ताज़ा ख़बर
CG BREAKING : करंट की चपेट में आने से एक किसान समेत दो बैलों की हुई दर्दनाक मौत, इलाके में मचा हड़कंप, जांच में जुटी पुलिस16 माह बाद मल्टिप्लेक्स में फिर लौटी रौनक, 50 फीसदी दर्शकों के साथ गुलजार हुआ सिनेमा हॉल, वैक्सीनेटेड लोगों के लिए खास ऑफर, देखें VIDEO…1 अगस्त से बदल जाएंगे नियम, जानिए LPG के दामों को लेकर क्या है अपडेट, बैंक की कई सेवाएं भी हो जाएगी महंगी, पढ़िए पूरी खबर….जब सोनू सूद मुंबई पहुंचे तो उनके पास केवल इतने रुपये थे, फिर उन्हें इस बात का लगने लगा था डर, लोकल ट्रेन के धक्के खाते हुए…. ,ऐसे बने रियल लाइफ हीरो…Tiger Shroff से सेट पर भिड़ गया शख्स, फिर एक्टर ने दिया करारा जवाब, जानिए फिर क्या हुआ…जो विधायिका अपने छेत्र में विकास नहीं कर सकती उनसे प्रदेश के विकास के लिए आशा रखना मतलब मन में लड्डू खाना – पंकज जैनरायपुर से गोवा की राह हुई आसानः तीन अगस्त से उड़ान भरेगी फ्लाइट, इन दो जगहों के लिए भी शुरू होगी विमान सेवा, जानिए पूरा शेड्यूलविधानसभा अध्यक्ष डॉ. महंत और मुख्यमंत्री बघेल ने ‘चंदैनी गोंदा-एक सांस्कृतिक यात्रा‘ पुस्तक का किया विमोचनCRIME : प्रेम विवाह से नाराज पिता ने बेटी को उतारा मौत के घाट, पहले जन्मदिन मनाने के बहाने अपने पास बुलाया, फिर हत्या कर नहर में फेंक दी लाशविधानसभा का मानसून सत्र: जब जय…वीरू, गब्बर…कालिया की जोड़ी पर सदन में गूंजे ठहाके, जानिए क्या है पूरा मामला

अध्ययन में बड़ा खुलासा: इस ब्लड ग्रुप वाले लोगों को ज्यादा काटते हैं मच्छर, शराब पीने वाले को लेकर ये भी किया बड़ा दावा…

Sanjay sahuJuly 14, 20211min

 

 

नई दिल्ली। अक्सर लोगों की शिकायत रहती है कि उन्हें मच्छर ज्यादा काटते हैं, पर क्या वास्तव में मच्छरों के काटने का कोई पैमाना हो सकता है? क्या यह संभव है कि मच्छर कुछ लोगों को ज्यादा काटें और कुछ लोगों को कम? बिल्कुल, कई अध्ययन इस बात का समर्थन करते हैं, अध्ययनकर्ताओं का कहना है कि हमारी त्वचा की कुछ चीजें मच्छरों को काटने के लिए अधिक आकर्षित कर सकती हैं।

 

 

मानसून का मौसम अपने साथ कई तरह की बीमारियां लेकर आता है। डेंगू, चिकनगुनिया, मलेरिया और मौजूदा समय में देश के कई हिस्सों में तेजी से बढ़ रहे जीका वायरस के मामले भी इन्हीं मच्छरों जनित होते हैं। फ्लोरिडा विश्वविद्यालय के चिकित्सा कीटविज्ञानी और मच्छर विशेषज्ञ डॉ जोनाथन डे ने कुछ लोगों को मच्छरों के ज्यादा काटने का कारण बताया।

 

 

त्वचा के रसायनों से आकर्षित होते हैं मच्छर

 

 

डॉ जोनाथन कहते हैं, हमारी त्वचा से प्राकृतिक रूप से कई प्रकार के रसायनों का उत्पादन होता रहता है। उनमें से विशेष रूप से जिन लोगों की त्वचा से लैक्टिक एसिड का उत्पादन अधिक होता है, माना जाता है कि ऐसे लोगों को मच्छर ज्यादा काटते हैं। लैक्टिक एसिड से मच्छर ज्यादा आकर्षित होते हैं। इसके अलावा कई और चीजें हैं जिनसे मच्छर ज्यादा आकर्षित होते हैं, उनमें से एक है आपका खास ब्लड ग्रुप।

 

 

 

 

ब्लड ग्रुप और मच्छरों के काटने का संबंध

 

 

अध्ययन में ब्लड ग्रुप और मच्छरों के काटने के संबंध मे बारे में भी विस्तार से बताया गया है। अध्ययनकर्ताओं का कहना है कि कई प्रमाण ऐसे मिले हैं कि अन्य ब्लड ग्रुप वाले लोगों की तुलना में ‘ओ ब्लड ग्रुप’ वाले लोगों के प्रति मच्छर अधिक आकर्षित होते हैं। एंटोमोलॉजिस्ट डॉ जोनाथन कहते हैं, मच्छर, कार्बन डाइआॅक्साइड का उपयोग करके काटने वाले लक्ष्य की पहचान करते हैं। अब चूंकि सभी कशेरुकी कार्बन डाइआॅक्साइड का उत्पादन करते हैं, ऐसे में मच्छरों के लिए इससे उचित और क्या हो सकता है?

 

 

 

गर्भवती महिलाओं को भी ज्यादा काटते हैं मच्छर

 

 

इसके अतिरिक्त गर्भवती महिलाओं और अधिक वजन वाले लोगों में मेटाबॉलिक रेट भी अधिक होता है, जो उन्हें मच्छरों के लिए अधिक आकर्षक बना सकती है। इसके अलावा गहरे रंग के कपड़े पहनना भी एक कारक हो सकता है, यह मादा मच्छरों को आकर्षित करते हैं। इस अध्ययन और बताए गए कारकों के बारे में तमाम स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है, मच्छरों के काटने से सुरक्षित रहने के लिए सभी को यह भी जानना चाहिए कि दूसरे लोगों की तुलना में उनके शरीर में ऐसा क्या है जो मच्छरों को आकर्षित करता हो?

 

READ MORE: खौफनाक वारदात : पति-पत्नी ने 75 साल की महिला का हत्या कर शव के कई टुकड़े किए, शव के टुकड़ों को अलग-अलग 3 बैग में डाला, जानिए फिर…

 

 

ये कारक भी हो सकते हैं महत्वपूर्ण

 

अध्ययन में डॉ जोनाथन ने इंसान के शरीर से संबंधित कुछ और कारकों के बारे में बताया है जिनसे मच्छर ज्यादा आकर्षित होते हैं। डॉ जोनाथन बताते हैं, जिनके शरीर का तापमान अधिक होता है उन्हें भी मच्छर अधिक काटते हैं। इसके अलावा, शराब विशेष रूप से बीयर पीने वाले लोगों के पसीने से निकलन वाले रसायनों को मच्छर अधिक पसंद करते हैं। यदि आपको स्वाभाविक रूप से भी पसीना अधिक होता है तो भी मच्छरों के लिए आप पसंदीदा हो सकते हैं।

 


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

संपर्क करें







lower banner