ताज़ा ख़बर
सीरिया में इस्लामिक स्टेट के आतंकियों और कुर्द फोर्सेस के बीच जंग जारी, अब तक 84 आतंकियों की मौतविराट की बेटी का चेहरा आया सामने, दर्शकों ने कहा- ये तो कोहली की कॉपी हैभगवान को प्रसन्न करना है तो इन मालाओं से करें जाप, जानें किस देवता के लिए किस माला का करना चाहिए प्रयोगउपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू हुए कोरोना संक्रमित,खुद को एक हफ्ते के लिए किया आइसोलेट..पचास हजार पदों पर निकली बंपर वैकेंसी, 56 हजार से लेकर डेढ़ लाख तक मिलेगी सैलरी, चंद मिनटों मे जाने सारे डिटेल्स..Corona breaking : प्रदेश मे नहीं थम रहा कोरोना का कहर,आज मिले 3841 नए मरीज‘मोटापे’ से लेकर ‘स्किन’ सभी का ख्याल रखता है ‘बाजरा’,जाने इसके फायदेकम रेट में पाए ये पांच सीटर कार, फीचर्स और प्राइस सुनकर नही होगा यकीनवायरल हुई अनुष्का और विराट की बेटी की तस्वीर, मैच के दौराम ममा के साथ नजर आई वामिका ..स्टेशन चौक में नेताजी सुभाषचंद्र बोस का जन्मदिन मनाया गया

कोरोना ने की मकर संक्रांति की रौनक फीकी…बाजार में छाई मंदी…दुकाने सजी पतंगो और लड्डूओं से…

Mahendra Kumar SahuJanuary 14, 20221min

 

रायपुर, नितिन नामदेव। देशभर में मकर संक्रांति का पर्व मनाया जा रहा है। मकर संक्रांति का पर्व पूरे देश भर में आज बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है इस दौरान घर-घर में तिल गुड़ पापड़ी और लड्डू बनाकर पूजा अर्चना करने के साथ दान करने की परंपरा निभाई जाती है। इस पहले बीती रात लोहड़ी का त्यौहार मनाया गया, लेकिन इस कोरोना महामारी के कारण त्यौहारों की रौनक फीकी पड़ चुकी है। राजधनी में हर रोज कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़ती ही जा रही है। जिसके बाद प्रशासन ने इससे निपटने के लिए कई गाइडलाइन भी जारी की हैं। राजधानी रायपुर में भी सबसे भीड़भाड़ वाले बाजार यानि की गोलबाजार में भी ग्राहक काफी कम दिखाई दिए। इस महामारी के कारण लोग खरीदारी करने से और बाजार में निकलने से भी डर रहे हैं।

 

बता दें जब गोल बाजार में शुक्रवार को निकले तो बाजार मकर संक्रांति के मौके पर दुकानों पर तिल के लड्डू पापड़ी के साथ ही दुकानें सजी हुईं हैं। साथ ही बच्चों के लिए मोटू-पतलू और तरह-तरह की पतंगे दिखाई दीं।  बावजूद इसके बाजार में लोग महामारी के कारण एहतियाज बरतते दिखाई दे रहे हैं और दुकान से खरीददारी करने में भी बचने से दिखाई दे रहे हैं। महामारी के कारण गोल बाजार और दुकानों की रौनक काफी फीकी दिखाई दे रही है।

 

बाजार पहुंचे लोगों का कहना है कि मकर संक्रांति के त्यौहार में लड्डू और पतन का विशेष महत्व होता है, लेकिन इस बार त्यौहार जैसा नहीं लग रहा है। पहले त्यौहार में मार्केट में काफी भीड़ हुआ करती थी, लेकिन इस बार कोरोना के भय की वजह से नहीं पहले जैसी ही दिखती है ना ही व्यापार पहले जेसा सजा हुआ दिखता है। हम लोग लड्डू खरीद तो रहे हैं, लेकिन फिर भी खतरा मंडरा रहा है कोरोना के भय के चलते हम लोग बहुत ही सावधानी से बाहर में खरीदारी कर रहे है।

 

Read More : Amazon Great Indian Festival Sale: त्योहारों से पहले ब्रांडेड कपड़ों पर चल रहा 90% तक का डिस्काउंट, फैशनेबल और स्टाइलिश क्लाथ में है इतनी छूट

बता दें की तीसरी लहर के कारण मकर संक्रांति में तिल गुड़ का बाजार काफी प्रभावित हुआ वही महिला समूह को भी इस बार तिल के लड्डू के आर्डर कम मिले बिक्री के सामान्य दिनों में तरह नहीं है संक्रमण के वजह से लोग बाजार से दूरी बना ली है।

 

बाजार में दिख रहा कोरोना का असर

 

लड्डू व्यापारी एसपी अग्रवाल ने कहा कि कोरोना के चलते पिछले 2 साल से मार्केट की हालत खराब है और रायपुर के गोल बाजार और बहुत सी जगह में बहुत व्यपारियों ने तिल के लड्डुओं का व्यवसाय शुरू किया है। जिसके चलते लोग दुकान में कम आ रहे हैं और खुले में लड्डू खरीदने लोग परहेज कर रहे हैं जिससे नुकसान हुआ है और काफी सामान बचा है जो अभी तक नहीं बिका है।

 

वही बूढ़ा तालाब के पास सजे पतंग दुकानों में जमकर भीड़ दिखी बच्चे जमकर तरह-तरह के पतन की खरीदारी पतन दुकान पहुंचे। पतंग व्यापारी अब्दुल हुसैन ने बताया कि हर बार दुकान में काफी भीड़ हुआ करती थी पर करोना के चलते इस बार भीड़ कम देखने को मिल रही है। पहले लोग त्यौहार को काफी मानते थे और बड़ी संख्या में भीड़ यहां देखने को मिलती थी, लेकिन इस कोरोना और मौसम की वजह से दुकान में भीड़ कम देखने को मिल रही है। वहींं पिछले साल और इस साल का स्टॉक भी काफी बचा हुआ है।

 


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

संपर्क करें

Contact Our Chief Editor Mahendra Kumar Sahu

H14, dhehar city, gayatri nagar, raipur chhattisgarh, 492007