008-09 और 2009-10 के दौरान पीएमसीएच में दवा और अन्य उपकरणों से संबंधित खरीद में भ्रष्टाचार करने का आरोप है। इस मामले में निदेशालय द्वारा कई बार पहले भी पूछताछ भी हुई थी। साल 2016 में 12 करोड़ के दवा टेंडर घोटाला में पूर्व आईएएस ओपी चौधरी से ईडी ने पूछताछ भी की थी।

 

JOIN TCP24NEWS WHATSAPP GROUP

Related Articles

Back to top button