ताज़ा ख़बर
Utilizing Custom Paper to Make an Effective Siteसरकार का दावा मौतों के नहीं है कोई रिकॉर्ड : केन्द्र के रवैये पर भड़की कांग्रेस, किसान नेता बोले-हम देते हैं डाटानिकाय चुनाव : 15 सीटों पर प्रत्याशी चयन को लेकर कांग्रेस की अंतिम सूची पर आज शाम तक लगेगी मुहरआम लोगों की फिर टूटी उम्मीद, 100 रूपए महंगा हुआ गैस सिलेंडर, जाने कहां, कितने बढ़े दाम…RAIPUR BREAKING : अंधे कत्ल की गुत्थी पुलिस ने सुलझाई, रिश्तेदार ने अपने ही 2 साथियों के साथ मिलकर दिया था घटना को अंजाम, पूछताछ में ज़मीन विवाद का हुआ खुलासा!!!!कोरोना के नए वैरिएंट ने लोगों में बढ़ाई दहशत, बीते 3 दिनों में विदेश से लौटे राजधानी के 78 यात्री, यात्रियों को रहना होगा 7 दिन क्वॉरेंटाइन मेंछत्तीसगढ़ में आज से होगी धान खरीदी, साढ़े 22 लाख किसानों से समर्थन मूल्य पर खरीदी करेगी सरकार, बारदाना इस साल भी बना मुसीबतBREAKING नगरीय निकाय चुनाव : कांग्रेस ने 5 नगर पंचायत और 2 नगर पालिकाओं के कांग्रेस प्रत्याशियों की जारी की सूची, देखे पूरी सूचीOmicron Alert: दूसरे देशों से प्रदेश में आने वालों की होगी Genome Sequencing, आखिर क्या होती है ये सिक्वेंसिंग और देश में कहा कहा है इसकी सुविधा जूनियर डॉक्टर ने राज्यपाल से मुलाकात कर 2 सूत्रीय मांगो को लेकर सौंपा ज्ञापन, जूनियर डॉक्टरों ने कहा..

जवाहरलाल नेहरू राष्ट्रीय शिक्षा समागम: दो दिनी कार्यक्रम में कई राज्यों के शिक्षक और विशेषज्ञ करेंगे शिरकत, PC में जानें शिक्षा मंत्री टेकाम ने और क्या कहा…

Mahendra Kumar SahuNovember 13, 20211min

 

रायपुर, नितिन नामदेव : छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर के साइंस कॉलेज ऑडिटोरियम में बाल दिवस के खास मौके पर दो दिवसीय जवाहरलाल नेहरू राष्ट्रीय शिक्षा समागम कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। यह कार्यक्रम 14 और 15 नवम्बर को आयोजित होगा।

 

 

मंत्री प्रेम साय सिंह टेकाम ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि छत्तीसगढ़ शासन सभी के लिए उच्च गुणवत्ता वाली शिक्षा प्रदान करने के साथ ही राज्य के युवाओं की आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए प्रतिबद्ध है. इन आकांक्षाओं को पूरा करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम राज्य के सरकारी स्कूलों को मजबूत करना और स्कूल प्रणाली में लोगों के विश्वास को बहाल करना ताकि उच्च गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान की जा सके. जिसमें सभी पृष्ठभूमि के बच्चे उत्कृष्टता प्राप्त कर सके और आगे बढ़ सके इसी प्रतिबद्धता के साथ हम राज्य के शिक्षा परिस्थिति तंत्र में प्रणाली का सुधार करने के लिए निर्धारित किए हैं.

