Dawood money laundering case : आज सुनाएगा बॉम्बे हाईकोर्ट नवाब मलिक की याचिका पर अपना फैसला

 

 

 

 

मुंबई| महाराष्ट्र के मंत्री और (NCP) एनसीपी नेता नवाब मलिक (Nawab Malik) की याचिका पर (Bombay highcourt) बॉम्बे हाईकोर्ट आज अपना फैसला सुनाएगा| (Money laundering case) मनी लॉन्ड्रिंग केस में नवाब मलिक ने उनके खिलाफ दर्ज कि गई FIR को रद्द करने की याचिका दायर की थी, जिसका आज फैसला आना है| नवाब मलिक ने अपनी इस अर्जी में कहा है कि प्रवर्तन निदेशालय (ED) की उनके खिलाफ की गई कार्रवाई गलत और गैरकानूनी है|

 

Read more : Birthday Special: जब करियर की टॉप पर आ कर अचानक गायब हो गए हनी, मौत की उड़ चुकी है…

 

 

बताते चलें कि नवाब मलिक को मुंबई की एक विशेष अदालत ने 7 मार्च को 14 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में लेने के आदेश दिए थे| विशेष पीएमएलए अदालत ने अंडरवर्ल्ड डॉन (Dawood Ibrahim) दाऊद इब्राहिम से जुड़े (Money laundering case) मनी लॉन्ड्रिंग मामले में नवाब मलिक के खिलाफ यह कार्रवाई की थी| ज्ञात हो कि नवाब मलिक को 23 फरवरी को मनी लॉन्ड्रिंग मामले में गिरफ्तार किया था|

 

Read more : आज विधानसभा में विपक्ष उठाएगा अवैध रेत परिवहन का मुद्दा, मुख्यमंत्री वार्षिक प्रतिवेदन करेंगे पेश

 

 

इससे पहले 3 मार्च को हुई सुनवाई के दौरान स्पेशल कोर्ट ने उनकी हिरासत अवधि बढ़ाकर 7 मार्च तक कर दी थी| ED ने 23 फरवरी को नवाब मलिक को उनके घर से हिरासत में लिया था| राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) की 3 फरवरी की प्राथमिकी के आधार पर फरार अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम के खिलाफ कथित मनी-लॉन्ड्रिंग मामले में नवाब मलिक को हिरासत में लिया गया था|

 

Read more : आज विधानसभा में विपक्ष उठाएगा अवैध रेत परिवहन का मुद्दा, मुख्यमंत्री वार्षिक प्रतिवेदन करेंगे पेश

 

 

(ED) ईडी के अनुसार नवाब मलिक ने कथित तौर पर दाऊद इब्राहिम गिरोह के सदस्यों के साथ मिलकर कुर्ला, गोवावाला कंपाउंड में एक महिला की पुश्तैनी संपत्ति को हड़पने की साजिश रची, और जिसके लिए रकम काम दी जा रही थी| जबकि, इसकी कीमत लगभग 300 करोड़ रुपये थी| 20 साल से ज्यादा पुराने इस मामले का नवंबर 2021 में महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने खुलासा किया था|

 

JOIN TCP24NEWS WHATSAPP GROUP

Related Articles

Back to top button