वन विभाग की गिरफ्त में आए तीन संदिग्ध शिकारी, स्कॉर्पियो, राइफल व अन्य सामग्री जप्त

 

एस के मिनोचा,अनूपपुर। वन मंडल एवं वन परिक्षेत्र अनूपपुर के जमुड़ी बीट अंतर्गत शहडोल अमरकंटक मुख्य मार्ग के मध्य कक्ष क्रमांक आर,एफ, 380 के वनक्षेत्र में मध्य रात्रि रात्रि गश्त के दौरान अनूपपुर मंडल अधिकारी डॉ. ए ए अंसारी ने एक स्कॉर्पियो वाहन क्रमांक CG13 UC 7304 के साथ तीन अन्य व्यक्तियों को संदिग्ध स्थिति में देखकर वन अमले को सूचित कर पूछताछ के लिए पकड़ा जिसमे शिकार के प्रयास के संदिग्ध तीन आरोपियों के पास से एक राइफल 25 जिंदा कारतूस एवं एक खाली कारतूस दो चाकू,एक गडासा एवं एक एयर बैग जिसमें खून लगा था को बरामद किया इस दौरान संदिग्ध शिकार के आरोपी सोहराव फिरदौसी पिता अबरार अहमद 32 साल,वकील पिता मोहम्मद हुसैन फिरदौसी उम्र 33 वर्ष, आरिफ पिता कासिम फिरदौसी 35 वर्ष सभी निवासी नवागढ़ थाना अंबिकापुर जिला सरगुजा छत्तीसगढ़ के विरूद्ध वन अपराध क्रमांक 4498/21 दर्ज कर वन्यप्राणी संरक्षण अधिनियम 1972 की धारा 2, 9,16.(ए)(बी) 50 एवं 51 के तहत कार्यवाही की गई पकड़े गए संदिग्ध आरोपियों के और अन्य अपराधों में सम्मिलित होना समझ कर वन विभाग द्वारा डॉग स्कॉट शहडोल की मदद से वन क्षेत्र का परीक्षण कराया जा रहा है.

 

आरोपियों की चिकित्सकीय जांच पश्चात न्यायालय में पेश किया गया,इस दौरान उप वन मंडलाअधिकारी अनूपपुर के बी सिंह वन परिक्षेत्र अधिकारी अनूपपुर पंकज कुमार शर्मा,परिक्षेत्र सहायक किरर रिचर्ड रेगीराव,परिक्षेत्र सहायक अनूपपुर संतोष श्रीवास्तव,वन चौकी किरर प्रभारी विनोद कुमार मिश्रा के साथ वनरक्षक नर्मदा प्रसाद पटेल,बाल सिंह,राजमणि सिंह,हरिनारायण पटेल,रोहित उपाध्याय,रामेश्वर पटेल,हरिशंकर महरा,सुरेश प्रजापति,रईस खान दिनेश राैतेल एवं राकेश राैतेल पूरी कार्यवाही में सामूहिक रुप से सम्मिलित रहे हैं इस दौरान वन परिक्षेत्र अधिकारी पंकज कुमार शर्मा ने बताया कि शिकार के प्रयास में देर रात संदिग्ध स्थिति में वनक्षेत्र में भ्रमण कर रहे तीन आरोपियों को स्कॉर्पियो वाहन एवं राइफल तथा अन्य संदिग्ध सामग्रियों के साथ पकड़ कर पूछताछ की गई तथा तीनो आरोपियों जो छत्तीसगढ़ राज्य के सरगुजा जिले के हैं को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया है।

Back to top button