ताज़ा ख़बर
हैदराबाद बना देश का दूसरा सबसे प्रदूषित शहर, रिपोर्ट हुआ जारी, पहले नंबर के शहर का नाम सुनकर चौंक उठेंगे आपRAIPUR BREAKING: मोबाइल चोर गिरोह का खुलासा, 60 से अधिक लोगो को बना चुके है निशाना,नेपाल में खपाते थे चोरी के एप्पल आईफोन, 2 नाबालिक सहित 3 अंतर्राज्यीय आरोपी गिरफ़्तारसंघ लोक सेवा आयोग ने भारतीय वन सेवा की परीक्षाओं की समय सारणी की जारी, इस दिन से शुरू होगी परीक्षाभय्यूजी महाराज केस में तीन लोगों को 6-6 साल की सजा…सेवादार, ड्राइवर और शिष्या को कोर्ट ने दिया दोषी करार…BIG BREAKING: रायपुर एयरपोर्ट चौक पर तेज़ रफ़्तार कार डिवाइडर से टकराई, 21 वर्षीय युवक की मौके पर मौतसेब के साथ उसके छिलके भी हैं सेहत के लिए लाभदायक, फेंकने के बदले इस प्रकार कर सकते हैं इस्तेमाल…Buy Term Papers Online – How to Prevent the Pitfallsवन अधिकार मान्यता पत्र की मांग को लेकर संसदीय सचिव से मुलाकात, उचित पहल करने का दिया आश्वासनकिम-जॉंग के हैं बेहद अजीबो-गरीब शौक…अपना टॉयलेट साथ में लेकर चलता है तानाशाह…वजह जानकर हो जाएंगे आप हैरान…कांग्रेस के जिला प्रवक्ता ने भाजपाइयों को दिया सड़क के भूमि पूजन का निमंत्रण

सिर पर परीक्षा, लेकिन भौतिक विज्ञान का शिक्षक नहीं, कोर्स भी अधूरा,बच्चे है अपने भविष्य को लेकर चिंतित

Mahendra Kumar SahuJanuary 15, 20221min

गुप्तेश्वर जोशी,बीजापुर। बोर्ड परीक्षा में जिले के बेहतर स्थिति बनाने की कवायद में शिक्षकों की कमी बड़ी बाधा है। आधे से अधिक शिक्षा सत्र बीत चुका है, फिर भी इसकी कमी को पूरा नहीं किया जा सका है। जिसके चलते सम्बंधित विषय की पढ़ाई अधर में लटकी हुई है। हम बात कर रहे है जिला मुख्यालय में संचालित छू लो आसमान कोचिंग सेंटर की। 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा 3 मार्च से शुरू होने वाले है,

लेकिन भौतिक विज्ञान के शिक्षक कोचिंग सेंटर से कई महीनों से नदारद है। ऐसे में बच्चों को ये चिंता सता रही है कि मार्च में वार्षिक परीक्षा है और हमारा फिजिक्स का कोर्स पूरा नहीं हो पाया है। छू लो आसमान में पढ़ रही 10वीं की छात्रा चाँदनी यालम,सजीता और छात्र ऋषु कुमार साह,योगेश राणा ने बताया कि 3 मार्च से हमारा वार्षिक परीक्षा शुरू होने वाला है लेकिन हमारा फिजिक्स का कोर्स अधूरा है। फिजिक्स में 6 अध्याय है जिसमें से महज 1 ही चेप्टर पूर्ण हो पाया है। ऐसे में हमें परीक्षा का डर सता रहा है। बच्चों ने कहा कि हमने कई बार उच्च अधिकारियों से और हमारे स्कूल के डायरेक्टर से इसकी शिकायत की लेकिन अब तक हमारी परेशानी का समाधान नहीं हो पाया। शिक्षा विभाग की लापरवाही के चलते बच्चों का कोर्स अब तक अधूरा है।

बच्चों के खाने में निकल रहे कीड़े, पानी की भी किल्लत
निर्माणाधीन एजुकेशन सिटी में ही छू लो आसमान का कोचिंग सेंटर है। जहां पर 9वीं से लेकर 12वीं तक के छात्र – छात्रा अध्ययनरत है। इसी कैम्पस में ही बच्चों का हॉस्टल भी है।इसी हॉस्टल में रहकर बच्चे शिक्षा ग्रहण करते है।बॉयज हॉस्टल मे 85 तो गर्ल्स हॉस्टल में 100 बच्चे है। बच्चों का कहना है कि जो खाना हमें मिलता है उसमें से कीड़े निकलते है और पानी की भी उचित व्यवस्था नहीं है जिससे हमें काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

छू लो आसमान कोचिंग सेंटर में बच्चों को नहीं मिल पा रहा अध्यन सामग्री – छू लो आसमान में अध्ययनरत छात्र – छात्राओं को अध्यन सामग्री भी उपलब्ध नहीं हो पा रहा है।बच्चों ने बताया कि कोचिंग सेंटर में पुस्तकालय भी नहीं है और हमें पढ़ने के लिए किताबें भी उपलब्ध नहीं हो पा रही है।

इस संबध में जब जिला शिक्षा अधिकारी प्रमोद ठाकुर से बात की गई तो उन्होंने बताया कि छू लो आसमान में बच्चों को अध्यन करवाने के लिए विद्या मंदिर नाम की संस्था के साथ अनुबंध किया गया है। बच्चों को पढ़ाई से लेकर अध्यन सामग्री उपलब्ध करवाने की जिम्मेदारी इस संस्था की है। फिजिक्स के शिक्षक नहीं होने की शिकायत मुझ तक भी आई है। मैंने भी अधिकारियों से इस विषय पर जानकारी ली थी जो पहले भौतिक के टीचर थे उन्हें कोरोना हो गया था इसलिए परेशानी थी।जल्द ही भौतिक विज्ञान के नए शिक्षक की पदस्थापना की जाएगी। जो बच्चों के खाने में जो कीड़े की बात है वो मुझे मीडिया के द्वारा पता चली है मैं खुद बच्चों के पास जाऊंगा और उनकी समस्याओं का समाधान करूँगा।

 


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

संपर्क करें

Contact Our Chief Editor Mahendra Kumar Sahu

H14, dhehar city, gayatri nagar, raipur chhattisgarh, 492007