ताज़ा ख़बर
सीरिया में इस्लामिक स्टेट के आतंकियों और कुर्द फोर्सेस के बीच जंग जारी, अब तक 84 आतंकियों की मौतविराट की बेटी का चेहरा आया सामने, दर्शकों ने कहा- ये तो कोहली की कॉपी हैभगवान को प्रसन्न करना है तो इन मालाओं से करें जाप, जानें किस देवता के लिए किस माला का करना चाहिए प्रयोगउपराष्ट्रपति वैंकेया नायडू हुए कोरोना संक्रमित,खुद को एक हफ्ते के लिए किया आइसोलेट..पचास हजार पदों पर निकली बंपर वैकेंसी, 56 हजार से लेकर डेढ़ लाख तक मिलेगी सैलरी, चंद मिनटों मे जाने सारे डिटेल्स..Corona breaking : प्रदेश मे नहीं थम रहा कोरोना का कहर,आज मिले 3841 नए मरीज‘मोटापे’ से लेकर ‘स्किन’ सभी का ख्याल रखता है ‘बाजरा’,जाने इसके फायदेकम रेट में पाए ये पांच सीटर कार, फीचर्स और प्राइस सुनकर नही होगा यकीनवायरल हुई अनुष्का और विराट की बेटी की तस्वीर, मैच के दौराम ममा के साथ नजर आई वामिका ..स्टेशन चौक में नेताजी सुभाषचंद्र बोस का जन्मदिन मनाया गया

कंट्रोल रूम में कर्मचारी कर रहे वॉर रूम की तरह काम, 100 में 20 नंबर गलत! लोगों का डेटा तैयार कर रही टीम, देखे वीडियो

Mahendra Kumar SahuJanuary 9, 20221min

रायपुर, नितिन नामदेव : छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में कोरोना विस्फोट के बाद कांटेक्ट ट्रेसिंग एक बड़ी चुनौती बन गई है. यहां होम आइसोलेशन में इलाज करवाने वाले मरीजों की निगरानी के साथ उनके संपर्क में आने वालों की खोजबीन एक टफ टास्क बनता जा रहा है।

 

 

राजधानी में निगरानी और खोजबीन दोनों के लिए अलग-अलग कंट्रोल रूम बना दिया गया है। 24 घंटे कंट्रोल रूम में कर्मचारी वॉर रूम की तरह काम रहे हैं। एक-एक मरीज से संपर्क करने में 10-10 बार कॉल लगाना पड़ रहा है। उसमें भी 100 में 20 नंबर तो गलत ही निकल रहे हैं।

 

 

देखें वीडियो : 

 

 

जो फोन रिसीव करते हैं उनमें से ज्यादातर जैसे ही सुनते हैं कि कंट्रोल का फोन है तो रहे हैं वे तुरंत कॉल डिस्कनेक्ट कर देते हैं, फिर मोबाइल स्विच ऑफ हो जाता है। कोरोना संक्रमण को कंट्रोल करने के लिए कांटेक्ट ट्रेसिंग सबसे अहम है। पॉजिटिव मरीज के संपर्क में आने वालों का अगर जल्दी पता चल जाए तो उनसे संपर्क कर उनकी जांच करवाकर तुरंत ही उन्हें आइसोलेट किया जा सकता है। इससे संक्रमण काे फैलने से रोकने में सबसे ज्यादा मदद मिलेगी।

इसलिए जिला प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग और नगर निगम ने होम आईसोलेशन और कांटेक्ट ट्रेसिंग कंट्रोल रूम शुरू कर दिया हैं। ये सिर्फ कंट्रोल रूम नहीं है, बल्कि वॉर रूम हैं। यहां से मरीज को भर्ती करवाने से लेकर, होम आईसोलेशन और इनके संपर्क वाले लोगों का डेटा तैयार किया जा रहा है।

देखे वीडियो ;-


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

संपर्क करें

Contact Our Chief Editor Mahendra Kumar Sahu

H14, dhehar city, gayatri nagar, raipur chhattisgarh, 492007