ताज़ा ख़बर
CG NEWS : नदी में बहकर आया महिला का शव, इलाके में फैली सनसनी, पुलिस ने जताई हत्या की आशंकाBIG BREAKING : छत्तीसगढ़ के इस जिले में भी बैंड व धूमाल बजाने की मिली अनुमति, कलेक्टर ने जारी किया आदेशEXCLUSIVE : कभी जार्ज पंचम फिर महात्मा गांधी और अब राजीव गांधी के नाम से जाना जाता है राजधानी का यह चौक, जाने इसके पीछे की पूरी कहानीBIG BREAKING: अब रविवार को इतने समय तक खुल सकेगा व्यापार, कलेक्टर ने ज़ारी किए आदेशEXCLUSIVE : अंतरराज्यीय बस स्टैंड बना नशेड़ियों का ठिकाना, खाली पड़े बस स्टैंड में युवा कर रहे नशा, अश्लील कामों को दे रहे अंजाम, पुलिस अधिकारियों भी नहीं ले रहे एक्शन… देखे VIDEOबढ़ती महंगाई को लेकर महिला कांग्रेस का मोदी सरकार पर हमला, सांसद ने कसा तंज कहा- पहला शाह तो दूसरा शहंशाह….CG BIG BREAKING : कोविड सेंटर से भागे पांच आरोपी गिरफ्तार, सभी के सभी संक्रमित, टीआई की कर दी धुनाई, वाहनों में तोड़फोड़RAIPUR: अनलॉक में बड़ी राहत दे सकता है जिला प्रशासन, दोपहर बाद जारी हो सकती है नई गाइडलाइन, रविवार को भी खुल सकती है दुकानेंBIG BREAKING : दर्दनाक सड़क हादसा: कार और ट्रक की जबरदस्त टक्कर, एक ही परिवार के 10 लोगों की मौतRAIPUR : बारवीं की आंसरशीट मूल्यांकन के लिए शिक्षकों को नहीं आना होगा केंद्र, घर में ही करेंगे कॉपी चेक, माशिमं ने की व्यवस्था.

राहतभरी खबर : 12 वर्ष से अधिक के बच्चों के लिए वैक्सीनेशन को मिली मंजूरी, यूरोपीय मेडिसिन एजेंसी ने दी हरी झंडी, टीका अत्यधिक प्रभावशाली

Sanjay sahuMay 29, 20211min

 

ब्रुसेल्स। 12+उम्र के बच्चों (Children ages 12+)के लिए राहत भरी खबर आ रही है। लंबे इंतेजार के बाद बच्चों के लिए आखिरकार वैक्सीनेशन की अनुमति (Vaccination Permission)मिल गई है। पीफाइजर-बायोएनटेक (Pfizer-bioentech)कोरोना वैक्सीन (Corona vaccine)के उपयोग को यूरोपीय मेडिसिन एजेंसी ने (European Medicines Agency)हरी झंडी दे दी है। पीफाइजर बायोएनटेक के टीके को 27 सदस्य देशों के यूरोपीय संघ (European Union)में यह निर्णय लिया गया है। दिसंबर में 16 साल या इससे अधिक उम्र के लोगों को वैक्सीनेशन (Vaccination)के लिए लाइसेंस प्रदान किया गया था।

 

 

एक प्रेस कॉफ्रेंस में ईएमए के वैक्सीन रणनीति प्रबंधक, Marco Cavaleri र ने बच्चों और किशोरों के लिए टीके के इस्तेमाल को मंजूरी दे दी है। प्राप्त डाटा से पता चलता है कि यह कोविड-19 के खिलाफ अत्यधिक प्रभावशाली है।

 

उन्होंने कहा कि इस फैसले को यूरोपीय आयोग की मंजूरी मिलने की आवश्यकता है और अलग-अलग देशों के नियामकों को तय करना होगा कि 16 साल से कम उम्र के बच्चों को टीका लगाया जाएगा या नहीं। कनाडा और अमेरिका में नियामकों ने पहले ही किशोरों के लिए इसके उपयोग की सिफारिश की थी।

 

 

इएमए ने बताया कि अमेरिका में 2,200 से अधिक किशोरों में एक अध्ययन के आधार पर दिखाया गया की टीका सुरक्षित और प्रभावी है। परीक्षण से पता चला है कि इस समूह में प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया 16-25 आयु वर्ग में तुलनीय थी। अध्ययन से पता चलता है कि टीका कोविड को रोकने में प्रभावी था।

 

READ MORE: गूगल और यूट्यूब में 1 जून से होने जा रहे ये बड़े बदलाव : आपकी जेब पर दिख सकता है सीधा असर, जानें क्या है नई स्कीम…

 

 

इएमए ने अपने बयान में कहा, टीका काफी सुरक्षित पाया गया और 12-15 आयुवर्ग में भी टीके के दुष्प्रभाव वैसे ही थे, जैसे 16 साल या इससे ज्यादा उम्र के वयस्कों में देखे गए थे और कोई चिंता की बात नहीं है। टीका लगवाने के बाद इस आयुवर्ग के लोगों को भी दर्द, थकान, सिरदर्द, मांसपेशियों और जोड़ों में दर्द, ठंड लगना और बुखार महसूस हो सकता है।

 

 

READ MORE:BREAKING: IPL 2021, यूएई में खेले जाएंगे सीजन 14 के बाकी बचे मुकाबले, इस महीने होगा टूर्नामेंट, BCCI ने किया ऐलान

 

 


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

CALL US ANYTIME



Latest posts


Categories