ताज़ा ख़बर
उद्धव ठाकरे ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा- उन्होंने हमारे 25 साल बर्बाद कर दिएसीरिया में इस्लामिक स्टेट के आतंकियों और कुर्द फोर्सेस के बीच जंग जारी, अब तक 84 आतंकियों की मौतविराट की बेटी का चेहरा आया सामने, दर्शकों ने कहा- ये तो कोहली की कॉपी हैभगवान को प्रसन्न करना है तो इन मालाओं से करें जाप, जानें किस देवता के लिए किस माला का करना चाहिए प्रयोगउपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू हुए कोरोना संक्रमित,खुद को एक हफ्ते के लिए किया आइसोलेट..पचास हजार पदों पर निकली बंपर वैकेंसी, 56 हजार से लेकर डेढ़ लाख तक मिलेगी सैलरी, चंद मिनटों मे जाने सारे डिटेल्स..Corona breaking : प्रदेश मे नहीं थम रहा कोरोना का कहर,आज मिले 3841 नए मरीज‘मोटापे’ से लेकर ‘स्किन’ सभी का ख्याल रखता है ‘बाजरा’,जाने इसके फायदेकम रेट में पाए ये पांच सीटर कार, फीचर्स और प्राइस सुनकर नही होगा यकीनवायरल हुई अनुष्का और विराट की बेटी की तस्वीर, मैच के दौराम ममा के साथ नजर आई वामिका ..

दो मास्क पहनने से ओमिक्रॉन का खतरा होगा कम, मिलेगी 91% तक सुरक्षा, WHO ने बताया मास्किंग का सही तरीका…

Mahendra Kumar SahuJanuary 13, 20221min

 

 

हेल्थ डेस्क: दुनिया भर (Whole world) में ओमिक्रॉन (omicron) के बढ़ते मामलों के बीच हॉन्ग-कॉन्ग (hong kong) के वैज्ञानिकों (scientists) ने कहा है कि नए वैरिएंट (new variants) से बचने के लिए दो मास्क (mask) पहनना जरूरी है। ये सलाह विशेष रूप से उन लोगों के लिए है जो आए दिन कोरोना मरीजों (corona patients) के संपर्क में आते हैं। एक्सपर्ट्स (Experts) का मानना है कि डबल मास्क लगाने से हमें कोरोना के खिलाफ 91% तक सुरक्षा मिल सकती है।

हाई रिस्क पर हैं तो डबल मास्क लगाना बेहद जरूरी
माइक्रोबायोलॉजिस्ट यूएन क्वोक-युंग कहते हैं कि जो लोग पहले से ही गंभीर बीमारियों से पीड़ित हैं, उन्हें दो मास्क पहने रहना चाहिए। इनके अलावा, वैक्सीन न लगवाने वाले लोग, डॉक्टर्स और एयरपोर्ट वर्कर्स को भी संक्रमण का रिस्क ज्यादा होता है। इन्हें भी डबल मास्किंग फॉलो करनी चाहिए।

चाइनीज यूनिवर्सिटी ऑफ हॉन्ग-कॉन्ग के प्रोफेसर डेविड हुइ के मुताबिक, मास्क लगाने पर मुंह के दोनों तरफ गैप बनने से या मास्क के ढीले होने से संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है। इसलिए पब्लिक ट्रांसपोर्ट, कंटेनमेंट जोन, अस्पतालों या भीड़-भाड़ वाले इलाकों में दो मास्क पहनने चाहिए।

 

READ MORE: आयुष मंत्रालय ने शेयर की अदरक पाक की रेसिपी, सीजनल फ्लू और खांसी से बचने के लिए करें इसका सेवन, जानें बनाने की विधि…

 

मास्क कितने तरह के होते हैं?
मोटे तौर पर मास्क 3 तरह के होते हैं- सर्जिकल मास्क, N95 मास्क और कपड़ों से बने मास्क। N95 मास्क को कोरोना वायरस जैसे संक्रमण से बचाव के लिए सबसे बेहतर मास्क माना जाता है। यह आसानी से मुंह और नाक पर फिट हो जाता है और बारीक कणों व बूंदों को भी नाक या मुंह में जाने से रोकता है। यह हवा में मौजूद 95% कणों को रोकने में सक्षम है। वहीं, सामान्य सर्जिकल मास्क भी करीब 85% तक कणों को रोकने में सक्षम होता है। कपड़े के मास्क से 30 से 60% तक सुरक्षा ही मिलती है।

हमें कौन से दो मास्क एक साथ पहनने चाहिए?
अमेरिकी हेल्थ एजेंसी सेंटर्स फॉर डिसीज कंट्रोल एंड प्रीवेंशन (CDC) के अनुसार, हमें सर्जिकल मास्क के ऊपर क्लॉथ मास्क का इस्तेमाल करना चाहिए। इसका कारण- कपड़े का मास्क पहनने पर सर्जिकल मास्क के कोने पूरी तरह टाइट हो जाते हैं।

इसके अलावा, ध्यान रखें कि दो सर्जिकल मास्क एक साथ पहनना बेकार हैं, क्योंकि ऐसा करने पर भी गैप बरकरार रहता है। CDC के मुताबिक, अगर N95 मास्क पहन रहे हैं, तो इसके साथ कोई दूसरा मास्क पहनने की जरूरत नहीं होती है। ये मास्क पूरी तरह टाइट होता है और अकेले ही कोरोना के खिलाफ सुरक्षा देता है।

 


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

संपर्क करें

Contact Our Chief Editor Mahendra Kumar Sahu

H14, dhehar city, gayatri nagar, raipur chhattisgarh, 492007