ताज़ा ख़बर
अभिनेत्री जैकलीन फर्नांडीज की बढ़ी मुश्किलें, ईडी ने एयरपोर्ट पर विदेश जाने से रोका..आधी रात को जगाकर पत्नी करती थी पति से यह डिमांड, परेशान होकर पति ने किया चौकाने वाला काम..CORONA UPDATE : प्रदेश वासियों के लिए राहत की खबर, कोरोना संक्रमित मरीजों में आयी कमी, देखें कहां कितने मिले केस..लुक्स के मामलेें में बॉलीवुड की कई हसीनाओं को मात देती है ये Bhojpuri Actress, देखिए वायरल तस्वीरें..Nora Fatehi की इन फोटो ने सोशल मीडिया में लगाई आग, बोल्डनेस देख सबका हुआ बुरा हालविराट कोहली की वनडे कप्तानी को लेकर जल्द आ सकता अहम फैसला, हो सकता है बड़ा बदलाव..कार्तिक आर्यन ने करण जौहर और दोस्ताना 2 को लेकर कही ये बात, सुनकर उड़ गए ट्रोलर्स के उड़े होशBIG BREAKING : महाराष्ट्र के बाद इस राज्य में हुआ ओमिक्रॉन ब्लास्ट, एक ही परिवार के 9 सदस्य मिले संक्रमित, हाल में दक्षिण अफ्रीका से लौटा था परिवार..घरेलू कलह के चलते पत्नी ने पांच बेटियों के साथ कुएं में लगाई छलांग, उसके बाद जो हुआ सुनकर यकीन नही होगा..ये है पांच सबसे सस्ते फोन, जिनके फीचर्स और प्राइस सुनकर उड़ जाएंगे होश..

छग का मंत्रिमंडल प्रधानमंत्री से मिलेगा: मुख्यमंत्री ने PM को लिखा है पत्र, उसना चावल लेने का आग्रह किया, बात नहीं बनी तो मंत्रिमंडल के साथ मिलने जाएंगे

Mahendra Kumar SahuNovember 24, 20211min

 

 

रायपुर: मुख्यमंत्री (Chief Minister) भूपेश बघेल ने धान खरीदी को लेकर आ रही समस्या पर प्रधानमंत्री (Prime minister) मोदी को पत्र (Letter) लिखा है। धान खरीदी के मुद्दे पर राज्य सरकार (State government) एक बार फिर संकट में है। इसके समाधान के लिए हर स्तर पर कोशिश शुरू हो गई है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) को पत्र लिखकर समस्याओं के समाधान का आग्रह (request) किया है। अब कहा जा रहा है कि बात नहीं बनी तो मुख्यमंत्री अपने मंत्रियों के साथ प्रधानमंत्री से मिलने जाएंगे।

 

 

 

READ MORE : ClAIM : कोरोना मरीजों पर Covaxin की दोनों डोज symptomatic 50 % प्रभावी, 2,714 स्वास्थ्य कर्मियों पर हुई स्टडी

 

 

 

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा, केंद्र सरकार ने ही जूट कमिश्नर का पद क्रिएट किया है। उसी के माध्यम से सभी राज्यों के जूट बारदानों की आपूर्ति होती है। हमने उससे डिमांड की है। हमने प्रधानमंत्री को पत्र लिखा है, हमें अधिक बारदानों की आवश्यकता होगी। हमने उसना चावल लेने का भी आग्रह किया है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि अगर प्रधानमंत्री की ओर से अनुमति मिल जाती है तो अच्छी बात है। नहीं तो उनसे मिलने का समय मांगेंगे। पूरे मंत्रिमंडल के लोग जाएंगे ताकि छत्तीसगढ़ की समस्याओं के बारे में उन्हें अवगत कराया जा सके।

 

 

साल 2019 की धान खरीदी के समय भी छत्तीसगढ़ सरकार ऐसे ही संकट में थी। केंद्र सरकार ने बोनस देने की स्थिति में चावल लेने से इनकार कर दिया था। उस समय मुख्यमंत्री ने सर्वदलीय बैठक बुलाई थी। किसान संगठनों की बैठक में समर्थन जुटाया था। चौतरफा समर्थन जुटाने के बाद सरकार ने केंद्र से बातचीत जारी रखी। कई दौर की चर्चाओं के बाद केंद्र सरकार ने सशर्त अनुमति दी।

 

 

READ MORE : पति Nick Jonas को Priyanka Chopra ने किया रोस्ट, एज गैप पर बोलीं एक्ट्रेस, दोनों के तलाक की थी अफवाह

 

 

 

राज्य सरकार को परेशान करने का आरोप लगाया
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा, केंद्र सरकार छत्तीसगढ़ के साथ सौतेला व्यवहार कर रही है। कभी कहा जाता है समर्थन मूल्य से एक रुपया भी अधिक दिया तो चावल नहीं लेंगे। दूसरे साल हमने इनपुट सब्सिडी देना शुरू किया तो कहने लगे सभी फसलों पर दीजिए। सभी फसलों पर देने लगे तो अब कह रहे हैं कि उसना चावल नहीं लेंगे। जब से चावल जमा हो रहा है तब से उसना और अरवा को एक अनुपात में लिया जाता रहा है। इसका मतलब है कि हमें जानबूझकर परेशान किया जा रहा है।

 

धान खरीदी पर संकट क्या है

दरअसल छत्तीसगढ़ में एक दिसंबर से धान की सरकारी खरीदी शुरू हो रही है। इस बार सरकार ने 105 लाख मीट्रिक टन धान खरीदने की तैयारी की है। इसके लिए 5 लाख 25 हजार गठान जूट बारदानों की जरूरत है। जूट कमिश्नर ने 2 लाख 14 हजार गठान बारदानों की सहमति दी है, लेकिन अभी तक 38 हजार गठान ही छत्तीसगढ़ पहुंच पाई है। उधर केंद्र सरकार ने 61 लाख 65 हजार मीट्रिक टन चावल केन्द्रीय पूल में लेना मंजूर किया है। इसका असर यह होगा कि करीब 500 उसना राइस मिलें बंद हो जाएंगी। वहीं प्रदेश की राइस मिलें पूरी क्षमता से भी समय से 61 लाख मीट्रिक टन चावल की मीलिंग नहीं कर पाएंगी। ऐसे में राज्य सरकार पर वित्तीय बोझ बढ़ेगा।

 

 

READ MORE: पति Nick Jonas को Priyanka Chopra ने किया रोस्ट, एज गैप पर बोलीं एक्ट्रेस, दोनों के तलाक की थी अफवाह

 

 

सांसदों को भी पत्र लिखकर मांगी है मदद
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने धान खरीदी से जुड़े मुद्दों पर प्रदेश के कांग्रेस-भाजपा सांसदों को पत्र लिखा है। मुख्यमंत्री ने सत्र के दौरान छत्तीसगढ़ के किसानों और उसना राइस मिल के मजदूरों का मुद्दा उठाने का आग्रह किया है। उन्होंने उम्मीद जताई है कि प्रदेश के सांसद पौने तीन करोड़ लोगों की आशा और आकांक्षाओं को पूरा करने का भरसक प्रयास करेंगे।

 

 


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

संपर्क करें

Contact Our Chief Editor Mahendra Kumar Sahu

H14, dhehar city, gayatri nagar, raipur chhattisgarh, 492007