ताज़ा ख़बर
RAIPUR BIG BREAKING: राजधानी में देर रात दर्दनाक सड़क हादसा, 2 युवतियों की मौके पर ही मौत,4 युवक-युवती गंभीर रूप से घायलHow Professional Essay Services Can Benefit Studentsइन राशियों को मिलेगा भाग्य का साथ, सूर्य की तरह चमकेगी किस्मत, पढ़ें 28 नवंबर का राशिफल..बिग ब्रेकिंग : देर रात 40 पटवारियों का हुआ तबादला, देखिए पूरी लिस्ट..Airtel ने किया फ्री डाटा देने का ऐलान, इन ग्राहकों को मिलेगा लाभ, जल्दी कीजिए इस प्लान के तहत रिचार्ज..इस महिला ने उठाया चौकाने वाला कदम, पति के गुजर जाने के बाद गाय के साथ किया ये काम, सुनकर हैरान हो जाएंगे आप..इतने रुपए सस्ता मिलेगा गैस सिलेंडर, LPG ग्राहकों को मिली बड़ी राहत, जल्द शुरु हो सकती है ये सेवा..जोर- शोर से शुरु हुई कैटरीना-विक्की की शादी की तैयरियां, सलमान से लेकर बॉलीवुड के कलाकार नही है शादी में Allow..नई गाड़ी खरीदने का बना रहे प्लान, इन बातों का रखे ध्यान, यहां मिलेगा सबसे सस्ता कार लोन प्लॉन..मंडी निरीक्षक के एग्जाम दिलाने वाले परीक्षार्थी हो जाए सावधान, इन नियमों का करे पालन, नही तो उठाना पड़ सकता हैं भारी नुकसान..

षड्यंत्र या बड़ी चूक: आखिर कैसे हो गया राष्ट्रपति कोविंद का सिक्योरिटी प्लान लीक? पुलिस और प्रशासनिक महकमें में मचा हड़कंप, जांच में खुलेगा राज!

Mahendra Kumar SahuNovember 26, 20211min

 

नई दिल्ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का सुरक्षा प्लान लीक होने के बाद हड़कंप मच गया. राष्ट्रपति का सिक्योरिटी प्लान लीक होना षड़यंत्र था या फिर महज गलती? इस बात की हर जंगल से जांच की जा रही है। मामले की जांच एडीसीपी को सौंपी गई है। इस जांच में यह पता लगाने का प्रयास किया जा रहा है कि आखिरकार सोशल मीडिया पर सुरक्षा से जुड़ी पीडीएफ फाइल लीक कैसे हुई।

 

 

 

 

वहीं अब तक जो जानकारियां पुलिस को मिली है, उसके अनुसार यह सुरक्षा प्लान दो दर्जन पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी व उनके अधीनस्थों के पास था। इस मामले में पुलिस मुख्यालय के कर्मियों से भी पूछताछ की जा रही है।

 

 

READ MORE: नई Suzuki S-Cross ने किया ग्लोबल डेब्यू, इस कार में मिलेंगे ढेर सारे सेफ्टी फीचर्स, नए मॉडल में किए गए ये खास बदलाव

 

 

बता दें कि राष्ट्रपति के शहर आगमन से एक दिन पहले रात में सोशल मीडिया पर उनका सुरक्षा प्लान लीक हो गया था। 76 पेज की इस पीडीएफ फाइल में उनकी फ्लीट, कार्यक्रम और सुरक्षा से जुड़े तमाम बिंदुओं पर अधिकारियों के नाम नंबर समेत विस्तृत जानकारी मौजूद थी। यहां तक कि उनकी फ्लीट में कौन-कौन से वाहन किस मेक के और किन अधिकारियों के अंडरटेकिंग में रहेंगे इसका ब्योरा भी शामिल था।

 

 

 

आतंकी गतिविधियों को लेकर शहर में कब क्या हुआ इसकी जानकारी भी थी। सोशल मीडिया पर लीक होने के साथ ही पुलिस और प्रशासनिक महकमें में हड़कंप मच गया। जिसके बाद पुलिस कमिश्नर ने इस मामले में एडीसीपी ट्रैफिक राहुल मिठास को जांच सौंप दी थी।

 

 

 

 

राष्ट्रपति के दौरे में राजपत्रित अधिकारियों की मुख्य भूमिका रहती है। उनका सुरक्षा प्लान राजपत्रित अधिकारियों के अलावा उनके कुछ अधिनस्थों के पास ही जाता है। जो कि उसी क्रम में ड्यूटियों को लगाकर फिर अधिकारी को देते हैं। उसपर बैठक कर वरिष्ठ अधिकारी ड्यूटियां तय कर देते हैं। अब तक की जांच में पता चला है कि दो दर्जन से अधिक लोगों के पास इस प्लान की फाइल मौजूद थी। हालांकि इस मामले में फिलहाल कोई अधिकारी कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है। वरिष्ठ अधिकारियों का कहना है कि जांच पूरी होने पर जिसका भी दोष निकलता है उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

 


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

संपर्क करें

Contact Our Chief Editor Mahendra Kumar Sahu

H14, dhehar city, gayatri nagar, raipur chhattisgarh, 492007