नेशनल पावरलिफ्टिंग चौंपियनशिप : स्वर्ण जीतकर महिला शक्ति ने बढ़ाया जिले का मान, कलेक्टर ने दी बधाई

कोरिया एसके मिनोचा। National Powerlifting Championship नेशनल पावरलिफ्टिंग चौंपियनशिप में जीत दर्ज कर महिला शक्ति ने जिले का मान बढ़ाया है।

 

कोरिया एसके मिनोचा। National Powerlifting Championship नेशनल पावरलिफ्टिंग चौंपियनशिप में जीत दर्ज कर महिला शक्ति ने जिले का मान बढ़ाया है। इनमें पेशे से पटवारी आशा भगत, व्याख्याता शालिनी खलखो और गृहणी आशा मिंज शामिल हैं। कलेक्टर कुलदीप शर्मा ने आज तीनों विजेताओं से मुलाकात कर उन्हें बधाई दी।

Read More : Chhattisgarh Ministry Peon Recruitment: लोक सेवा आयोग ने जारी किया नोटिफिकेशन, CG मंत्रालय में निकली चपरासी के पदों पर बम्पर भर्ती…

उन्होंने तीनों के अब तक के सफर पर बात की और कहा कि आप सभी हर जिलेवासी के लिए प्रेरणा है। कलेक्टर ने खेल अधिकारी को आगामी महीनों में जिले में विभिन्न खेलों में प्रतियोगिताएं कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि विकासखंड स्तर से जिला स्तरीय तक प्रतियोगिताएं करें, जिससे अन्य खेलों के भी खिलाड़ियों को अपना बेहतर प्रदर्शन दिखाने का अवसर मिले।

ये हैं हमारी वीमेन पावर –
पॉवरलिफ्टिंग 58 किग्रा कैटेगरी में विजेता पेशे से पटवारी आशा भगत बताती हैं कि बतौर राजस्व कर्मचारी काम के बीच वक़्त निकालना थोड़ा मुश्किल रहा। उनका ये सफर वजन कम करने के साथ शुरू हुआ था, धीरे-धीरे उनमें रुचि जगी और उन्होंने पॉवरलिफ्टिंग का प्रशिक्षण लेने शुरू किया। बेहतर तैयारी के साथ आज उन्होंने जीत हासिल की है। पॉवरलिफ्टिंग 72 किग्रा कैटेगरी में विजेता रही आशा मिंज गृहणी हैं।

Read More : CG : नवसंकल्प शिविर में कई महत्वपूर्ण विषयों पर आज होगी चर्चा, PCC चीफ मोहन मरकाम ने कहा केंद्र के खिलाफ….

घर-परिवार की जिम्मेदारी के साथ ही उन्होंने अपने पैशन को भी बखूबी बनाये रखा है। मायके और ससुराल दोनों परिवारों से भरपूर सहयोग मिला जिसने आशा को हमेशा आगे बढ़ने को प्रेरित किया। डेडलिफ्ट 72 किग्रा कैटेगरी में ही विजेता रही शालिनी खलखो शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय कुड़ेली में व्याख्याता हैं। इसके साथ ही वे एक मां भी हैं। घर और पेशे की जिम्मेदारियों के साथ शालिनी ने अपनी पहचान बनाने के जुनून को भी जगाए रखा और आज उन्होंने ये मुकाम हासिल किया है।

JOIN TCP24NEWS WHATSAPP GROUP

Related Articles

Back to top button