 

 

READ MORE: BREAKING: सेना के काफिले पर उग्रवादियों का IED हमला, पत्नी-बेटे के साथ सीओ शहीद, सात लोगों की मौत

 

 

उन्होंने कहा कि पिछले 3 वर्षों में छत्तीसगढ़ द्वारा शुरू की गई कई योजना को लोगों ने विशेष ध्यान आकर्षित किया और राष्ट्रीय मंच पर मान्यता प्राप्त किया है हमने शिक्षा के लिए एक समग्र दृष्टिकोण अपनाया है जैसे गतिविधियों की एक विस्तृत श्रृंखला के माध्यम से गुणवत्ता में सुधार पर ध्यान केंद्रित करना, समावेश सुनिश्चित करना, अंतर को कम करना, कौशल विकास और खेल को बढ़ावा देना और शारीरिक शिक्षा आदि हमारे सहयोगी शिक्षकों अभिभावकों और व्यापम समुदाय के द्वारा डाली गई है।

 

 

 

यह है कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य:-

कोविड – 19 के सबक पर विचार विमर्श और बेहतरीन शिक्षा प्रणाली के निर्माण के लिए आगे की राह।

शिक्षा के नए छत्तीसगढ़ मॉडल को साझा करना।

विभिन्न विषयगत क्षेत्रों का भाग लेने वाले राज्यों के बीच पैनल चर्चा और सर्वोत्तम प्रथाओं को साझा करना।

ज्ञान भागीदारों द्वारा विचार विमर्श करना।

भारत के विभिन्न हिस्सों के शिक्षकों द्वारा प्रमुख समाचारों की प्रदर्शनी करना है यह कार्यक्रम के मुख्य उद्देश्य रहे।

 

 

READ MORE: BREAKING : नफरत की हिंसा पर पुलिस का डंडा, आतंक के पथराव पर 20 गिरफ्तार

 

 

पहले दिन ही होंगे शामिल

डॉक्टर अभिजीत बैनर्जी नोबेल पुरस्कार विजेता, रुकमणी बनर्जी सीईओ प्रथम एजुकेशन फाउंडेशन, यामिनी अय्यर अध्यक्ष एवं मुख्य कार्यकारी सेंटर फॉर पॉलिसी रिसर्च, डॉ धीर झीगरन संस्थापक निदेशक लैंग्वेज एंड लर्निंग फाउंडेशन ये शामिल रहेंगे।

 

 

दूसरे दिन ये होंगे शामिल

बिराज पटनायक कार्यकारिणी निदेशक नेशनल फाउंडेशन फॉर इंडिया, प्रोफेसर ऋषिकेश बी एस प्रोफेसर शिक्षा कानून और नीति अजीम प्रेमजी विश्वविद्यालय, मेकिन महेश्वरी संस्थापक एवं संगठन एवं सह संस्थापक गेम इन ग्लोबल लॉयर्स फॉर इंटरप्रेयुशिप, नारायण रामस्वामी राष्ट्रीय प्रमुख शिक्षा और कौशल केपीएमजी ये कार्यक्रम में मुख्य रूप से शमिल रहेंगे।

 

 

READ MORE: RAIPUR BREAKING: स्कूल जा रही नाबालिक का अपहरण, किराए के मकान में ले जाकर बलात्कार का प्रयास, आरोपी गिरफ़्तार

 

समागन के प्रमुख बिंदु.

समागम में मुख्य रूप से इन बिंदुओं पर काम किया जाएगा जिसमें आगामी शालाओं की पुनर कल्पना, 21वी सदी के लिए व्यवसायिक शिक्षा एवं उद्यमी मानसिकता, ऑनलाइन सीखने का भविष्य, बेहतर पुनर्निर्माण शिक्षा में महामारी से सीख, सरकारी पैमाने पर सुधार, लीडर के रूप में शिक्षक, प्रारंभिक स्तर का सुदृढ़ीकरण, कक्षा में समावेश इस प्रमुख बिंदु पर कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा।

 

 

 

बता दे कि शैक्षणिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद NCRT के सभा कक्ष में आज बाल दिवस के अवसर पर आयोजित दो दिवसीय जवाहरलाल नेहरू राष्ट्रीय शिक्षा समागम का कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसके संबध में आज मंत्री प्रेमसाय सिंह टेकाम ने मीडिया के मुख्य उद्देश्यों और शासन को उच्च शिक्षा की गुणवत्ता की जानकारी दी है।

 

 


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

संपर्क करें

Contact Our Chief Editor Mahendra Kumar Sahu

H14, dhehar city, gayatri nagar, raipur chhattisgarh, 492007