गांव की बेटियों ने मारी बाजी : अब हवाई सफर का इंतजार, असुविधा होने के बाद भी इस तरह किया टॉप

 

रायपुर। छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने शनिवार को 10वीं और 12वीं का एग्जाम जारी कर दिया है।  इस बार भी प्रदेश में बेटियों ने ही टॉप लिस्ट में जगह बनाई है। रिजल्ट जारी करने के बाद शिक्षा डॉ प्रेम सहाय सिंह टेकाम ने विद्यार्थियों ने को शुभकामाएं दी है वही एग्जाम में असफल हुए छात्रों को फिर दोगुना मेहनत कर आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया।  कोरोना के बाद शिक्षा बोर्ड ने पहली बार ऑफ़लाइन एग्जाम आयोजित किया था। 12वीं  की परीक्षा में बालोद जिले रितेश साहू 95.60 प्रतिशत प्राप्त कर प्रथम स्थान पर जगह बनाई। इसके अलावा बलौदाबाजार से संजना वर्मा ने 94.20 प्राप्त कर दूसरे स्थान हासिल किया।  इस बार भी प्रदेश के छोटे गाँव से छात्रों की मेहनत रंग लाई है।  शहर में सुख सुविधा के साथ पढ़ने वाले छात्र फिर पीछे रह गए।

 

मुंडका अग्निकांड : अग्निशमन विभाग ने 27 शव बरामद किए, 12 से अधिक आग में झुलसे, 2 मालिकों गिरफ्तार

 

10वीं और 12वीं कक्षा की परीक्षा में उत्तीर्ण सभी विद्यार्थियों को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बधाई व शुभकामनाएं दी। साथ ही उन्होंने सभी उत्तीर्ण छात्रों के उज्जवल भविष्य की कामना की व आशानुरूप नतीजे प्राप्त न कर सके विद्यार्थीयों को भी जमकर मेहनत करने का दिया संदेश।  कक्षा 12वीं में छात्रों का कुल पास प्रतिशत 79.30% रहा है जबकि 10वीं में 74.23 प्रतिशत छात्र पास हुए हैं. 

 

रिजल्ट जारी होते ही छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा बोर्ड का आधिकारिक वेबसाइट क्रैश..

 

10वी के छात्रों के लिए बोर्ड एग्जाम कठिन रहा। दो साल कोरोना के चलते ऑनलाइन पढाई के बाद सीधे बोर्ड एग्जाम देने स्कूल पहुंचे थे।  ऐसे छात्रों डरे हुए थे।  शिक्षा मंडल के अधिकारियों का  कहना है,  कोरोना के चलते हमने सिलेबस कम कर दिया था. ऐसे में छात्रों को थोड़ी राहत तो जरूर मिली है।  इस परिणाम से सभी छात्र संतुष्ट है।

 

केंद्र सरकार ने गेहूं के निर्यात पर लगाया बैन, सिर्फ इन देशो में भेजा जायेगा अनाज..

 

 

 

मिडिया से बातचीत करते हुए मंत्री डॉ प्रेम सहाय सिंह टेकाम ने  कहा, विद्यार्थी के मेहनत का परिणाम उन्हें मिला है।  कोरोना के समय सभी घर में रहकर पढाई कर अच्छे अंकों से एग्जाम में सफल हुए उन्हें है सभी को बधाई आने वाली एग्जाम में इसी तरह सफलता मिले। बता दे, रिजल्ट जारी होने के बाद हैवी ट्रैफिक की वजह से आधिकारिक वेबसाइट डाउन या क्रैश होने की वजह से नहीं खुल रही है. ऐसे में छात्रों को सलाह दी जाती है कि वो तो घबराए नहीं, थोड़ा इंतजार करने के बाद फिर से वेबसाइट पर विजिट करे। रायगढ़ की पटेल ने और 12वीं में बालोद के रितेश कुमार साहू ने टॉप किया है. 12वीं छात्रों का कुल पास प्रतिशत 79.30% रहा है, इसमें लड़कियों का पास प्रतिशत 81.15 रहा जबकि लड़कों का पास प्रतिशत 77.03% रहा है. बोर्ड मैट्रिक और इंटरमीडिट दोनों के बोर्ड रिजल्ट एक साथ जारी किए हैं. इस साल छत्तीसगढ़ 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा में 8 लाख से ज्यादा छात्र उपस्थित हुए थे

 

IPL -2022 : विराट का ख़राब फॉर्म जारी, आउट होने के बाद दी ऐसी प्रतिक्रिया, पवेलियन में भी दिखे हतास

 

12वीं की परीक्षा में इस बार रायपुर में 30 हजार 750 समेत प्रदेशभर में दो लाख 93 हजार 425 परीक्षार्थी शामिल हुए हैं। इनमें दो लाख 89 हजार 808 परीक्षार्थी नियमित हैं। जबकि तीन हजार 617 प्राइवेट परीक्षार्थी शामिल हुए हैं। रायपुर में 425 समेत प्रदेशभर के 6,743 केंद्रों पर परीक्षा आयोजित की गई थी।12वीं बोर्ड परीक्षा में यदि पिछले सालों के आंकड़ों को देखें तो बालिकाएं आगे ही रहीं हैं।मेहनत और पढ़ाई के प्रति ललक के साथ गंभीरता अधिक होने से बालिकाएं यह साबित कर रही हैं कि वह भी बुद्धिमत्ता के मामले में बालकों के बराबर ही हैं।

 

 

https://www.youtube.com/watch?v=A1cvd6h5qeY

 

Back to top button