ताज़ा ख़बर
CG BREAKING : करंट की चपेट में आने से एक किसान समेत दो बैलों की हुई दर्दनाक मौत, इलाके में मचा हड़कंप, जांच में जुटी पुलिस16 माह बाद मल्टिप्लेक्स में फिर लौटी रौनक, 50 फीसदी दर्शकों के साथ गुलजार हुआ सिनेमा हॉल, वैक्सीनेटेड लोगों के लिए खास ऑफर, देखें VIDEO…1 अगस्त से बदल जाएंगे नियम, जानिए LPG के दामों को लेकर क्या है अपडेट, बैंक की कई सेवाएं भी हो जाएगी महंगी, पढ़िए पूरी खबर….जब सोनू सूद मुंबई पहुंचे तो उनके पास केवल इतने रुपये थे, फिर उन्हें इस बात का लगने लगा था डर, लोकल ट्रेन के धक्के खाते हुए…. ,ऐसे बने रियल लाइफ हीरो…Tiger Shroff से सेट पर भिड़ गया शख्स, फिर एक्टर ने दिया करारा जवाब, जानिए फिर क्या हुआ…जो विधायिका अपने छेत्र में विकास नहीं कर सकती उनसे प्रदेश के विकास के लिए आशा रखना मतलब मन में लड्डू खाना – पंकज जैनरायपुर से गोवा की राह हुई आसानः तीन अगस्त से उड़ान भरेगी फ्लाइट, इन दो जगहों के लिए भी शुरू होगी विमान सेवा, जानिए पूरा शेड्यूलविधानसभा अध्यक्ष डॉ. महंत और मुख्यमंत्री बघेल ने ‘चंदैनी गोंदा-एक सांस्कृतिक यात्रा‘ पुस्तक का किया विमोचनCRIME : प्रेम विवाह से नाराज पिता ने बेटी को उतारा मौत के घाट, पहले जन्मदिन मनाने के बहाने अपने पास बुलाया, फिर हत्या कर नहर में फेंक दी लाशविधानसभा का मानसून सत्र: जब जय…वीरू, गब्बर…कालिया की जोड़ी पर सदन में गूंजे ठहाके, जानिए क्या है पूरा मामला

कोरोना काल के बीच नई आफत! अब यहां मिला दुर्लभ ‘मंकीपोक्स’ का केस, मचा हड़कंप

Mahendra Kumar SahuJuly 17, 20211min


 

अमेरिका: कोरोना संकट काल के बीच अमेरिका के टेक्सास में एक व्यक्ति दुर्लभ ‘मंकीपॉक्स’ नामक बीमारी से ​ग्रसित हैं। इसकी जानकारी सीडीसी ने शुक्रवार को दी है। बताया जा रहा ​है कि अमेरिका में इस ​बीमारी का पहला मामला है।

 

 

मिली जानकारी के अनुसार ये बीमारी एक अमेरिकी निवासी में पाई गई है। जिसने हाल ही में नाइजीरिया से अमेरिका की यात्रा की। डलास काउंटी जज क्ले जेनकिन्स ने कहा, इस मामले के दुर्लभ होते हुए भी ये केस खतरे का अलार्म नहीं है। नाइजीरिया के अलावा, इस बीमारी का प्रकोप मध्य और पश्चिमी अफ्रीकी देशों में 1970 में दिखाई दिया था।

 

इसके आगे सीडीसी ने जानकारी देते हुए कहा है कि, अमेरिका में मंकीपॉक्स का कहर 2003 में देखने को मिला था। मंकीपॉक्स वायरसों के स्मॉलपोक्स परिवार से ताल्लुक रखता है मंकीपॉक्स एक दुर्लभ लेकिन संभावित रूप से गंभीर वायरल बीमारी है, जो आमतौर पर फ्लू जैसे लक्षणों और लिम्फ नोड्स की सूजन से शुरू होती है।

 

इसके बाद धीरे-धीरे चेहरे और शरीर पर बड़ी संख्या में दाने दिखाई देने लगते हैं, ये सांस लेने के दौरान निकलने वाली ड्रॉपलेट्स के जरिए एक इंसान से दूसरे इंसान में फैल सकता है। इसके आगे CDC ने कहा कि कोविड-19 के कारण यात्रियों ने मास्क पहना हुआ था, जिसके कारण विमान और एयरपोर्ट पर सांस की बूंदों के जरिए दूसरों को मंकीपॉक्स फैलने का खतरा कम रहा।


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

संपर्क करें







lower banner