ताज़ा ख़बर
सरकार का दावा मौतों के नहीं है कोई रिकॉर्ड : केन्द्र के रवैये पर भड़की कांग्रेस, किसान नेता बोले-हम देते हैं डाटानिकाय चुनाव : 15 सीटों पर प्रत्याशी चयन को लेकर कांग्रेस की अंतिम सूची पर आज शाम तक लगेगी मुहरआम लोगों की फिर टूटी उम्मीद, 100 रूपए महंगा हुआ गैस सिलेंडर, जाने कहां, कितने बढ़े दाम…RAIPUR BREAKING : अंधे कत्ल की गुत्थी पुलिस ने सुलझाई, रिश्तेदार ने अपने ही 2 साथियों के साथ मिलकर दिया था घटना को अंजाम, पूछताछ में ज़मीन विवाद का हुआ खुलासा!!!!कोरोना के नए वैरिएंट ने लोगों में बढ़ाई दहशत, बीते 3 दिनों में विदेश से लौटे राजधानी के 78 यात्री, यात्रियों को रहना होगा 7 दिन क्वॉरेंटाइन मेंछत्तीसगढ़ में आज से होगी धान खरीदी, साढ़े 22 लाख किसानों से समर्थन मूल्य पर खरीदी करेगी सरकार, बारदाना इस साल भी बना मुसीबतBREAKING नगरीय निकाय चुनाव : कांग्रेस ने 5 नगर पंचायत और 2 नगर पालिकाओं के कांग्रेस प्रत्याशियों की जारी की सूची, देखे पूरी सूचीOmicron Alert: दूसरे देशों से प्रदेश में आने वालों की होगी Genome Sequencing, आखिर क्या होती है ये सिक्वेंसिंग और देश में कहा कहा है इसकी सुविधा जूनियर डॉक्टर ने राज्यपाल से मुलाकात कर 2 सूत्रीय मांगो को लेकर सौंपा ज्ञापन, जूनियर डॉक्टरों ने कहा..प्रिंसिपल ने ऐसे क्या किया जिसके कारण कांग्रेसियों को तबादला करने की बात कहनी पढ़ी.. पढ़िए पूरी खबर….

नक्सलियों ने जनअदालत के बाद अपहृत सब इंजीनियर अशोक लकड़ा को किया रिहा, एक सप्ताह तक रहे नक्सलियों के चंगुल में

Mahendra Kumar SahuNovember 17, 20211min

 

 

बीजापुर/रायपुर। करीब एक सप्ताह तक नक्सलियों के चंगुल में रहने के बाद आखिरकार नक्सलियों ने अपहृत सब इंजीनियर अजय रोशन लकड़ा को रिहा कर दिया है। ज्ञात हो कि श्री लकड़ा की पत्नी अपने मासूम बच्चे को लेकर बीजापुर में लगातार नक्सलियों से अपील कर रही थी कि उनके पति को रिहा कर दिया जाए।

 

प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना में पदस्थ सब इंजीनियर अजय रोशन लकड़ा आखिरकार मौत के मुंह से वापस लौट आया है। नक्सलियों ने जनअदालत लगाकर पहले सब इंजीनियर के खिलाफ आरोप सुनाए और इसके बाद उपस्थितजनों से राय-शुमारी के बाद उसे रिहा करने का ऐलान किया। ज्ञात हो कि नक्सलियों के चंगुल में फंसे सब इंजीनियर को रिहा कराने के लिए उनकी पत्नी अर्पिता लकड़ा अपने मासूम बच्चे को लेकर जंगल में घुस गई थी और विभिन्न माध्यमों से नक्सलियों से लगातार अपील कर रही थी कि उनके निर्दोष पति को रिहा कर दिया जाए।

 

 

सब इंजीनियर को छोड़ने के लिए जब मुहिम तेज हुई तो नक्सलियों का भी मन बदल गया। बताया जाता है कि आज मीडिया व जनअदालत लगाकर अपहृत सब इंजीनियर अजय रोशन लकड़ा को रिहा कर दिया है, इस मौके पर उनकी पत्नी अर्पिता भी मौजूद थी।

 

समाचार लिखे जाने तक श्री लकड़ा बीजापुर नहीं पहंुच पाए थे, वहीं उनके परिजन बीजापुर में उनका बेसब्री से इंतजार कर रहे है। ज्ञात हो कि अजय लकड़ा व एक भृत्य को नक्सलियों ने गोरना मनकेलि मार्ग से अपहरण कर लिया था। इसके बाद जब यह खबर फैली तो सनसनी फैल गई थी।

 

 

अपहरण की खबर जब इंजीनियर की पत्नी को लगी तो वह भी बेहाल हो गई और अपने छोटे से बच्चे को लेकर वह अपने पति की रिहाई के लिए हर संभव प्रयास में जुट गई थी।

 

READ MORE: राज्य में फिर हल्की से मध्यम वर्षा के आसार, जानें मौसम विभाग का पूर्वानुमान

 

बताया जाता है कि अपहृत सब इंजीनियर को ढूंढने के लिए श्रीमती लकड़ा जंगल में भी चली गई थी और लगातार अपने पति की रिहाई के लिए प्रयास करती रही। आखिरकार उसकी मेहनत रंग लाई और नक्सलियों ने आज अजय लकड़ा को रिहा कर दिया।

 


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

संपर्क करें

Contact Our Chief Editor Mahendra Kumar Sahu

H14, dhehar city, gayatri nagar, raipur chhattisgarh, 492007