ताज़ा ख़बर
अभिनेत्री जैकलीन फर्नांडीज की बढ़ी मुश्किलें, ईडी ने एयरपोर्ट पर विदेश जाने से रोका..आधी रात को जगाकर पत्नी करती थी पति से यह डिमांड, परेशान होकर पति ने किया चौकाने वाला काम..CORONA UPDATE : प्रदेश वासियों के लिए राहत की खबर, कोरोना संक्रमित मरीजों में आयी कमी, देखें कहां कितने मिले केस..लुक्स के मामलेें में बॉलीवुड की कई हसीनाओं को मात देती है ये Bhojpuri Actress, देखिए वायरल तस्वीरें..Nora Fatehi की इन फोटो ने सोशल मीडिया में लगाई आग, बोल्डनेस देख सबका हुआ बुरा हालविराट कोहली की वनडे कप्तानी को लेकर जल्द आ सकता अहम फैसला, हो सकता है बड़ा बदलाव..कार्तिक आर्यन ने करण जौहर और दोस्ताना 2 को लेकर कही ये बात, सुनकर उड़ गए ट्रोलर्स के उड़े होशBIG BREAKING : महाराष्ट्र के बाद इस राज्य में हुआ ओमिक्रॉन ब्लास्ट, एक ही परिवार के 9 सदस्य मिले संक्रमित, हाल में दक्षिण अफ्रीका से लौटा था परिवार..घरेलू कलह के चलते पत्नी ने पांच बेटियों के साथ कुएं में लगाई छलांग, उसके बाद जो हुआ सुनकर यकीन नही होगा..ये है पांच सबसे सस्ते फोन, जिनके फीचर्स और प्राइस सुनकर उड़ जाएंगे होश..

आरक्षक महेश नेताम बने नशेड़ी बच्चों के लिए मिशाल : 700 से ज्यादा बच्चो को जिंदगी में आगे बढ़ने की दे रहे शिक्षा, बच्चे कर रहे PSC और UPSC की तैयारी, देखे VIDEO.

Mahendra Kumar SahuOctober 24, 20211min
रायपुर, नितिन नामदेव : नशे की गिरफ्त में लिपटे मासूम बच्चों को जिंदगी में एक अलग पहचान दिलाने के लिए राजधानी रायपुर के महेश नेताम ने एक अलग ही पहल की है आरक्षक महेश नेताम की एक छोटी-सी पहल से आज करीब 700 से ज्यादा गरीब, बेसहारा, घुमंतू और नशेड़ी बच्चों की जिंदगी संवर रही है शहर के टिकरापारा थाने में पदस्थ ये आरक्षक महेश नेताम इन बच्चों को न केवल नि शुल्क शिक्षा दिला रहे हैं बल्कि जिंदगी में कुछ कर दिखाने की राह भी दिखा रहे है।

 

 

 

 

READ MORE : KARWA CHAUTH SPECIAL : करवा चौथ को लेकर महिलाओं के बीच उत्साह का माहौल, VIDEO में देखें पतियों को लेकर महिलाओं ने क्या कहा…

 

 

 

आपको बता दे कि टिकरापारा थाने में पदस्थ आरक्षक महेश नेताम ने इसकी शुरुआत की थी वे बताते हैं कि ड्यूटी के दौरान ही उन्होंने एक बार कुछ घुमंतू बच्चों को नशा करते देखा तो बड़ा दुख हुआ सोचा, क्यूं न इनके लिए कुछ किया जाए उन बच्चों को बुलाया और पूछा कि पढ़ना चाहते हो, तो उन्होंने इन्कार कर दिया। लेकिन जब उनसे कहा कि पढ़-लिख लोगे तो पुलिस मारेगी नहीं। जेल नहीं जाना पड़ेगा, तो फौरन तैयार हो गए, इसके बाद अपने साथी जवानों सुनील पाठक, जितेंद्र नाग और धनंजय गोस्वामी से इस संबंध में चर्चा की। सभी तुरंत तैयार हो गए।

देखे वीडियो ;-

 

वही TCP 24 से बातचीत करते हुए बच्चो ने बताया कि महेश सर हमें यूपीएससी, पुलिस, फौजी की और शरीर को तंदुरुस्त रखने के लिए विभिन्न प्रकार की ट्रेनिंग देते है हमें इस प्रयास हॉस्टल में कंप्यूटर डांसिंग फिजिकल टेस्ट पढ़ाई और इंग्लिश कोचिंग की भी विशेष सुविधाएं दी जाती है वहीं उन्होंने बताया कि बीच-बीच में पुलिस के बड़े अधिकारी भी हमसे मिलने आया करते हैं।

प्रदेश के पुलिस विभाग के उच्चाधिकारियों के अलावा सामाजिक संगठन और अन्य समाजसेवी लोग जुड़े हुए हैं बच्चों की पढ़ाई के लिए किसी भी चीज की आवश्यकता होती है, तो वे पोस्ट डाल देते हैं। लोग स्वेच्छा से कापी-किताबें, खेल के सामान, साइकिल आदि उपलब्ध करा देते हैं वही छोटे-मोटे आयोजन के समय पुलिस के बड़े अधिकारी डीजीपी डी एम अवस्थी, आई जी आनद छाबड़ा और एसपी सहित बड़ी संख्या में पुलिस कर्मी बच्चों से मिलने आया करते है।

देखे वीडियो ;-


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

संपर्क करें

Contact Our Chief Editor Mahendra Kumar Sahu

H14, dhehar city, gayatri nagar, raipur chhattisgarh, 492007