ताज़ा ख़बर
RAIPUR BIG BREAKING: राजधानी में देर रात दर्दनाक सड़क हादसा, 1 युवती की मौके पर ही मौत, अन्य गंभीर रूप से घायलHow Professional Essay Services Can Benefit Studentsइन राशियों को मिलेगा भाग्य का साथ, सूर्य की तरह चमकेगी किस्मत, पढ़ें 28 नवंबर का राशिफल..बिग ब्रेकिंग : देर रात 40 पटवारियों का हुआ तबादला, देखिए पूरी लिस्ट..Airtel ने किया फ्री डाटा देने का ऐलान, इन ग्राहकों को मिलेगा लाभ, जल्दी कीजिए इस प्लान के तहत रिचार्ज..इस महिला ने उठाया चौकाने वाला कदम, पति के गुजर जाने के बाद गाय के साथ किया ये काम, सुनकर हैरान हो जाएंगे आप..इतने रुपए सस्ता मिलेगा गैस सिलेंडर, LPG ग्राहकों को मिली बड़ी राहत, जल्द शुरु हो सकती है ये सेवा..जोर- शोर से शुरु हुई कैटरीना-विक्की की शादी की तैयरियां, सलमान से लेकर बॉलीवुड के कलाकार नही है शादी में Allow..नई गाड़ी खरीदने का बना रहे प्लान, इन बातों का रखे ध्यान, यहां मिलेगा सबसे सस्ता कार लोन प्लॉन..मंडी निरीक्षक के एग्जाम दिलाने वाले परीक्षार्थी हो जाए सावधान, इन नियमों का करे पालन, नही तो उठाना पड़ सकता हैं भारी नुकसान..

फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स और छत्तीसगढ़ चेम्बर ऑफ कॉमर्स मुंगेली ने अमेजन ई कॉमर्स के खिलाफ दिया एक दिवसीय धरना प्रदर्शन, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नाम सौंपा ज्ञापन

Mahendra Kumar SahuNovember 25, 20211min

 

विनोद रायसागर, मुंगेली:- अमेजन ई कॉमर्स के अवैध व्यावसायिक गतिविधियां बंद करने एवं टेक्सटाइल एवं फुटकर में जीइसटी वृद्धि को वापस लेने आज मुंगेली के व्यापारी संघ के द्वारा पड़ाव चौक पर अमेजन ई कॉमर्स के खिलाफ एक दिवसीय धरना प्रदर्शन किया गया।

 

 

पिछले दिनों मध्य प्रदेश में कई जगहों पर पुलिस की कार्रवाई में अवैध रूप से अमेजन ई कामर्स कंपनी द्वारा लोगों को गांजा सप्लाई करने का मामला सामने आया था लेकिन अभी तक इस पर सरकार के द्वारा अमेजन पर कोई कार्यवाही नहीं होने पर व्यापारी संघ द्वारा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नाम आज कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा गया।

 

 

 

हम आपका ध्यान देश की सुरक्षा से जुड़े बेहद संवेदनशील और महतवपूर्ण मुद्दों में से एक की ओर आकर्षित करना चाहते हैं जो इन दिनों सुर्खियों में है, दरअसल ये मामला यूएस की कंपनी अमेज़ॅन के ई-कॉमर्स पोर्टल के माध्यम से गाँजा जैसे नशीले पदार्थों की खुलेआम बिक्री का है, जिसका खुलासा मध्य प्रदेश की बेहद प्रतिभाशाली पुलिस टीम ने हाल ही में किया है। इसी क्रम में भिंड जिले की मध्य प्रदेश पुलिस ने दिनांक 20.11.2021 को एक और ऑपरेशन किया जहां से और 17 किलो गांजा बरामद किया गया जिसे अमेज़न ई-कॉमर्स पोर्टल के माध्यम से बेचा गया था. एक अन्य छापेमारी में मप्र पुलिस की सूचना के आधार पर विशाखापत्तनम पुलिस ने 48 किलो गांजा जब्त किये जिसको अमेजन के ई-कॉमर्स पोर्टल के जरिए बेचा गया था । मध्य प्रदेश पुलिस ने जांच के बाद इस मामले में अमेजन के कार्यकारी निदेशकों को आरोपी बनाया है।

 

 

 

