ताज़ा ख़बर
Nora Fatehi की इन फोटो ने सोशल मीडिया में लगाई आग, बोल्डनेस देख सबका हुआ बुरा हालविराट कोहली की वनडे कप्तानी को लेकर जल्द आ सकता अहम फैसला, हो सकता है बड़ा बदलाव..कार्तिक आर्यन ने करण जौहर और दोस्ताना 2 को लेकर कही ये बात, सुनकर उड़ गए ट्रोलर्स के उड़े होशBIG BREAKING : महाराष्ट्र के बाद इस राज्य में हुआ ओमिक्रॉन ब्लास्ट, एक ही परिवार के 9 सदस्य मिले संक्रमित, हाल में दक्षिण अफ्रीका से लौटा था परिवार..घरेलू कलह के चलते पत्नी ने पांच बेटियों के साथ कुएं में लगाई छलांग, उसके बाद जो हुआ सुनकर यकीन नही होगा..ये है पांच सबसे सस्ते फोन, जिनके फीचर्स और प्राइस सुनकर उड़ जाएंगे होश..BIG BREAKING: राज्य में हुआ ओमिक्रॉन ब्लास्ट, एक साथ मिले 7 नए मरीज, देश में 12 हुई मरीजों की संख्या, प्रशासन ने जारी किया हाई अलर्ट ..बिग बैश लीग : ग्लेन मैक्सवेल की कप्तानी वाली मेलबर्न स्टार्स की टीम को मिली शर्मनाक हार, 11.1 ओवर में ढेर हुई पूरी टीम..महंगाई के बीच Reliance Jio दे रहा अपने ग्राहको को बड़ी राहत, इन ऑफर के जरिए उठा सकते है लाभ..मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पशुपालकों, महिला समूहों और गौठान समितियों को दी करोड़ों की सौगात, जारी की इतनी बड़ी रकम..

VIDEO : घर का भेदी लंका ढाय : हेड कांस्टेबल ने लगाया DSP पर रिश्वत लेकर आरोपियों को छोड़ने का आरोप, वीडियो में चीख-चीख कर कह रहे मैडम पैसे चाहिए तो मैं दे देता…

Mahendra Kumar SahuMay 27, 20211min

अंबिकापुर : पुलिस विभाग में भी रिश्वत का खेल चल रहा है। कई भ्रष्ट अफसर अपनी इमान को बेच रहे हैं। हालांकि कई ईमानदार अफसर और अधिकारी भी है। लेकिन अफसरों के सामने ज्यादा ईमानदारी का खामियाजा भी भुगतना पड़ता है। ऐसा ही मामला अंबिकापुर से सामने आया है। कुन्नी चौकी में पदस्थ प्रधान आरक्षक मनीष तिवारी का एक वीडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है। जिसमें वे डीएसपी चंचला तिवारी पर रिश्वतखेरी का आरोप लगा रहे हैं। वे यह आरोप लगाते देखे जा रहे हैं कि डीएसपी को अगर पैसे चाहिए तो वे आरोपियों से ज्यादा पैसे दे सकते हैं, डीएसपी मैडम ऐसा ना करें।

 

 

मसला बीते 20-21 मई की दरमियानी रात से शुरू हुआ, जब चौकी की कड़ी सुरक्षा के बीच चौकी के भीतर रखी कार और मोटरसाइकिल में किसी ने आग लगा दी। कार प्रधान आरक्षक मनीष तिवारी की थी, जबकि मोटरसाइकिल सिपाही की। जिस वक्त यह आगजनी हुई, प्रधान आरक्षक समेत स्टाफ चौकी में मौजूद थे। बताते हैं, थाने में खड़ी कार और मोटरसाइकिल जलने पर जिन ग्रमाीणों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर उन्हें थाना लाया गया था। डीएसपी चंचला तिवारी ने थाने से आरोपियों को छोड़ दिया। इसके बाद प्रधान आरक्षक मनीष तिवारी का वीडियो वायरल हुआ।

Watched Video: –


पुलिस कप्तान ने कही ये बात

प्रधान आरक्षक के आरोपों पर पुलिस अधीक्षक टीआर कोशिमा ने कहा कि पुलिस चौकी में जली गाड़ियों के लिए स्टाफ की भी जिम्मेदारी है। जिन लोगों पर आरोप लगाकर शिकायत की गई उनमें दो लोग घटना के समय गांव में थे ही नहीं। एसपी ने कहा, प्रधान आरक्षक को कोई तकलीफ थी तो मेरे पास आते, आईजी के पास जाते।SP टीआर कोशिमा का कहना है कि आरोपियों के खिलाफ कोई साक्ष्य नहीं मिले हैं। कानून भी कहता है कि चार दोषी भले छूट जाएं, एक निर्दोष को सजा नहीं होनी चाहिए। हेड कांस्टेबल ने जो आरोप लगाए हैं वह गंभीर हैं। मामले की जांच एडिशनल SP सुनील शर्मा को सौंप दी गई है। वहीं पुलिस कांस्टेबल को जांच होने तक लाइन अटैच कर दिया है।

 

 

जांच के बाद सच्चाई आएगी सामने

 

बहरहाल, इस पूरे मामले में दो जांच चल रही है। एक जांच आगजनी की घटना पर हो रही है, जिसमें सीएसपी अंबिकापुर सुरेंद्र पैंकरा के नेतृत्व में पांच लोग की टीम बनायी गई है। जिसमें टीआई और दो सब इंस्पेक्टर शामिल हैं। वहीं मनीष तिवारी ने जो आरोप डीएसपी पर लगाए हैं उसकी जांच एडिशनल एसपी कर रहे हैं।


About us

हम निर्भीक हैं, निष्पक्ष हैं व सच की लड़ाई लड़ने के लिए आपके साथ हैं…


CONTACT US

संपर्क करें

Contact Our Chief Editor Mahendra Kumar Sahu

H14, dhehar city, gayatri nagar, raipur chhattisgarh, 492007