ताज़ा ख़बर
पिता के घर से विदा होकर ससुराल पहुंचते ही दुल्हन को दूल्हा ने मार दिया तमाचा, जानिए ​क्या है वजहचिंता न करें, पुराने सोने पर भी मिलेंगे अच्छे दाम, ज्वेलरी दुकान जाकर बस करना होगा ये कामBIG BREAKING : बदले गए कई जिलों के आबकारी अधिकारी, सहायक आयुक्त और उपायुक्त सहित 17 अधिकारियों का ट्रांसफर, देखे सूचीबड़ी खबर : पंडो जनजाति पर फूटा दबंगों का गुस्सा, लगाया मछली चोरी का आरोप, जनचौपाल लगाकर बेरहमी से की पिटाई, 35 हजार जुर्माने का जारी किया फरमानजब पीछे से बजा म्यूजिक तो जाग उठा पंजाबी, बीच मैदान में भांगड़ा करते दिखें कप्तान विराट कोहली, सोशल मीडिया में वायरल हुआ वीडियोRAIPUR: महंगाई को लेकर विरोध: बैलगाड़ी में सवार होकर निगम मुख्यालय निकले महापौर ढेबर, तेल के दामो में लगातार बढ़ोत्तरी को लेकर किया प्रदर्शन, मोदी सरकार को लेकर कही ये बड़ी बातCG CRIME: युवक और युवती ने एक ही फंदे में फांसी लगाकर की खुदकुशी, दोनों एक दिन पहले घर से निकले थे, जांच में जुटी पुलिसअब 60 रुपये में भरवा सकेंगे पेट्रोल! मोदी सरकार करने जा रही है ये बड़ा ऐलान, कंट्रोल होगा महंगाईInternational yoga Day : रायपुर में ट्रांसजेंडर के समुदाय ने मनाया Health अंतरराष्ट्रीय विश्व योग दिवस, कहा दवा हमारे शरीर के अंदर है..इस खिलाड़ी ने खेली तूफानी पारी, 52 चौकों और 5 छक्‍कों से जड़ दिया तिहरा शतक

नेपाल में पतंजलि की कोरोनिल दवा बैन! सरकार ने जारी किया स्पष्टीकरण, बताई ये वजह

Deepak SahuJune 9, 20211min


 

नई दिल्लीः योग गुरू रामदेव के स्वामित्व वाली कंपनी पतंजलि में बनी कोरोना के कथित दवा कोरोनिल को नेपाल सरकार ने बैन कर दिया है. नेपाल सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय ने स्पष्ट किया है कि नियमों के मुताबिक जब तक इस दवा का रजिस्ट्रेशन नही हो जाता तब तक इसमें रोक रहेंगी. स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि आम जनता को वितरित की जाने वाली किसी भी प्रकार की दवा को पहले स्वास्थ्य और जनसंख्या मंत्रालय के अंतर्गत औषधि प्रशासन विभाग में पंजीकृत होना आवश्यक है।

 

READ MORE : CORONA BREAKING : प्रदेश में मरीजों और मौतों के आंकड़ों में आई भारी कमी, आज मिले 954  नए मरीज, 14 लोगों ने तोड़ा दम

 

पतंजलि योगपीठ नेपाल ने भारत से करीब 100 कार्टन कोरोनिल किट मंगवाकर नेपाल को मदद पहुंचाने के लिए सरकार को उपहार स्वरूप यह कोरोनिल किट दिया था. 31 मई को एक समारोह के बीच पतंजलि योगपीठ नेपाल के मुख्य ट्रस्टी शालिग्राम सिंह ने नेपाल के तत्कालीन स्वास्थ्य मंत्री हृदयेश त्रिपाठी को 1500 कोरोनिल किट उपहार स्वरूप प्रदान किया था.

 

READ MORE : बालोदः पैसा छीनकर भागने वाला आरोपी चढ़ा पुलिस के हत्थे, बालोद से हुआ गिरफ्तार

 

स्वास्थ्य मंत्रालय के तरफ से इस किट को आयुर्वेद विभाग को सौंपते हुए नेपाल में चल रहे आयुर्वेदिक आइसोलेसन सेंटर में चिकित्सकों की सलाह से इसे प्रयोग करने को कहा था. आयुर्वेद विभाग के महानिर्देशक डॉ. वासुदेव उपाध्याय ने बताया कि स्वास्थ्य मंत्रालय से प्राप्त कोरोनिल किट के प्रयोग पर कुछ समय के लिए रोक लगा दी गई है. डॉ. उपाध्याय ने बताया कि कोरोनिल किट अभी तक नेपाल के औषधि व्यवस्था विभाग में संबंधित प्रक्रिया पूरी नहीं हुई है. जैसे ही यह प्रक्रिया पूरी हो जाएगी उसके बाद इसके प्रयोग की अनुमति दे दी जाएगी.

 

 


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

संपर्क करें