गणतंत्र दिवस में मंडराया कोरोना का साया, जानिये क्या लिया गया फैसला

दिल्ली में 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस की परेड में इस साल मुख्य अतिथि के तौर पर कोई विदेशी राष्ट्राध्यक्ष शिरकत नहीं करेंगे. केंद्र सरकार से जुड़े सूत्रों ने इस बात की जानकारी दी है कि इस समारोह के लिए सरकार की किसी भी अन्य देश के गणमान्य नागरिक को आमंत्रित नहीं करेगी. दरअसल हर साल गणतंत्र दिवस के मौके पर राजपथ पर होने वाली परेड में विदेशी राष्ट्राध्यक्ष को आमंत्रित करने की परंपरा है.

 

 

 

 

 

इससे पहले ऐसे कयास लगाए जा रहे थे कि 5 बड़े देशों के प्रधानमंत्री या राष्ट्रपति को गणतंत्र दिवस समारोह के लिए आमंत्रण दिया जा सकता है लेकिन कोविड-19 से जुड़े हालातों को ध्यान में रखते हुए सरकार ने इस साल किसी भी विदेशी अतिथि को आमंत्रित नहीं करने का फैसला लिया गया है।

 

 

Back to top button