ताज़ा ख़बर
सरकार का दावा मौतों के नहीं है कोई रिकॉर्ड : केन्द्र के रवैये पर भड़की कांग्रेस, किसान नेता बोले-हम देते हैं डाटानिकाय चुनाव : 15 सीटों पर प्रत्याशी चयन को लेकर कांग्रेस की अंतिम सूची पर आज शाम तक लगेगी मुहरआम लोगों की फिर टूटी उम्मीद, 100 रूपए महंगा हुआ गैस सिलेंडर, जाने कहां, कितने बढ़े दाम…RAIPUR BREAKING : अंधे कत्ल की गुत्थी पुलिस ने सुलझाई, रिश्तेदार ने अपने ही 2 साथियों के साथ मिलकर दिया था घटना को अंजाम, पूछताछ में ज़मीन विवाद का हुआ खुलासा!!!!कोरोना के नए वैरिएंट ने लोगों में बढ़ाई दहशत, बीते 3 दिनों में विदेश से लौटे राजधानी के 78 यात्री, यात्रियों को रहना होगा 7 दिन क्वॉरेंटाइन मेंछत्तीसगढ़ में आज से होगी धान खरीदी, साढ़े 22 लाख किसानों से समर्थन मूल्य पर खरीदी करेगी सरकार, बारदाना इस साल भी बना मुसीबतBREAKING नगरीय निकाय चुनाव : कांग्रेस ने 5 नगर पंचायत और 2 नगर पालिकाओं के कांग्रेस प्रत्याशियों की जारी की सूची, देखे पूरी सूचीOmicron Alert: दूसरे देशों से प्रदेश में आने वालों की होगी Genome Sequencing, आखिर क्या होती है ये सिक्वेंसिंग और देश में कहा कहा है इसकी सुविधा जूनियर डॉक्टर ने राज्यपाल से मुलाकात कर 2 सूत्रीय मांगो को लेकर सौंपा ज्ञापन, जूनियर डॉक्टरों ने कहा..प्रिंसिपल ने ऐसे क्या किया जिसके कारण कांग्रेसियों को तबादला करने की बात कहनी पढ़ी.. पढ़िए पूरी खबर….

भगवान बिरसा मुंडा ने जनजातीय समाज के उत्थान के लिए किया विशेष कार्य : डॉ शांडिल्य

Mahendra Kumar SahuNovember 17, 20211min

 

 

हेमलाल साहू, धमतरी :  ग्राम सलोनी (छुही) में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद इकाई धमतरी के कार्यकर्ताओ द्वारा जनजाति छात्र कार्य धमतरी के बैनर तले क्रांतिकारी भगवान बिरसा मुंडा की जयंती को जनजाति गौरव दिवस के रूप में मनाया गया। कार्यक्रम में मुख्य वक्ता डॉ शांडिल्य ने बिरसा मुंडा की जीवनी व जनजाति समाज के उत्थान के लिए किए गए कार्यो के बारे में बताते हुए कहा कि जनजाति समाज जंगल, भूमि के साथ प्रकृति के संरक्षक हैं। जब तक उनके पास सभी अधिकार थे भारत उन्नति के साथ प्राकृतिक रूप से समृद्ध था, लेकिन अंग्रेजों ने जंगल और भूमि का अपनी आवश्यकता के लिए दोहन किया। ग्राम पंचायत सलोनी के सरपंच नरेश दीवान ने कहा कि आज का दिन हम जनजाति समाज के लिए गौरव का दिन है जो हमारे जनजाति समाज के गौरव भगवान बिरसा मुंडा की जयंती को पूरे देश मे जनजाति गौरव दिवस के रूप में मनाया जा रहा है।

 

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद महासमुन्द विभाग के संगठन मंत्री चंदराम साहू ने बताया कि स्वतंत्रता संग्राम के दौरान भारतभूमि पर ऐसे कई नायक पैदा हुए, जिन्होंने इतिहास में अपना नाम स्वर्णाक्षरों से लिखवाया। एक छोटी सी आवाज को नारा बनने में देर नहीं लगती, बस दम उस आवाज को उठाने वाले में होना चाहिए और इसकी जीती जागती मिसाल थे बिरसा मुंडा। बिरसा मुंडा ने बिहार और झारखंड के विकास और भारत के स्वतंत्रता आंदोलन में अहम रोल निभाया।

 

अपने कार्यों और आंदोलन की वजह से बिहार और झारखंड में लोग बिरसा मुंडा को भगवान की तरह पूजते हैं। बिरसा मुण्डा ने मुण्डा विद्रोह पारम्परिक भू-व्यवस्था के जमींदारी व्यवस्था में बदलने के कारण किया। बिरसा मुण्डा ने अपनी सुधारवादी प्रक्रिया के तहत सामाजिक जीवन में एक आदर्श प्रस्तुत किया। उन्होंने नैतिक आचरण की शुद्धता, आत्म-सुधार और एकेश्‍वरवाद का उपदेश दिया। उन्होंने ब्रिटिश सत्ता के अस्तित्व को अस्वीकारते हुए अपने अनुयायियों को सरकार को लगान न देने का आदेश दिया था। इस जयंती समारोह में सांस्कृतिक कार्यक्रम व भाषण प्रतियोगिता का भी आयोजन किया गया। जिसमे स्कूली छात्र-छात्राओं ने बढ़-चढ़कर भाग लिया। इसमें सभी प्रतिभागियों को पुरस्कृत किया इस दौरान समस्त ग्रामवासी, समाजप्रमुखों व स्कूली छात्र-छात्राओ के साथ एबीवीपी धमतरी इकाई के नगरमंत्री सुभाष यादव, रुपाली सोनी (विभाग छात्रा प्रमुख), पूजा यादव(प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य), सिद्धि, नविका ध्रुव, मोहित,मैकल, वंदना, नरेंद्र, वैशाली, शिवानी ध्रुव की उपस्थिति रही। कार्यक्रम में मंच संचालन नगर जनजाति छात्र कार्य प्रमुख मुस्कुन्द ध्रुव ने किया।


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

संपर्क करें

Contact Our Chief Editor Mahendra Kumar Sahu

H14, dhehar city, gayatri nagar, raipur chhattisgarh, 492007