ताज़ा ख़बर
CG BREAKING : करंट की चपेट में आने से एक किसान समेत दो बैलों की हुई दर्दनाक मौत, इलाके में मचा हड़कंप, जांच में जुटी पुलिस16 माह बाद मल्टिप्लेक्स में फिर लौटी रौनक, 50 फीसदी दर्शकों के साथ गुलजार हुआ सिनेमा हॉल, वैक्सीनेटेड लोगों के लिए खास ऑफर, देखें VIDEO…1 अगस्त से बदल जाएंगे नियम, जानिए LPG के दामों को लेकर क्या है अपडेट, बैंक की कई सेवाएं भी हो जाएगी महंगी, पढ़िए पूरी खबर….जब सोनू सूद मुंबई पहुंचे तो उनके पास केवल इतने रुपये थे, फिर उन्हें इस बात का लगने लगा था डर, लोकल ट्रेन के धक्के खाते हुए…. ,ऐसे बने रियल लाइफ हीरो…Tiger Shroff से सेट पर भिड़ गया शख्स, फिर एक्टर ने दिया करारा जवाब, जानिए फिर क्या हुआ…जो विधायिका अपने छेत्र में विकास नहीं कर सकती उनसे प्रदेश के विकास के लिए आशा रखना मतलब मन में लड्डू खाना – पंकज जैनरायपुर से गोवा की राह हुई आसानः तीन अगस्त से उड़ान भरेगी फ्लाइट, इन दो जगहों के लिए भी शुरू होगी विमान सेवा, जानिए पूरा शेड्यूलविधानसभा अध्यक्ष डॉ. महंत और मुख्यमंत्री बघेल ने ‘चंदैनी गोंदा-एक सांस्कृतिक यात्रा‘ पुस्तक का किया विमोचनCRIME : प्रेम विवाह से नाराज पिता ने बेटी को उतारा मौत के घाट, पहले जन्मदिन मनाने के बहाने अपने पास बुलाया, फिर हत्या कर नहर में फेंक दी लाशविधानसभा का मानसून सत्र: जब जय…वीरू, गब्बर…कालिया की जोड़ी पर सदन में गूंजे ठहाके, जानिए क्या है पूरा मामला

शिक्षा मंत्री से इस्तीफे की मांग, मंत्री के तीन रिश्तेदारों का PSC में सेलेक्शन, तीनों को परीक्षा में मिले एक समान नंबर, ट्विटर पर मचा बवाल

Sanjay sahuJuly 22, 20211min

 

 

वैभव कश्यप, रायपुर। राजस्थान प्रशासनिक सेवा परीक्षा में उत्तीर्ण होने वाले अभ्यर्थियों के अंक मंगलवार को आरपीएससी की ओर से जारी कर दिए गए। आरएएस परीक्षा के टॉप 20 अभ्यर्थियों में मुक्ता राव का नाम है, जिन्हें सबसे ज्यादा 526 अंक मिले हैं। इसके अलावा जयपुर की ही शिवाक्षी को 520 नंबर मिले हैं। हालांकि इस लिस्ट में टॉपर्स से ज्यादा चर्चा प्रदेश के शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा की पुत्रवधू के भाई गौरव और बहन प्रभा के नंबरों को लेकर है। दोनों ने आरएएस की परीक्षा उत्तीर्ण की है और दोनों को ही 80 फीसदी अंक हासिल हुए हैं।

 

 

दरअसल इन अंकों को डोटासरा की पुत्रवधू प्रतिभा से जोड़कर देखा जा रहा है। प्रतिभा को भी 2016 के इंटरव्यू में 80 फीसदी अंक ही हासिल हुए थे। अब इसे लेकर ही सवाल उठ रहे हैं। ये आर्टिेकल अब ट्वीटर में खुश ट्रेड कर रहा है। ट्वीटर में हजारों लोगों कई सवाल खड़े कर दिए है। हजारों लोगों ने मंत्री से इस्तीफा मांग रहे हैं। इस पर मंत्री डोटासरा ने कहा कि 300 से ज्यादा बच्चों को इंटरव्यू में 75 से 80 अंक मिले है।

 

 

 

अगर बच्चे प्रतिभावान है तो इसमें मैं क्या करूँ….. 2018 के साक्षात्कार के दौरान ही अच्छे अंक दिलाने की एवज में 25 लाख रुपए घूस मांगने का मामला एसीबी ने पकड़ा था। कनिष्ठ लेखाकार को गिरफ्तार भी किया गया था। आरपीएससी सदस्य राजकुमार गुर्जर के पति रिटायर्ड आईपीएस अधिकारी भैरोसिंह कि भी संदिग्ध भूमिका पाई गई थी। वैसे तो यह मामला सालों पुराना है, लेकिन मीडिया कवरेज के बाद से यह मुद्दा गरमाया हुआ हैं। और सोशल मीडीया पर जम कर ट्रेंड भी कर रहा हैं।

 

 

 

एक ट्विटर यूजर ने ट्विट कर लिखा कि….यही मुख्य कारण है कि हम पीछे जा रहे हैं। क्योंकि इस प्रकार के राजनेता अपनी शक्ति का उपयोग केवल परिवार के लाभ के लिए करते हैं, सभी लोगों के लिए नहीं। नौकरी, शक्ति और धन से भी सिर्फ परिवार की जरुरत पूरा करते हैं।

 

 

फिर जब बात ट्विटर कि हो और मुद्दा भारतीयों का हो, तो ट्विटस देखने के लायक होते हैं। ट्विटर यूजर धड़ल्ले से मीम्स बना कर डाल रहे हैं और जमकर ट्रोल कर रहे हैं। अभी तक 80 हजार से भी अधीक लोगों ने ट्विट कर अपनी प्रतिक्रियाएं दी हैं। और लगातार तेजी से ट्विट्स की संख्या बढ़ते जा रही हैं।

 

 

 

READ MORE: बड़ी खबर: ट्रैफिक पुलिस अधिकारी के घर छापा, सोने का टॉयलेट इस्तेमाल करता था ये अफसर, जांचकर्ताओं की फटी रह गईं आंखें

 

 

पुत्रवधू प्रतिभा की आरएएस 2016 के परिणाम में नौंवी रैंक आई थी। उस समय तो बेटे का रिश्ता भी नहीं हुआ था। आरएएस ट्रेनिंग के दौरान रिश्ता हआ। पुत्र के साक्षात्कार में 85 अंक आए जो संभव है। 80 अंक तो कई होनहारों के आए हैं। प्रतिभा की बड़ी बहन का नम्बर इस बार आया है। वह पहले से तैयारी कर रही थी। वह अपने दौर की टॉपर है। बीडीएस कर कई साल से आरएएस तैयारी में जुटी थी। प्रतिभा भी एमबीबीस कर आरएएस बनी है। भाई गौरव जिसके भी 80 नंबर है। वह दिल्ली यूनिवर्सिटी का टॉपर है। कई नौकरी कर चुका है।

 

 

 

XCheck Digital Badge

 


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

संपर्क करें







lower banner