अब फीस नहीं बढ़ा सकेंगे निजी स्कूल, एक्शन मोड में दिखे CM… 

 

 

पंजाब के CM भगवंत मान ने बुधवार को शिक्षा के क्षेत्र में दो बड़े फैसले लिए हैं. उन्होंने निजी स्कूलों के फीस बढ़ाने पर पाबंदी लगा दी है. यानी इस सत्र में होने वाले एडमिशन में फीस बढ़ाने की अनुमति नहीं होगी. साथ ही दूसरा बड़ा फैसला ये लिया है कि कोई भी स्कूल किसी खास दुकान से बुक और ड्रेस खरीदने के लिए नहीं बोलेगा. माता-पिता बच्चे के लिए अपनी सहूलियत के हिसाब से किताब-ड्रेस किसी भी दुकान से खरीद सकेंगे.

 

READ MORE:Chaitra Navratri Vrat: अगर रख रहे नवरात्री में व्रत, तो जरूर ट्राई करें हेल्दी स्नैक्स, नहीं होगा कमजोरी का अहसास…

 

पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने निजी स्कूलों को स्कूल फीस बढ़ाने पर रोक लगा दी है. पंजाब सरकार एक नीति लेकर आएगी, जिसे माता-पिता की सहमति से तैयार किया जाएगा. निजी स्कूलों को भी अनुशंसित किताब की दुकान से माता-पिता को किताबें और अन्य सामान खरीदने के लिए मजबूर करने की अनुमति नहीं होगी. अभिभावक अपनी पसंद की दुकानों से पाठ्य पुस्तकें व अन्य स्टेशनरी सामग्री खरीदने के लिए स्वतंत्र होंगे.

भगवंत मान ने ट्वीट कर कहा कि पंजाब में शिक्षा इतनी महंगी हो गई कि आम लोगों की पहुंच से दूर होती जा रही है, इसलिए आज हमने फैसला लिया है कि कोई प्राइवेट स्कूल इस सेशन में फीस नहीं बढ़ा सकेगा और किसी एक दुकान से किताबें खरीदने के लिए मजबूर नहीं करेगा. हम मनुष्य के तीसरे नेत्र विद्या को व्यापार नहीं बनने देंगे.

 

 

 

 

इससे पहले पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने सोमवार को फिर बड़ा ऐलान किया था. उन्होंने दिल्ली की तर्ज पर पंजाब में भी राशन की डोर टू डोर राशन डिलीवरी का ऐलान किया था. यानी अब सरकार घर घर में राशन की डिलीवरी कराएगी.

भगवंत मान ने कहा, सरकार ने फैसला किया है कि राशन की घर घर डिलीवरी कराई जाएगी. हालांकि, यह योजना विकल्प के तौर पर रहेगी. हमारे अफसर फोन करके डिलीवरी का समय पूछेंगे. उसी समय राशन की डिलीवरी कराई जाएगी.

 

 

भगवंत मान ने विधायकों की पेंशन में किया बदलाव-

 

सत्ता संभालने के बाद से भगवंत मान एक के बाद कर बड़े फैसले कर रहे हैं. इससे पहले शुक्रवार को भगवंत मान ने विधायकों की पेंशन में बड़ा बदलाव करने का ऐलान किया था. मान के मुताबिक, अब से विधायकों को एक बार पेंशन मिलेगी. अब तक जितनी बार कोई विधायक बनता था, पेंशन की राशि जुड़ती जाती थी. इतना ही नहीं मान ने विधायक के परिवार को मिलने वाली पेंशन में भी कटौती करने का ऐलान किया था. मान ने कहा था कि इस फैसले से जो करोड़ों रुपए बचेंगे, उन्हें गरीब कल्याण में लगाया जाएगा.

 

 

READ MORE:Punjab Election : अमरिंदर सिंह का बड़ा ऐलान, पंजाब में बीजेपी के साथ मिलकर लड़ेंगे चुनाव

 

 

 

सीएम बनने के बाद मान ने किए ये बड़े ऐलान

– भगवंत मान ने पंजाब में मंत्रिमंडल विस्तार के बाद पहली बैठक में सरकारी विभाग में रिक्त 25000 पदों पर भर्तियां निकालने का ऐलान किया था.
– पंजाब में भगत सिंह की डेथ एनिवर्सरी 23 मार्च को हर साल छुट्टी का ऐलान. इतना ही नहीं उन्होंने ऐलान किया था कि पंजाब विधानसभा परिसर में डॉ भीमराव अंबेडकर और शहीद भगत सिंह की प्रतिमा लगेगी.
– पंजाब में 35000 संविदा कर्मचारियों को स्थाई किया जाएगा.
– सीएम भगवंत मान ने पंजाब में सरकारी अधिकारी या कर्मचारी द्वारा रिश्वत मांगने पर उसकी शिकायत के लिए हेल्पलाइन नंबर 9501 200 200 जारी किया है.

 

 

Related Articles

Back to top button