ताज़ा ख़बर
CG BREAKING : करंट की चपेट में आने से एक किसान समेत दो बैलों की हुई दर्दनाक मौत, इलाके में मचा हड़कंप, जांच में जुटी पुलिस16 माह बाद मल्टिप्लेक्स में फिर लौटी रौनक, 50 फीसदी दर्शकों के साथ गुलजार हुआ सिनेमा हॉल, वैक्सीनेटेड लोगों के लिए खास ऑफर, देखें VIDEO…1 अगस्त से बदल जाएंगे नियम, जानिए LPG के दामों को लेकर क्या है अपडेट, बैंक की कई सेवाएं भी हो जाएगी महंगी, पढ़िए पूरी खबर….जब सोनू सूद मुंबई पहुंचे तो उनके पास केवल इतने रुपये थे, फिर उन्हें इस बात का लगने लगा था डर, लोकल ट्रेन के धक्के खाते हुए…. ,ऐसे बने रियल लाइफ हीरो…Tiger Shroff से सेट पर भिड़ गया शख्स, फिर एक्टर ने दिया करारा जवाब, जानिए फिर क्या हुआ…जो विधायिका अपने छेत्र में विकास नहीं कर सकती उनसे प्रदेश के विकास के लिए आशा रखना मतलब मन में लड्डू खाना – पंकज जैनरायपुर से गोवा की राह हुई आसानः तीन अगस्त से उड़ान भरेगी फ्लाइट, इन दो जगहों के लिए भी शुरू होगी विमान सेवा, जानिए पूरा शेड्यूलविधानसभा अध्यक्ष डॉ. महंत और मुख्यमंत्री बघेल ने ‘चंदैनी गोंदा-एक सांस्कृतिक यात्रा‘ पुस्तक का किया विमोचनCRIME : प्रेम विवाह से नाराज पिता ने बेटी को उतारा मौत के घाट, पहले जन्मदिन मनाने के बहाने अपने पास बुलाया, फिर हत्या कर नहर में फेंक दी लाशविधानसभा का मानसून सत्र: जब जय…वीरू, गब्बर…कालिया की जोड़ी पर सदन में गूंजे ठहाके, जानिए क्या है पूरा मामला

world health organization ने जताई चिंता, तीसरी लहर ने दी दस्तक, जानें भारत में दूसरी के मुकाबले कितनी हो सकती है घातक

Mahendra Kumar SahuJuly 16, 20211min


 

नई दिल्ली। कोरोना महामारी की दूसरी लहर ने देशभर में भारी तबाही मचाई है। अब तीसरी लहर की बातें उठनी भी शुरू हो गई है। इन सबके बीच असल बात तो यह है कि इन सबके बाद भी सरकारों और आमजन में अभी भी महामारी को लेकर गंभीरता दिखाई नहीं दे रही है। राजनीतिक दलों द्वारा सार्वजनिक सभाएं व धार्मिक आयोजनों में भारी भीड़ इकट्ठा होनी शुरू हो गई है। यह लापरवाही ही हमें तीसरी लहर से रू-ब-रू कराने के लिए पर्याप्ता है। अब वर्ल्ड हेल्थ आॅगेर्नाइजेशन ने चिंता जाहिर की है कि तीसरी लहर लोगों के लिए ज्यादा खतरनाक हो सकती है। वहीं देश में वैक्सीनेशन की गति भी धीमि पड़ती दिख रही है।

 

वर्ल्ड हेल्थ आग्रेनाइजेशन के चीफ डॉ. टेड्रोस गेब्रेयेसस ने देशों को चेतावनी दी है कि वे कोरोना की तीसरी लहर के शुरूआती फेज में आ चुके हैं। उन्होंने दोहराया कि सिर्फ वैक्सीन से महामारी नहीं रोकी जा सकेगी। देशों को इससे निपटने के लिए लगातार सावधानी रखनी होगी। भारत में भी इसका खतरा करीब दिखाई दे रहा है। सरकार भी तीसरी लहर को लेकर पहले से ज्यादा सतर्क है। वहीं दिल्ली हाईकोर्ट ने भी केंद्र और दिल्ली सरकार को नोटिस जारी करते हुए कहा है कि हम तीसरी लहर से ज्यादा दूर नहीं हैं। ऐसे में तैयारियां शुरू कर देने चाहिए। आइए जानते हैं ने कोरोना की तीसरी लहर को लेकर क्या कहा है?

 

दुनिया में सबसे ज्यादा नए केस ब्राजील में मिल रहे हैं। बीते 24 घंटों में इनकी संख्या 57 हजार से ज्यादा रही। पिछले हफ्ते यहां 3.49 लाख केस मिले। हालांकि यहां नए मामलों में 14% की गिरावट आई है। इसी दौरान इंडोनेशिया में 45%, ब्रिटेन में 28%, अमेरिका में 67%, स्पेन में 61% तक मामले बढ़े हैं।

 

विशेषज्ञों ने दूसरी लहर के भयावहता को लेकर कहा कि टीकों, आॅक्सीजन, दवाओं, अस्पतालों में बिस्तरों की कमी ने इसे अधिक विनाशकारी बना दिया। तीसरी लहर को वर्तमान की तुलना में बेहतर तरीके से नियंत्रित किया जाएगा। एम्स के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने कहा कि तीसरी लहर को हम अधिक नियंत्रित कर पाएंगे, क्योंकि इसमें मामले ज्यादा नहीं आएंगे। टीकाकरण अभियान की वजह से हम इसे रोक पाने में ज्यादा कामयाब होंगे। बता दें कि अभी तक देश में 26 करोड़ से अधिक लोगों को टीके लगाए जा चुके हैं।

 


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

संपर्क करें







lower banner