ताज़ा ख़बर
सरकारी नौकरी पाने का सुनहरा मौका, 236 पदों पर निकली भर्ती, 25 जनवरी तक उम्मीदवार करें आवेदन..बिग ब्रेकिंग : स्वास्थ्य विभाग में बड़ा बदलाव, प्रमुख सचिव डॉ आलोक शुक्ला हटाए गए…breaking news : हरभजन सिंह हुए कोरोना संक्रमित, ट्वीट कर दी जानकारी..चमत्कारिक गुणो से भरपूर होता हैं ‘मुलेठी’, जाने कोविड काल में कैंसे इम्यूनीटी बूस्टर की तरह करता हैं कामफिल्मों में काम करने के लिए इन कलाकारों ने किया बड़ा त्याग, अक्षय और रणवीर ने तो पार कर दी सारी हदें ..RAIPUR BREAKING: 2 निरीक्षकों का तबादला, एसएसपी अग्रवाल ने ज़ारी किया आदेशवन विभाग की गिरफ्त में आए तीन संदिग्ध शिकारी, स्कॉर्पियो, राइफल व अन्य सामग्री जप्तरिश्ते निभाने में ज्यादा कामयाब नहीं हो पाते ये 4 राशि वाले लोग, जानें कहीं आप भी इसमें शामिल तो नहींधनुष को ऐश्वर्या से तलाक लेना पड़ा भारी, रजनी के फैंस ने किया एक्टर की अपकमिंग फिल्म का बहिष्कार..AFC Women’s Asian Cup 2022: ईरान से नही जीत पाया भारत, सही मौके पर किया कई गोल मिस, नतीजन मैच का हुआ ये हाल

धान की खरही में लगा आग लाखों का धान जलकर हुआ खाक

Mahendra Kumar SahuDecember 18, 20211min

 


विनोद रायसागर, मुंगेली:- मिली जानकारी के अनुसार जिला मुंगेली के ब्लॉक लोरमी अंतर्गत ग्राम सारिसताल में दिनांक 15 दिसंबर को करीब 3 बजे कोठार में रखा धान में आग लग गया, जिससे वहां करीब 3 से 4 एकड़ का धान जलकर राख हो गया साथ ही करीब 10 एकड़ का पैरा भी जलकर राख हो गया। प्राप्त जानकारी के अनुसार संतोष पांडे का करीब 2 एकड़ का धान जला है वहीं सुनील पांडेय व सुधीर पांडेय का करीब 1 एकड़ का धान व साथ में करीब 10 एकड़ का पैरा पूरी तरह से जलकर राख हो गया है।

 

 

जब गांव वालों को इसकी सूचना मिली तब तक सारे खरही और पैरावट में आग लग चुका था। गांव वालों का कहना है कि उसी समय तेज हवाएं चल रही थीं जिसके कारण एक खरही से दूसरे खरही में आग लगी होगी वैसे भी पैरा बहुत हल्का होता है जरा सी हवा में उड़ने लगता है। गांव वाले सबसे पहले करीब 7- 8 बोर से आग को बुझाने का प्रयास किए लेकिन आग पर काबू नहीं पाया जा सका।

 

आनन फानन में नगर पंचायत लोरमी को फोन किया गया, करीब 45 मिनट बाद लोरमी से सारिसताल फायर ब्रिगेड की टीम पहुंचा। आग की लपटें इतना अधिक फैला था कि गांव का बोर व लोरमी फायर ब्रिगेड के काबू में नहीं आ पा रहा था जिसकी सूचना तुरंत जिला मुख्यालय मुंगेली को अवगत कराया गया जिला मुख्यालय से भी फायर ब्रिगेड की टीम गई तब जाकर करीब 10 बजे रात को आग पर काबू पाने में कुछ सफल हुए। आग का फैलाव इतना ज्यादा था जो 16 तारीख से लेकर आज 17 तारीख तक खरही में आग का धुँवा निकल रहा था।

अब मुख्य मुद्दा यह है कि आग कैसे लगा कोन लगाया ये अलग बात है, एक किसान का साल भर के मेहनत से फसल उगाया जाता है जिससे वह किसान उसी उपज से साल भर अपनी जिंदगी चलाता है एक तरफ उसके साथ ऐसी घटना हो जाती है जिसकी मुआवजे के लिए शासन प्रशासन का चक्कर लगाना पड़ता है तब जाकर किसान को मुआवजे की राशि मिलता है। शासन प्रशासन को ऐसी घटनाओं को विशेष ध्यान देकर किसान को मुआवजा राशि जल्दी से जल्दी देने का भरसक प्रयास करना चाहिए क्योंकि किसान का इसके अलावा अन्य और कोई साधन नहीं होता जीविकोपार्जन के लिए। किसान जो एक देश की अर्थव्यवस्था को मजबूत करने में अपनी जीवन समर्पित कर देता है। फिलहाल धान में आग लगने की लिखित शिकायत लोरमी थाने में किसानों के द्वारा करा दिया गया है।

 


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

संपर्क करें

Contact Our Chief Editor Mahendra Kumar Sahu

H14, dhehar city, gayatri nagar, raipur chhattisgarh, 492007