आश्चर्यजनक रूप से, यह भी पता चला कि आतंकवादी संगठनों द्वारा बम बनाने के लिए आवश्यक रसायन भी अमेज़ॅन के ई-कॉमर्स पोर्टल से प्राप्त किए गए थे, जिनका उपयोग पुलवामा हमले में किया गया था जिसमे हमारे 40 सीआरपीएफ जवान शाहिद हो गए थे। यह भी पता चला है कि अमेज़ॅन ई-कॉमर्स पोर्टल के माध्यम से खरीदे गए कुछ रसायनों को भारत में प्रतिबंधित कर दिया गया था बावजूद इसके प्रतिबंधित पदार्थों की बिक्री अमेज़न के ई पोर्टल पर जारी है।

 

 

 

हमें आपको यह जानकारी देते हुए अत्यधिक खेद हो रहा है कि पर्याप्त सबूत होने और इतने स्पष्ट मामले के बावजूद, अब तक इस कंपनी के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई है जो इस तरह की सभी अवैध गतिविधियों में शामिल है। यह संबंधित कानूनों का स्पष्ट उपहास है। चूंकि गाँजा और प्रतिबंधित वस्तुएं ई-कॉमर्स के माध्यम से बेची जा रही हैं, इससे हम यह सोचने को मजबूर है कि भारत में अब अपनी व्यावसायिक गतिविधियों का संचालन करने वाले ई-कॉमर्स पोर्टल पर विभिन्न अन्य अवैध गतिविधियां या राष्ट्र विरोधी गतिविधियां भी चलाई जा सकती हैं।

 

 

 

आपकी जानकारी में यह भी लाया जाना आवश्यक है कि इन ई-कॉमर्स कम्पनियों की वर्तमान व्यावसायिक प्रथाएं बड़ी मात्रा में कर चोरी में लिप्त हैं और इससे केंद्र और राज्य दोनों सरकारों को जीएसटी राजस्व का भारी नुकसान हुआ है।इस विषय पर मंत्रालय का ध्यान आकर्षित करने के बावजूद, वित्त मंत्रालय द्वारा इस तरह की चोरी को रोकने के लिए कोई कदम नहीं उठाया गया है। विदेशी वित्त पोषित ई-कॉमर्स कंपनियां लगातार एफडीआई नीति और नियमों का उल्लंघन कर रही हैं, लेकिन संबंधित अधिकारियों ने उल्लंघन की जांच करने के लिए कोई पहल नहीं की है, तो कोई कार्रवाई करने की उम्मीद करना ही बेकार है। हमें आश्चर्य है कि आपके नेतृत्व में, प्रशासनिक व्यवस्था ऐसे गंभीर मुद्दों के प्रति ऐसे नीरस दृष्टिकोण नजरिया कैसे दिख सकती है, जिसका देश की सुरक्षा और भारत के खुदरा व्यापार पर अधिक प्रभाव पड़ रहा है।

 

 

 

 

हम इस मामले में आपके तत्काल सीधे हस्तक्षेप करने के लिये अनुरोध करने को मजबूर हुए है और आपसे आग्रह करते है कि संबंधित अमेज़ॅन के अधिकारियों को गिरफ्तार करने और अमेज़ॅन के खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज करने का जल्द निर्देश दिया जाय। अमेज़न जैसी कंपनियों के साथ कोई असाधारण और लचीला व्यवहार नहीं किया जाना चाहिए।

 

 

हम आपसे यह भी अनुरोध करते हैं कि आप उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय को लंबे समय से लंबित ई-कॉमर्स नियमों को अधिसूचित करने और वाणिज्य मंत्रालय को ई-कॉमर्स नीति जारी करने और एफडीआई नीति के प्रेस नोट 2 की जगह एक नया प्रेस नोट जारी करने का निर्देश दें।

 

 

हमें इस बात का यकीन है कि आप इस मुद्दे की गम्भीरतां को देखते हुए इस मामले तुरंत संज्ञान लेंगे और इस पर आवश्यक कार्रवाई करेंगे।उक्त धरना प्रदर्शन में चेम्बर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष स्वतंत्र मिश्रा के साथ अनिल सोनी, जेठ मल कोटड़िया, हेमेंद्र गोस्वामी, सोम वर्मा, प्रवीण वैष्णव, अनूप जैन, सुदीप ताम्रकार, रणजीत सिंह ठाकुर, हितेश सिंह, शौरभ केशरवानी, कलीम तंवर, नवरतन जैन सुदामा,प्रभात गुप्ता, विजय आदि अनेक व्यापारियों ने धरना प्रदर्शन में हिस्सा लिया।

 

 


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

संपर्क करें

Contact Our Chief Editor Mahendra Kumar Sahu

H14, dhehar city, gayatri nagar, raipur chhattisgarh, 492007