ताज़ा ख़बर
अभिनेत्री जैकलीन फर्नांडीज की बढ़ी मुश्किलें, ईडी ने एयरपोर्ट पर विदेश जाने से रोका..आधी रात को जगाकर पत्नी करती थी पति से यह डिमांड, परेशान होकर पति ने किया चौकाने वाला काम..CORONA UPDATE : प्रदेश वासियों के लिए राहत की खबर, कोरोना संक्रमित मरीजों में आयी कमी, देखें कहां कितने मिले केस..लुक्स के मामलेें में बॉलीवुड की कई हसीनाओं को मात देती है ये Bhojpuri Actress, देखिए वायरल तस्वीरें..Nora Fatehi की इन फोटो ने सोशल मीडिया में लगाई आग, बोल्डनेस देख सबका हुआ बुरा हालविराट कोहली की वनडे कप्तानी को लेकर जल्द आ सकता अहम फैसला, हो सकता है बड़ा बदलाव..कार्तिक आर्यन ने करण जौहर और दोस्ताना 2 को लेकर कही ये बात, सुनकर उड़ गए ट्रोलर्स के उड़े होशBIG BREAKING : महाराष्ट्र के बाद इस राज्य में हुआ ओमिक्रॉन ब्लास्ट, एक ही परिवार के 9 सदस्य मिले संक्रमित, हाल में दक्षिण अफ्रीका से लौटा था परिवार..घरेलू कलह के चलते पत्नी ने पांच बेटियों के साथ कुएं में लगाई छलांग, उसके बाद जो हुआ सुनकर यकीन नही होगा..ये है पांच सबसे सस्ते फोन, जिनके फीचर्स और प्राइस सुनकर उड़ जाएंगे होश..

EXCLUSIVE: वर्तमान नेतृत्व के चलते 2023 के चुनाव में भाजपा फिर होगी धाराशाही..

Mahendra Kumar SahuNovember 13, 20211min

रायपुर । प्रदेश भाजपा में नेतृत्व की कमी एवं आक्रामकता के अभाव के कारण भारतीय जनता पार्टी को 2023 के विधानसभा चुनाव में एक बार फिर से धाराशाही होने की आशंका जताई जा रही है, सूत्रों ने बताया कि वर्तमान प्रदेश अध्यक्ष में लीडरशीप की कमी के साथ ही किसी विशेष समुदाय में खास पकड़ ना होने के बावजूद केंद्रीय नेतृत्व ने उन्हें छत्तीसगढ़ प्रदेश की कमान सौंपी हुई है, जिसका खामियाज़ा पार्टी को 2023 के विधानसभा चुनाव में भुगतना पड़ सकता है।

 

READ MORE : ऐसी दीवानगी देखी नही कभी : फिल्म ‘राधे श्याम’ पर नहीं मिला कोई अपडेट, तो फैन ने लिखा सुसाइड नोट, कहा – मेरी मौत के जिम्मेदार फिल्म के मेकर्स होंगे

 

भाजपा कार्यकर्ताओं का कहना है कि वर्तमान नेतृत्व के चलते प्रदेश में भाजपा की सत्ता नहीं आएगी, इस बात से केंद्रीय नेतृत्व को अवगत भी कराया गया है परंतु एक राष्ट्रीय पदाधिकारी की ज़िद के चलते इन्हें बरकार रखकर मेहरबान है इससे ऐसा प्रतीत होता है कि इस राष्ट्रीय पदाधिकारी द्वारा दोहरा फायदा देखा जा रहा है, यदि सत्ता आती है तो इन्हें धकेल कर सत्ता पर काबिज़ हो सके और यदि सत्ता नहीं आती तो हार का ठीकरा वर्तमान नेतृत्व पर फोड़ सके।

 

READ MORE : कलेक्टर ने राजस्व अधिकारियों की ली समीक्षा बैठक,अभियान चलाकर लंबित राजस्व प्रकरणों का निराकरण करने के दिए निर्देश..

 

भाजपा कार्यकर्ताओं में संगठन के बड़े पदाधिकारियों के खिलाफ भारी आक्रोश व्याप्त है, जिसके चलते सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने अब पार्टी से मुंह फेर लिया है। इस अंदरूनी अन-बन के चलते अब भाजपा बूथ स्तर तक में कमज़ोर होती नज़र आ रही है, कार्यकर्ताओं ने कहा कि आज तक प्रदेश अध्यक्ष मंडल की बैठक में ना तो शामिल हुए है और ना ही ज़मीनी कार्यकर्ताओं से रूबरू होकर समस्याओं को जाना है, इस कारण से अब बड़ी संख्या में भाजपा कार्यकर्ता पार्टी से दूरी बनाते नज़र आ रहे है।

 


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

संपर्क करें

Contact Our Chief Editor Mahendra Kumar Sahu

H14, dhehar city, gayatri nagar, raipur chhattisgarh, 492007